पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Arrest Warrant Issued For The Arrest Of Sumedh Saini, Police Teams Leave After 8 Saini's Locations Are Found

मुल्तानी किडनैपिंग केस:सुमेध सैनी की गिरफ्तारी के लिए अरेस्ट वारंट जारी, सैनी के 8 ठिकानों का पता चलने पर पुलिस टीमें रवाना

चंडीगढ़15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पूर्व डीजीपी कल फिर लगा सकते हैं सुप्रीम कोर्ट में याचिका
  • कोर्ट ने 25 सितंबर तक सैनी को पेश करने के दिए हैं आदेश, बुधवार को हो सकती है सुनवाई

(सुखबीर सिंह बाजवा) बलवंत सिंह मुल्तानी किडनैपिंग और मर्डर केस में पूर्व डीजीपी सुमेध सिंह सैनी की मुश्किलें आने वाले 2-3 दिन में और बढ़ सकती हैं, क्योंकि कानूनी माहिरों का कहना है कि सैनी की जमानत याचिका सुप्रीम कोर्ट में दाखिल नहीं के कारण अब उनकी याचिका पर दो से तीन में ही सुनवाई हो पाएगी। क्योंकि सोमवार को वे याचिका दाखिल करेंगे तो उसके बाद स्क्रूटनी विभाग उसे देखेगा।

अगर सभी दस्तावेज पूरे हुए तो याचिका पर बुधवार तक सुनवाई हो सकेगी। इससे पहले अगर पंजाब पुलिस उन्हें ढूंढ़कर गिरफ्तार कर लेती हैं तो आगे की कानूनी कार्रवाई फिर उसी के अनुसार होगी। पंजाब पुलिस ने इसके लिए पूरी तैयारी कर ली है। उनकी कोशिश है कि सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई से पहले सैनी की गिरफ्तारी हो जाए ताकि मुल्तानी केस में अगली कार्रवाई अदालत के आदेशानुसार हो सके। पुलिस ने अब सैनी की गिरफ्तारी के लिए नए अरेस्ट वारंट अदालत से जारी करा लिए हैं ताकि उन्हें किसी भी स्तर पर पिछड़ना न पड़े। अदालत ने सैनी को 25 सितंबर तक पेश करने के आदेश दिए हैं।

छापेमारी के लिए सर्च वारंट जारी

सूत्रों के अनुसार पंजाब पुलिस को सैनी के 8 ठिकानों का पता चला है, जहां पुलिस की टीमें छापेमारी कर सैनी की गिरफ्तारी की कार्रवाई करेंगी। ये टीम उनके चंडीगढ़ और दिल्ली स्थित आवास पर भी छापेमारी करेगी। इसके लिए भी टीम ने सर्च वारंट हासिल कर लिए हैं। सैनी की लोकेशन जानने के लिए पुलिस इंटेलिजेंस की भी मदद ले रही है क्योंकि उनका फोन लगातार स्विच ऑफ आ रहा है। इसलिए पुलिस चाहती है कि लोकेशन के आधार पर भी जांच की जाए।

2007 में सैनी ने भी बनाई थी पूर्व डीजीपी एसएस विर्क को गिरफ्तार करने की नीति
इससे पहले 2007 में अकाली-भाजपा सरकार के दौरान पूर्व में डीजीपी रहे एसएस विर्क को आय से अधिक संपत्ति के मामले में गिरफ्तार कर जेल भिजवाने की कोशिश की थी। इसमें पूरी रणनीति सैनी की रही थी। लेकिन वे कानूनी दांवपेंचों के सहारे बच निकले थे। हालांकि उनकी गिरफ्तारी को मौजूदा समय कर तरह विभिन्न टीमों का गठन किया गया था, लेकिन उनकी गिरफ्तारी हो न सकती थी और वे अदालत से जमानत लेकर छूटने में कामयाब रहे थे।

ये है सारा मामला
पूर्व आईएएस के बेटे दर्शन सिंह मुल्तानी के बेटे सिटको में जेई के पद पर तैनात बलवंत सिंह मुल्तानी को बम ब्लॉस्ट का आरोपी मानते हुए फेज-7 से सैनी व उनकी टीम ने पकड़ा था। सैनी जब चंडीगढ़ में एसएसपी थे तो उन पर बम हमला हुआ था। इसमें पुलिस के 3 जवान शहीद हो गए थे। मामले में सैनी टीम के साथ बलवंत को ले गए थे और थर्ड डिग्री टार्चर के कारण कस्टडी में मुल्तानी की मौत हो गई थी। 29 साल बाद मामला उठा तो मटौर पुलिस ने सैनी व उसके कई साथियों पर किडनैपिंग केस दर्ज किया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें