पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Army Jawan Sukhbir Singh From Punjab Martyred In Pakistan Army Ceasefire Violation At LoC

सीमा पर भारत मां की सेवा:पाकिस्तान के सीज फायर उल्लंघन में पंजाब का जांबाज बलिदान; मां से कोटी बुनने को कहा था- पर नहीं पहन सका

तरनतारन7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जम्मू-कश्मीर के राजौरी में शहीद हुआ खडूर साहिब हलके के गांव ख्वासपुरा का सैनिक सुखबीर सिंह। फाइल फोटाे - Dainik Bhaskar
जम्मू-कश्मीर के राजौरी में शहीद हुआ खडूर साहिब हलके के गांव ख्वासपुरा का सैनिक सुखबीर सिंह। फाइल फोटाे
  • दो साल पहले सेना में भर्ती हुए सुखबीर सिंह चार बहनों और भाइयों में से सबसे छोटे थे

पंजाब के एक और जांबाज ने सीमा पर देश की रक्षा करते हुए अपना बलिदान दे दिया है। खडूर साहिब हलके के गांव ख्वासपुरा का सैनिक सुखबीर सिंह जम्मू-कश्मीर के राजौरी में पाक सैनिकों द्वारा की गई फायरिंग में शहीद हो गए। इसकी जानकारी मिलते ही गांव में मातम छा गया और घर में लोगों का तांता लगा हुआ है। उधर उसने अपनी मां जसबीर कौर से अपने लिए गर्म कोटी बुनने और अगली छुट्‌टी आने पर पहनने की बात कही थी।

शहीद की फोटो के साथ पिता कुलवंत सिंह और शोक जताने पहुंचे ग्रामीण।
शहीद की फोटो के साथ पिता कुलवंत सिंह और शोक जताने पहुंचे ग्रामीण।

दो साल पहले सेना में भर्ती हुए सुखबीर सिंह चार बहनों और भाइयों में से सबसे छोटे थे। सुखबीर सिंह के शहीद होने की जानकारी मिलते ही पिता कुलवंत सिंह ने भारत की जय, जो बोले से निहाल सात श्री अकाल के घोष किए। वह बेटे की तस्वीर गले से लगाकर रोने लगे। मां जसबीर कौर को जब बेटे के शहीद होने बाबत जानकारी दी तो वह सुध-बुध खो बैठीं। गांव हवासपुर के एक दर्जन से अधिक नौजवान सेना में तैनात बताए जाते हैं।

गुरुवार शाम को जम्मू-कश्मीर के राजौरी सेक्टर में तैनात सेना के जवानों पर पाक की ओर से गोलीबारी की गई थी। इसके जवाब में भारतीय जवानों ने भी पाक सेना पर गोलियां बरसाईं। इस दौरान सुखबीर सिंह की शहादत हो गई। इसकी जानकारी आज सेना की और से उसके परिवार को दी गई, सुखबीर सिंह की शहादत की जानकारी मिलते ही जिले के डीसी कुलवंत सिंह ने परिवार से फोन पर बात करके शहीद के पिता को हौसला दिया।

परिवार को बेटे के पार्थिव शरीर का इंतजार
शहीद सुखबीर सिंह के परिवार ने जिले के डीसी से बात करते उनका पार्थिक शरीर गांव में पहुंचने बाबत जानकारी मांगी है। मां जसबीर कौर अपने बेटे का बार-बार नाम लेकर उसको पुकारते हुए रो रही है। परिवार वालों ने बताया कि एक दिन पहले ही सुखबीर ने फाेन पर स्‍वजनों से बात की थी और बताया था की राजौरी में आए दिन गोलीबारी हो रही है। सुखबीर ने अपनी मां जसबीर कौर को फोन पर कहा था कि गर्म कोटी बुनकर रखो, छुट्टी पर आऊंगा तो पहनूंगा।

खडूर साहिब के संसद जसबीर सिंह डिंपा, विधायक रमनजीत सिंह सिक्की, पूर्व सांसद रणजीत सिंह ब्रह्मपुरा, पूर्व विधायक हरमीत सिंह संधू, रविंदर सिंह ब्रह्मपुरा , एसएसपी ध्रुमन एच निंबाले ने सुखबीर की शहादत पर से दुख जाहिर किया है।