पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • 9th Round Meeting Also Inconclusive, New Date On January 15, Hearing In Supreme Court On January 11

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुनवाई:9वें दौर की बैठक भी बेनतीजा अब नई तारीख 15 जनवरी,11 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट में भी सुनवाई

चंडीगढ़11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

44 दिन से दिल्ली बॉर्डर्स पर केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ धरना दे रहे किसानों की सरकार के साथ शुक्रवार को 9वें दौर की बातचीत भी बेनतीजा रही, क्योंकि केंद्रीय कृषि मंत्री ने एक बार फिर कहा कि सुनवाई को वापस नहीं लेंगे, हां इनमें संशोधन कर सकते हैं। वहीं, उन्होंने यह भी प्रस्ताव रखा कि अब जबकि मामला सुप्रीम कोर्ट में जा चुका है तो क्यों न पूरा मामला कोर्ट पर ही छोड़ दिया जाए।

इस पर किसानों ने तल्ख लहजे में सरकार से कहा कि आप हल निकालना ही नहीं चाहते हैं। अगर आपका मन नहीं है तो वक्त मत बर्बाद कीजिए, लिखकर बता दीजिए, हम चले जाएंगे। इस बैठक में किसान तख्ती लगाकर बैठे थे। इस पर लिखा था- मरेंगे या जीतेंगे। एक बार फिर अगली बैठक 15 जनवरी तय की गई।

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा- हम 26 जनवरी को राजपथ पर परेड करेंगे। एक लाख ट्रैक्टर शामिल होंगे।’ सीमाओं पर किसानों की संख्या दोगुनी होगी। वहीं, 11 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट में भी सुनवाई होनी है। उसी दिन किसान संगठनों की भी बैठक होगी।

किसान बोले- 1 लाख ट्रैक्टर दिल्ली में प्रवेश करेंगे

तोमर गृहमंत्री अमित शाह के साथ बैठक कर 2:30 बजे विज्ञान भवन पहुंचे पीयूष गोयल भी साथ थे।
तोमर: कानून रद्द नहीं कर सकते। चर्चा कर लें। जो पॉइंट निकलेंगे, संशोधन कर लेंगे।
बलबीर राजेवाल (गुस्से में): यही कहने को मीटिंग बुलाई थी? हमें कानून रद्द करने पर चर्चा करनी है।
तोमर: देखिए! हमें काफी संगठनों का समर्थन। सभी का ध्यान रखना है।
किसान नेता दर्शनपाल: किसानों की ठंड से जान जा रही, समाधान जरूरी।
तोमर: हम समाधान को ही जुटे हैं। बातचीत के लिए एक छोटी कमेटी बना लें। इससे आसानी होगी। ऐसा करते हैं कि कानून लागू करने का अधिकार राज्यों को दे देते हैं।
किसान: अगर किसी राज्य को कानून बनाने ही हैं तो वे खुद भी बना सकते हैं।
तोमर: ऐसा नहीं हो सकता।
(किसान नेता गुस्सा हो गए और उन्होंने फाइल के पीछे लिख दिया- ‘या मरेंगे या जीतेंगे। फिर मौन धारण कर लिया।)
तोमर: आप मान नहीं रहे हैं तो 11 जनवरी को इसी से जुड़े मामलों की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई है। आप वहां बात रख सकते हैं। कोर्ट जो कहेगा, सब मान लेंगे।
डॉ. दर्शनपाल: कोर्ट ने आपसे जवाब मांगा है। हम कोर्ट नहीं गए थे।
तोमर: आइए पहले लंच कर लेते हैं और फिर आगे बात करेंगे।
किसान: हम लंच नहीं समाधान करने आए हैं।
{इसके बाद तोमर और गोयल चले गए। किसान मौन धारण करके बैठे रहे। 5:15 बजे मंत्री आए और बोले 15 जनवरी को फिर बैठक करेंगे। इस पर और विचार करेंगे। बैठक खत्म।

अगली बैठक 15 को, लेकिन किसानों का फोकस 26 जनवरी पर

11 जनवरी: किसानों का संयुक्त मोर्चा आगे की रणनीति बनाएगा। इसी दिन 26 जनवरी की तैयारियों का एलान होगा। 13 जनवरी: लोहड़ी को देशभर में ‘किसान संकल्प दिवस’ के रूप में मनाएंगे। तीनों कानूनों की प्रतियां जलाई जाएंगी। 18 जनवरी: ‘महिला किसान दिवस’ मनाएंगे। हर गांव से 10-10 महिलाओं को दिल्ली बॉर्डर पर लाने का लक्ष्य है। 23 जनवरी: सुभाषचंद्र बोस की याद में ‘आजाद हिंद किसान दिवस’ मनाकर राज्यों में राज्यपाल के निवास का घेराव करेंगे। 26 जनवरी: राजपथ पर ट्रैक्टर परेड निकालेंगे। दावा है कि इसमें एक लाख ट्रैक्टर होंगे। महिलाएं इसकी अगुवाई करेंगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ऊर्जा तथा आत्मविश्वास से भरपूर दिन व्यतीत होगा। आप किसी मुश्किल काम को अपने परिश्रम द्वारा हल करने में सक्षम रहेंगे। अगर गाड़ी वगैरह खरीदने का विचार है, तो इस कार्य के लिए प्रबल योग बने हुए...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser