पंजाब गवर्नर का AAP सरकार को झटका:बजट सेशन को नहीं दी मंजूरी, पुरोहित ने CM के लेटर को अपमानजनक बताया

चंडीगढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब के सीएम भगवंत मान और गवर्नर बीएल पुरोहित के बीच कलह थम नहीं रही। इस बीच अब पंजाब गवर्नर ने CM भगवंत मान द्वारा लिखे लेटर में विधानसभा के बजट सेशन को मंजूरी देने से इनकार कर दिया है। गवर्नर ने CM मान द्वारा उन्हें 13 फरवरी को भेजे गए लेटर और ट्वीट पर कानूनी राय लेने के बाद ही बजट सेशन बुलाने के अनुरोध पर फैसला लेने की बात कही।

पंजाब गवर्नर बीएल पुरोहित द्वारा CM पंजाब भगवंत मान को लिखा गया लेटर।
पंजाब गवर्नर बीएल पुरोहित द्वारा CM पंजाब भगवंत मान को लिखा गया लेटर।

पंजाब गवर्नर बनवारी लाल पुरोहित ने CM पंजाब भगवंत मान द्वारा उन्हें लिखे गए लेटर को असंवैधानिक और अपमानजनक बताया है। साथ ही यह भी कहा है कि वह मामले में कानूनी राय लेंगे और इसके बाद ही उनके लेटर का जवाब भी देंगे।

गौरतलब है कि पंजाब के सरकारी टीचरों को ट्रेनिंग के लिए सिंगापुर भेजने के मुद्दे पर गवर्नर बनवारी लाल पुरोहित और CM भगवंत मान एक-दूसरे के आमने-सामने हुए थे। CM मान ने गवर्नर का नाम लिए बिना तंज कसते हुए यह भी कहा था कि पंजाब के फैसले जनता द्वारा चुने लोग (इलेक्टेड) ही लेंगे, सिलेक्टेड नहीं।

CM मान ने लेटर में यह लिखा
CM मान ने गवर्नर को 13 फरवरी को लेटर भी भेजा था। इसमें उन्होंने लिखा- मैं स्पष्ट करना चाहता हूं मैं और मेरी सरकार 3 करोड़ पंजाबियों को जवाबदेह है। आपने मुझे पूछा है कि सिंगापुर में ट्रेनिंग के लिए टीचरों का चुनाव किस आधार पर किया है? पंजाब के लोग पूछना चाहते हैं कि भारतीय संविधान में किसी स्पष्ट योग्यता के बिना केंद्र सरकार द्वारा अलग-अलग राज्यों में राज्यपाल किस आधार पर चुने जाते हैं। यह बताकर पंजाबियों की जानकारी बढ़ाई जाए।

गवर्नर के लेटर में CM के सवालों का जिक्र
पंजाब गवर्नर बीएल पुरोहित के CM मान को लिखे लेटर में उनके द्वारा पूछे गए सवालों का भी उल्लेख किया गया है। साथ ही इन्हें असंवैधानिक बताते हुए कानूनी सलाह के बाद जवाब देने को कहा है। स्पष्ट है कि आगामी दिनों में गवर्नल और CM पंजाब के बीच तल्खी पहले से अधिक तेज होने वाली है।