पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

100 रुपए में बने करोड़पति:रातों-रात करोड़ों के मालिक बने मजदूर और ठेकेदार; बेटियों को पढ़ाने पर खर्च करेंगे, परिवार को अच्छी जिंदगी देंगे

पठानकोट/राजपुरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लॉटरी का टिकट दिखाते पठानकोट के बोधराज। - Dainik Bhaskar
लॉटरी का टिकट दिखाते पठानकोट के बोधराज।
  • लुधियाना में जजों की मौजूदगी में निकाला गया था साप्ताहिक लॉटरी का ड्रा

मात्र 100 रुपए खर्च करके एक मजदूर और ठेकेदार की किस्मत रातों-रात ऐसी बदली कि वे करोड़पति बन गए। पंजाब स्टेट की साप्ताहिक लॉटरी का ड्रा निकाला गया था। इसमें पठानकोट के गांव अखरोटा के मजदूर बोधराज और राजपुरा के ठेकेदार टिंकू कुमार ने एक-एक करोड़ का इनाम जीता।

ड्रॉ बुधवार को निकाला गया था, लेकिन दोनों को इनाम जीतने का पता शुक्रवार को चला, जब लॉटरी विभाग के अधिकारियों का फोन आया। इनाम जीतने की बात सुनकर दोनों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। दोनों के परिवार में जश्न का माहौल है। फिलहाल दस्तावेज जमा कराए जा रहे हैं।

14 अप्रैल को खरीदा था बोधराज ने टिकट

बोधराज ने उस शख्स का भी मुंह मीठा कराया, जिससे उसने लॉटरी का टिकट खरीदा था। बोधराज ने 14 अप्रैल को लाइटों वाला चौक से 100 रुपए में अशोक बावा पंजाब स्टेट की साप्ताहिक लॉटरी खरीदी थी। लुधियाना में जजों की निगरानी में ड्रॉ निकाला गया, जिसमें बोधराज की लॉटरी निकली।

बोधराज कहते हैं कि अब तक वे मजदूरी करके अपने परिवार का पालन कर रहे थे। लेकिन अब वे कोई अच्छा-सा काम करके परिवार को अच्छी जिंदगी देने के लिए प्रतिबद्ध हैं। लॉटरी से जीती राशि से वह दोनों बेटियों को अच्छी शिक्षा दिलाएंगे, ताकि वे पढ़-लिखकर आत्मनिर्भर बनें।

ठेकेदार भी बच्चों को पढ़ाने पर खर्च करेगा राशि

राजपुरा में ठेकेदार के तौर पर काम करने वाले टिंकू कुमार ने भी इनामी राशि लेने के लिए स्टेट लॉटरीज विभाग के पास टिकट और जरूरी दस्तावेज जमा करवा दिए हैं। टिंकू पिछले 15-16 साल से पंजाब स्टेट की लॉटरी खरीद रहे थे और आखिरकार किस्मत उन पर मेहरबान हो ही गई।

टिंकू कुमार के दो बच्चे एक लड़का और एक लड़की हैं। दोनों स्कूल जाते हैं और अब वह अव्वल दर्जे की शिक्षा दिलाएंगे, ताकि पढ़-लिखकर वे अफसर बनें। उनका जीवन संवर जाए। इसके अलावा टिंकू अपने ठेकेदारी के कारोबार को बढ़ाने के बारे में सोचेंगे।

खबरें और भी हैं...