पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

6 फीसदी कोविड वैक्सीन खराब:जिंदगी की 3556 डोज बर्बाद, पहले चरण में सिर्फ 59281 को लगा टीका

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहले चरण में सिर्फ 59281 को लगा टीका

पंजाब में कोरोना वैक्सीनेशन की तमाम तैयारियों व चुस्त-दुरुस्त व्यवस्था के दावों के बावजूद अब तक वैक्सीन की 6 फीसदी खुराक खराब हो चुकी है। 16 जनवरी से शुरू हुए कोरोना टीकाकरण मुहिम के पहले चरण में (31 जनवरी तक) पंजाब मेंं 1,97,481 लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया था, लेकिन तकनीकी दिक्कतों व रजिस्टर्ड लोगों के कम संख्या में सेंटर पर पहुंचने के चलते टीकाकरण महज 30 प्रतिशत (59281) का ही हो पाया। टीकाकरण को लेकर स्वास्थ्य कर्मचारियों में डर और भ्रांतियों की वजह से करीब 6 फीसदी (3556) खुराक पहले चरण में बर्बाद हो गई यानी हर दिन करीब 237 खुराक खराब हुई।

वैक्सीनेशन सेंटर्स पर तय समय में संख्या से कम लोगों के पहुंचने की वजह से वायल में बची शेष खुराक चंद घंटों बाद किसी के लायक नहीं बची। सूबे में लुधियाना एक मात्र ऐसा सेंटर रहा जहां एक भी डोज खराब नहीं हुई है। बता दें कि पंजाब में 1 फरवरी से टीकाकरण का दूसरा चरण भी शुरू हो चुका है। स्वास्थ्य अधिकारियों को यकीन है कि दूसरा चरण, पहले चरण के मुकाबले बेहतर रहेगा। उल्लेखनीय है कि चार फरवरी तक सूबे में कुल 67861 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है।

लोगों की लापरवाही से बर्बाद हो रही है वैक्सीन -प्रशासन ने खूब तैयारी की लोगों को जागरूक किया, सेंटर बढ़वाए ताकि जल्द से जल्द वैक्सीनेशन पूरा हो सके और लाभार्थियों को दिक्कत ना हो फिर भी वैक्सीन खराब हो रही हैं। वैक्सीन को जिले के साथ देशभर के विशेषज्ञों ने सुरक्षित बताया बावजूद लोगों में इसके प्रति डर कायम है।

5 एमएल की वायल, 10 लोगों की डोज -एक वायल में 5 एमएल वैक्सीन होती है। एक लाभार्थी को पहली डोज आधा यानी 0.5 एमएल की लगती है। मतलब एक वायल खुलने पर दस लोगों को टीका लगता है। एक वायल के खुलने पर चार घंटे के भीतर उसे खत्म करना होता है। स्थिति यहां तक पहुंची कि केंद्र को राज्यों को टीका की डोज बर्बाद नहीं करने के लिए दिशानिर्देश तक जारी करने पड़े हैं जिसके बाद टीका लेने वालों की संख्या के अनुसार ही वायल का इस्तेमाल हो रहा है।

केंद्र सरकार एक डोज पर 206 रुपए खर्च कर रही -केंद्र सरकार कोविशील्ड टीका की एक डोज पर 200 और कोवैक्सिन की प्रति डोज के लिए 206 रुपए खर्च कर रही है। इनमें टीका पर लगने वाला कर शुल्क शामिल नहीं है। देश की बात करें तो 31 जनवरी तक 92.61 लाख लोगों का टीकाकरण हुआ, इसमें से करीब 15 प्रतिशत डोज खराब हो चुकी है।

1900 पुलिस मुलाजिमों ने लगवाई कोरोना वैक्सीन -अब तक सूबे में 65345 हेल्थ केयर वर्करों और 2516 फ्रंटलाइन वर्करों का टीकाकरण पूरा हुआ है। सीएस विनी महाजन ने बताया मोहाली में तय टारगेट को पूरा करने के लिए वैक्सीन लगाने की संख्या और सेंटरों को बढ़ाया जाएगा। अब तक 3859 पुलिस कर्मचारी टीका लगवा चुके हैं। दूसरे चरण के चौथे दिन एडीजीपी, 3 आईजी और 4 एसएसपी समेत 1900 पुलिस कर्मियों ने टीका लगवाया। एक ही दिन में 372 पुलिस कर्मचारियों को टीका लगवाने वाला लुधियाना पुलिस कमिश्नरेट आगे रहा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें