पंजाब के MLA खुद भरेंगे इनकम टैक्स:सरकार नहीं करेगी अदायगी, कांग्रेस के वक्त सरकारी खजाने से दिया जाता रहा

चंडीगढ़9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
CM भगवंत मान - Dainik Bhaskar
CM भगवंत मान

पंजाब के 117 विधायकों को अब अपनी जेब से ही इनकम टैक्स भरना होगा। कांग्रेस के सत्ता में रहते वक्त पंजाब सरकार इसे भरती थी। CM भगवंत मान कल इसकी घोषणा करेंगे। इससे पहले पंजाब की AAP सरकार 'वन MLA-वन पेंशन' की भी घोषणा कर चुकी है। कांग्रेस सरकार के वक्त 117 में से 93 का इनकम टैक्स सरकार भर रही थी। सरकार ने 4 वर्षों में पौने 3 करोड़ इनकम टैक्स भरा था। खास बात यह थी कि इसमें आम आदमी पार्टी के विधायक भी शामिल थे।

पूर्व CM बादल और सिद्धू के साथ AAP के भी 15 MLA का टैक्स सरकार देती रही
जिन विधायकों का इनकम टैक्स सरकारी खजाने से भरा जाता रहा, उनमें 5 बार के CM प्रकाश सिंह बादल और कांग्रेस प्रधान रहे नवजोत सिद्धू का नाम भी शामिल रहा। खास बात यह है कि पंजाब में अब सत्ता में आई AAP के भी 15 विधायकों के नाम यह लाभ लेने वालों में शामिल रहे। जिनमें से अमन अरोड़ा, कुलवंत सिंह पंडौरी, प्रो. बलजिंदर कौर, बुधराम, कुलतार सधवां, गुरमीत सिंह मीत हेयर, सर्वजीत कौर माणुके और जयकिशन सिंह तो दूसरी बार विधायक बनकर आए हैं। इनमें कुलतार सधवां अब विधानसभा स्पीकर और गुरमीत मीत हेयर मंत्री बन चुके हैं।

पंजाब पर इस वक्त 3 लाख करोड़ का कर्ज है। आगे के लिए कैग ने यह अनुमान लगाया है
पंजाब पर इस वक्त 3 लाख करोड़ का कर्ज है। आगे के लिए कैग ने यह अनुमान लगाया है

कैप्टन समेत यह नेता खुद भरते रहे इनकम टैक्स
पिछली सरकार में CM रहे कैप्टन अमरिंदर सिंह समेत कुछ नेता अपना इनकम टैक्स खुद भरते रहे हैं। इनमें उस वक्त विधानसभा में विपक्ष के नेता और मौजूदा वित्त मंत्री हरपाल चीमा, मनप्रीत बादल, तृप्त राजिंदर बाजवा, सुखजिंदर रंधावा, सुख सरकारिया, बलवीर सिंह, ब्रह्म मोहिंदरा, गुरप्रीत कांगड़, भारत भूषण आशु, विधायक सिमरजीत बैंस व बलविंदर बैंस, कुलजीत नागरा समेत 24 विधायक शामिल थे।

दैनिक भास्कर ने इस संबंध में मान सरकार से सवाल किया था....