चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी VIDEO केस:छात्रा एक हफ्ते से बना रही थी लड़कियों के वीडियो; HC पहुंचा मामला, CBI जांच की मांग

चंडीगढ़7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मोहाली की चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी (CU) के गर्ल्स हॉस्टल में लड़कियों के अश्लील वीडियो बनाए जाने से जुड़े मामले में नए खुलासे हो रहे हैं। केस की इन्वेस्टिगेशन कर रही पंजाब पुलिस की SIT की जांच में पता चला है कि आरोपी छात्रा एक हफ्ते से लड़कियों के अश्लील वीडियो बनाकर अपने दोस्तों को भेज रही थी।

वहीं अब यह मामला पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट पहुंच गया है। एडवोकेट जगमोहन सिंह भट्‌टी ने पिटीशन दायर कर पूरे केस की केंद्रीय जांच एजेंसी (CBI) से जांच की मांग की है। एडवोकेट ने कहा कि यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट और पंजाब सरकार लड़कियों की सुरक्षा में नाकाम रहे। जिससे छात्राएं डरी हुई हैं। इसका पूरा सच सामने लाने के लिए सीबीआई जांच जरूरी है।

लड़की ने कई और लड़के के नाम उगले

आरोपी छात्रा ने पूछताछ में कई और लड़कों के नाम भी लिए हैं जिन्हें पूछताछ में शामिल किया जा सकता है। SIT ने आरोपी छात्रा का लैपटॉप फॉरेंसिक लैब भेज दिया है। पंजाब पुलिस की इस SIT में सभी महिला पुलिस अधिकारी हैं। SIT ने पुलिस रिमांड के दूसरे दिन आरोपी छात्रा और उसके दो दोस्तों रंकज वर्मा और सन्नी मेहता से सवाल-जवाब किए। तीनों से पहले अकेले में और फिर उन्हें आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की गई।

इन तीनों से 7 घंटे चली पूछताछ में 150 सवाल पूछे गए। 7 घंटे में से लगभग 3 घंटे तक बंद कमरे में अकेले लड़की से पूछताछ चली। पूरी पूछताछ की वीडियोग्राफी की जा रही है ताकि जरूरत पड़ने पर उसे कोर्ट में पेश किया जा सके।

पूरे नेक्सस को समझने की कोशिश
SIT इस पूरे नेक्सस को समझने की कोशिश कर रही है। मसलन वीडियो बनाने का असली मकसद क्या था? इन्हें हॉस्टल में आरोपी छात्रा किस तरह शूट करती थी? रंकज और सन्नी मेहता इतने सारे वीडियो का क्या करते थे? क्या वह ये वीडियो आगे किसी को भेजते थे? आरोपियों की मुंबई, गुजरात और दिल्ली में लगातार किससे बात हो रही थी?

SIT के अधिकारी तीनों आरोपियों के मोबाइल कॉल्स की डिटेल भी निकलवा रहे हैं। तीनों की जिन नंबरों पर रेगुलरली सबसे ज्यादा बातचीत होती थी, उन्हें भी जांच के दायरे में शामिल किया जा सकता है।

16 लोगों के मोबाइल फोन का डाटा रिकवर कर रहे

SIT आरोपी छात्रा,सन्नी मेहता और रंकज वर्मा के चार मोबाइल फोन के अलावा उनसे जुड़े 16 अन्य लोगों के मोबाइल का डाटा खंगाल रही है। इनमें कई ऐसे लोग हैं जिनसे आरोपी छात्रा के अलावा रंकज वर्मा और सन्नी मेहता की रेगुलर बातचीत हो रही थी। SIT जानने की कोशिश कर रही है कि क्या इन लोगों को भी वीडियो भेजे गए थे या नहीं?

CU हॉस्टल की मैस में काम कर चुके युवक से पूछताछ

इसी मामले में SIT के सदस्यों ने होशियारपुर जाकर मोहित नामक युवक से पूछताछ की। मोहित चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के हॉस्टल की मैस में काम कर चुका है। SIT में शामिल लुधियाना की एसपी (इंटेलिजेंस) रूपिंदर कौर भट्टी ने मोहित से सवाल-जवाब किए।

अभी तक की इन्वेस्टिगेशन के अनुसार, जिस समय आरोपी छात्रा ने वीडियो अपने बॉयफ्रेंड को भेजे, उसी दौरान मोहित की आरोपी रंकज वर्मा और सन्नी मेहता से चैटिंग हुई थी। हालांकि छात्रा का कहना है कि वह मोहित को नहीं जानती।

हॉस्टल्स के बाथरूम की जांच

पंजाब पुलिस की रोपड़ रेंज के DIG गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया कि SIT ने चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के कैंपस में जाकर सीन ऑफ क्राइम का भी जायजा लिया। पुलिस अधिकारियों ने यूनिवर्सिटी के LC-3 हॉस्टल की सातवीं मंजिल पर बने सभी बाथरूमों की जांच की। हॉस्टल की वार्डन के बयान भी दर्ज किए गए।

दोबारा मांगा जा सकता है पुलिस रिमांड

तीनों आरोपियों के मोबाइल फोन पहले ही जांच के लिए स्टेट साइबर सेल भेजे जा चुके हैं। SIT को अब फॉरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार है। तीनों आरोपी 7 दिन के रिमांड पर हैं और फॉरेंसिक रिपोर्ट आने में कुछ दिन लग सकते हैं। ऐसे में अदालत से तीनों आरोपियों का रिमांड बढ़ाने का आग्रह किया जा सकता है।

यदि फॉरेंसिक रिपोर्ट में होशियारपुर के मोहित का कोई लिंक सामने आया तो उसे भी गिरफ्तार किया जा सकता है।

खबरें और भी हैं...