पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Bathinda Gangster Named In More Than 10 Cases Shot Dead, One Accomplice Crushed To Death

बठिंडा में गैंगस्टर नरूआना का कत्ल:10 से ज्यादा मामलों में नामजद कुलबीर को दोस्त ने ही मारी 4 गोलियां, एक साथी को कुचलकर मार डाला; आरोपी गिरफ्तार

बठिंडा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बठिंडा में एक नामी गैंगस्टर समेत दो की हत्या कर दी गई। मारे गए बदमाश कुलबीर नरूआना की फोटो। - Dainik Bhaskar
बठिंडा में एक नामी गैंगस्टर समेत दो की हत्या कर दी गई। मारे गए बदमाश कुलबीर नरूआना की फोटो।

बठिंडा में बुधवार को दोहरी हत्या का मामला सामने आया है, वजह गैंगवार मानी जा रही है, जिसके चलते एक को गोली मार दी गई तो उसके दूसरे साथी को गाड़ी से कुचल दिया गया। इस वारदात में खास बात यह भी है कि गैंगस्टर का बेहद खास माना जाता एक युवक दूसरी गैंग से जा मिला। दोनों हत्याएं उसी ने अंजाम दी हैं और इसके बाद जवाब में चलाई गई गोली लगने से घायल होकर वह भाग निकला। हालांकि पुलिस ने घटना के कुछ समय बाद ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

बता दें कि 15 के लगभग आपराधिक मामलों में नामजद जिले के गांव नरूआना निवासी गैंगस्टर कुलबीर नरूआना पर 10-15 दिन पहले भी कुछ विरोधियों ने फायरिंग की थी। उस वक्त गाड़ी के बुलेटप्रूफ होने के चलते वह बाल-बाल बच गया था। बुधवार सुबह को उसी के साथ रहे तलवंडी साबो के मन्ना ने उसी की गाड़ी में चार गोलियां मारकर मौत के घाट उतार दिया। इसके अलावा आरोपी मन्ना ने कुलबीर के एक साथी चमकौर सिंह को गाड़ी तले कुचलकर मार दिया। घटना के बाद जब आरोपी फरार हो रहा था तो कुलबीर के अन्य साथियों ने उस पर फायरिंग की, जिसमें उसको एक गोली लगी, लेकिन वो भागने में कामयाब हो गया था। हालांकि पुलिस ने घटना के कुछ समय बाद ही आरोपी को जख्मी हालत में गिरफ्तार कर लिया।

हत्या की वारदात के बाद अस्पताल लाई गई डेड बॉडी।
हत्या की वारदात के बाद अस्पताल लाई गई डेड बॉडी।

मिली जानकारी के अनुसार गैंगस्टर कुलबीर नरूआना बुधवार को जब सुबह उठा तो उसके साथी मन्ना ने उसे चाय पीने की इच्छा जाहिर की। इसके बाद नरूआना ने अपने एक साथी को चाय लेने घर के अंदर भेज दिया और खुद मन्ना के साथ अपनी गाड़ी में बैठ गया। जैसे ही गैंगस्टर अपने साथी मन्ना के साथ गाड़ी के दरवाजे बंद कर बैठा तो उसके बाद मन्ना ने एक एक कर चार गोलियां कुलबीर नरूआना के सीने में उतार दीं। जिससे गैंगस्टर की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं गोलियों की आवाज सुनकर दूसरा साथी चमकौर सिंह आगे आया तो आरोपी ने पहले उसके पैर पर गोली मारी और उसे गाड़ी से कुचल कर मार दिया।

घटना के बाद जब आरोपी फरार हो रहा था तो कुलबीर के साथियों ने उस पर फायरिंग की। इसमें एक गोली आरोपी को लगी, लेकिन आरोपी जख्मी हालत में फरार होने में कामयाब हो गया। घटना का पता चलते ही पुलिस ने आरोपी को कुछ ही समय में जख्मी हालत में गिरफ्तार कर लिया। बताया जा रहा है कि मन्ना नरूआना का खास आदमी है और हमेशा साथ रहता था।

खबरें और भी हैं...