• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • CM Capt Amarinder Singh Said; You Are Doing Politics On The Epidemic, I Am Also Ready To Help Delhi

कोरोना पर राजनीति:सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा; महामारी पर आप राजनीति कर रही, मैं दिल्ली की मदद को भी तैयार

चंडीगढ़2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कैप्टन अमरिंदर सिंह (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
कैप्टन अमरिंदर सिंह (फाइल फोटो)
  • कैप्टन ने आप को घेरा, शिअद ने उठाए सवाल
  • कहा-पंजाब में दिल्ली से ज्यादा खराब हालात नहीं, राज्यों को मदद की पेशकश
  • नेताओं पर नियम कानून के उल्लंघन का भी आरोप

सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने महामारी पर आम आदमी पार्टी पर राजनीति करने का आरोप लगाया है। साथ ही आप की कोरोना की स्थिति से निपटने में पंजाब सरकार के खिलाफ नकारात्मक प्रचार की मुहिम को ‘ग़ैर-जिम्मेदाराना’ करार दिया है। शुक्रवार को वर्चुअल मीटिंग में सीएम ने कहा कि पूरी दुनिया की तरह भारत भी जंग जैसी स्थिति का सामना एकजुटता से कर रहा है। लेकिन आप पार्टी इस संकट में भी राजनीति कर रही है।

कांग्रेस पार्टी सभी राज्यों में महामारी से निपटने के लिए सरकारों की मदद कर रही है। किसी भी राज्य चाहे दिल्ली, हिमाचल या हरियाणा हो, पंजाब सरकार उनकी मदद को तैयार है। अगर दिल्ली को जरूरत पड़ी तो मदद कोे आगे आऊंंगा। पंजाब की अपेक्षा दिल्ली की हालत कहीं अधिक खराब है। पंजाब में 18 हजार एक्टिव केस हैं जबकि दिल्ली में 25 हजार से अधिक हैं।

आप बोली- बाजार से दोगुनी है कोविड केयर किटों की कीमत
आप पार्टी ने सरकार पर 50 हजार कोरोना केयर किटों की खरीद में गड़बड़ी के आरोप लगाए हैं। साथ ही सीएम से मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। आप विधायक अमन अरोड़ा ने बताया कि सरकार थोक में 50 हजार कोविड केयर किटें मार्केट के मुकाबले डबल कीमतों पर खरीद रही है, जबकि थोक के हिसाब से यह 10 से 20% सस्ती मिलनी चाहिए। किटों में ऑक्सीमीटर समेत शामिल सभी चीजें और दवाओं की एक किट की कुल कीमत 943 रुपए हैं, जबकि सरकार की कोविड केयर किट की कीमत 1700 रुपए है।

शिअद बोली- महामारी कंट्रोल करने को जमीनी हालात जानें सीएम
शिअद अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि प्रदेश सरकार कोरोना महामारी को संभालने में विफल रही है। बादल ने सीएम से मांग की कि जमीनी हकीकत का जायजा लें और कोरोना से निपटने के पुख्ता इंतजाम करें। पंजाब 2.95% मृत्यु दर के साथ देश में टॉप पर पहुंच गया है। कई विफलताओं के कारण ही अगस्त में कोविड के कारण 1 हजार से अधिक व्यक्तियों की मृत्यु हो गई है। सरकार अब सरकारी व निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने की बजाय ऑक्सीमीटर की आपूर्ति के बारे दुष्प्रचार कर रही है।

इधर, विधायकों ने कहा-प्राइवेट अस्पताल तय दाम से ज्यादा वसूल रहे
कांग्रेस की वर्चुअल मीटिंग में कई विधायकों ने कहा कि विरोधी पार्टियां राजनीतिक गतिविधियों के लिए नियम कानून का उल्लंघन कर नकारात्मक प्रचार कर रही हैं। साथ ही लोगों को जल्द जांच के लिए सामने आने के लिए प्रेरित करने के रास्ते में रुकावट डाल रही हैं। विधायकों ने शिकायत की कि निजी अस्पतालों की तरफ से कोविड संकट के दौरान मुनाफाखोरी के चक्कर में मरीजों से काफी अधिक कीमतें वसूली जा रही हैं बावजूद इसके कि राज्य सरकार ने कीमतें तय की हुई हैं।

खबरें और भी हैं...