• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Accused Of Wrongdoing By Step daughter Dies In Suspicious Circumstances, Fear Of Suicide In Ludhiana

जिंदगी मिट गई, पर कलंक नहीं:सौतेली बेटी से गलत काम करने के आरोपी की संदिग्ध हालात में मौत, आत्महत्या की आशंका

खन्ना/समराला6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लुधियाना जिले के गांव चहलों में बेड पर पड़ा संदिग्ध हालात में गोली लगने से मरने वाले सौतेली बेटी से दुष्कर्म के आरोपी का शव। - Dainik Bhaskar
लुधियाना जिले के गांव चहलों में बेड पर पड़ा संदिग्ध हालात में गोली लगने से मरने वाले सौतेली बेटी से दुष्कर्म के आरोपी का शव।

लुधियाना में गुरुवार को सौतेली बेटी के साथ गलत काम करने की घटना के एक आरोपी की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। परिजनों का कहना है कि वह देसी पिस्तौल साफ कर रहा था, जिस दौरान अचानक गोली चल गई। सूचना के बाद पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजवाने के साथ मामले की जांच-पड़ताल शुरू कर दी है। हालांकि सूत्रों की मानें तो इस आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता कि उसने आत्मग्लानि के मारे आत्महत्या की है। बहरहाल पड़ताल का क्रम जारी है।

मामले जिले के समराला इलाके में पड़ते गांव चहलों का है। मिली जानकारी के अनुसार गांव के जतिंदर सिंह नामक युवक पर अपनी सौतेली बेटी के साथ दुष्कर्म का आरोप है। गुरुवार को 28 वर्षीय इस आरोपी की संदिग्ध हालात में गोली चलने से मौत हो गई। पारिवारिक सदस्यों के अनुसार घटना सुबह करीब 4 बजे उस वक्त घटी है, जब वह अपनी देसी पिस्तौल को साफ कर रहा था।

दुष्कर्म मामले में जमानत पर आए युवक की मौत की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस परिजनों से बात करती हुई।
दुष्कर्म मामले में जमानत पर आए युवक की मौत की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस परिजनों से बात करती हुई।

सूचना के बाद मौके पर पहुंचे थाना समराला के प्रभारी इंस्पेक्टर कुलवंत सिंह ने बताया कि युवक अपनी बेटी से दुष्कर्म के मामले में लुधियाना जेल में बंद था। पिछले महीने ही जमानत पर जेल से बाहर आया था। इसके बाद वह आरोप लगाने वाली पत्नी और बेटी के साथ ही रह रहा था। पुलिस ने मृतक की लाश और पिस्तौल कब्जे में लेते हुए आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि पुलिस हर पहलू पर जांच कर रही है।

वहीं पता चलने के करीब 4 घंटे बाद 8 बजे गांव के सरपंच को इस बारे में सूचना दी गई। हालांकि गांव के किसी और व्यक्ति को घटना की जानकारी नहीं दी गई। ऐसे में हैरानी की बात है यह है कि परिवार ने घटना की जानकारी इतनी देर बाद क्यों दी। साथ ही इस बात की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता कि उसने आत्महत्या की या उसकी हत्या भी की गई होगी।