पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • 70% Of Theft Cases Unresolved, Photos Of Accused, Details Could Not Be Caught By Police

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सेफ सिटी के दावे फेल:चोरी के 70% केस अनसुलझे, आरोपियों के फोटो, ब्योरे होने पर भी नहीं पकड़ सकी पुलिस

लुधियाना5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • चोरी के 95 फीसदी मामलों मेंं नहीं हुई नौकरों की वेरीफिकेशन

पुलिस विभाग की ओर से लुधियाना शहर के सेफ सिटी होने के दावे दिए जाते हैं। लेकिन यहां लगातार हो रहीं चोरी की वारदातों से शहरवासियों के सेफ होने का अंदाजा लगाया जा सकता है। हालाकि पुलिस ज्यादातर चोरी की वारदातों को ट्रेस ही नहीं कर सकी है। अक्टूबर से लेकर जनवरी तक चार महीने में 174 चोरी की वारदातें हुईं। लेकिन इनमें 70 प्रतिशत मामले पुलिस हल ही नहीं कर सकी। इन वारदातों के बारे में संबंधित अफसरों से पूछने पर किसी ने कहा कि पता नहीं आरोपी कहा गए, मिल नहीं पा रहे, तो किसी ने रटा रटाया जांच चल रही है जवाब देकर फोन काट दिया।

जबकि ट्रेस हुए मामलों में भी पीड़ितों द्वारा चोर मौके पर पकड़ने तो कही उनका सुराग खुद लगाने के चलते मामले ट्रेस हो पाए। कई मामलों में तो आरोपियों की फुटेज, फोटो व अन्य डिटेल होने के बावजूद चोरों को पुलिस ढूंढ नहीं सकी। शहर में हुई बड़ी वारदातों में भी यही हालात है। वहीं, चोरी के 95 फीसदी मामलों मेंं नौकरों की वेरीफिकेशन नहीं कराई गई।

नौकर वारदातें कर भाग जाते हैं गांव

जानकारी के अनुसार शहर में हुई चोरी की बड़ी वारदातें ज्यादातर नौकरों द्वारा की गई हैं। नौकरों द्वारा वारदात करने के बाद वह आसानी से शहर छोड़कर फरार हो जाते हैं। जब तक पुलिस को नौकर का पता चलता है, तब तक वे अपने गांव पहुंच जाते हैं और पुलिस उन्हें शहर में ढूंढती रहती है।

वेरीफिकेशन न कराने पर भी लोगों पर कोई कार्रवाई नहीं
पुलिस कमिश्नर की ओर से हर दो महीने बाद नौकरों की वेरीफिकेशन कराने के आदेश दिए जाते है। लेकिन बड़ी चोरियों में किसी में भी नौकरों की वेरीफिकेशन नहीं करवाई थी। लेकिन हैरानी की बात तो यह है कि वेरीफिकेशन न कराने के बावजूद पुलिस घर व कोठी मालिक पर कोई कार्रवाई नहीं करती। बल्कि उल्ट कह दिया जाता है कि कोई न आगे से कार्रवाई करेगें।

प्लानिंग के साथ घरों में नौकर कर रहे वारदातें
घरों में ज्यादातर चोरियां नौकरों द्वारा प्लानिंग के साथ की गई। इसमें पहले एक पुराना नौकर घर की देखरेख करता है और फिर गांव जाने की बात कहता है। जिसके बाद वह नए नौकर को नौकरी पर लगाकर चले जाते हैं। जिसके बाद वहीं नए नौकर वारदात कर फरार हो जाते है।

पता होने के बाद भी नेपाल जाने से कतराती है लुधियाना पुलिस
शहर में हुई बड़ी वारदातों में 80 प्रतिशत नेपाल के रहने वाले नौकरों द्वारा की गई है। जबकि वह सभी वारदातों के बाद अपने गांव भाग गए। पुलिस को जानकारी होने के बावजूद वह उन्हें नहीं पकड़ सके। हालाकि आरोपियों के एड्रेस के बावजूद पुलिस नेपाल जाने से कतराती है। जबकि इसकी जानकारी होने के बावजूद पुलिस ठोस कदम नहीं उठा सकी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का अधिकतर समय परिवार के साथ आराम तथा मनोरंजन में व्यतीत होगा और काफी समस्याएं हल होने से घर का माहौल पॉजिटिव रहेगा। व्यक्तिगत तथा व्यवसायिक संबंधी कुछ महत्वपूर्ण योजनाएं भी बनेगी। आर्थिक द...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser