पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • England: Case Of Beating With NRI, Beating With A Punjabi Youngman Taxi Driver In London: Court reserved The Decision For 8th April 2021

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अंतरराष्ट्रीय मुद्दा:पेशे से तबलावादक है ये भारतवंशी सिख, इंग्लैंड की संसद में उठा कैसीनो में हुई मारपीट का मसला; कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

चंडीगढ़15 दिन पहलेलेखक: बलराज सिंह
  • कॉपी लिंक
इंग्लैंड में मारपीट का शिकार हुआ पंजाब के बटाला मूल का विनीत सिंह। -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
इंग्लैंड में मारपीट का शिकार हुआ पंजाब के बटाला मूल का विनीत सिंह। -फाइल फोटो
  • इंग्लैंड 9 सितंबर 2020 की रात को इंग्लैंड में बसिंगस्टोक कैसीनो के बाहर घटी थी घटना
  • अगली सुनवाई 8 अप्रैल को होगी, तीनों दोषियों के पासपोर्ट जब्त; मोबाइल ट्रैप भी लगा

विदेशी धरती पर रोटी कमाने गए पंजाबी युवक को न्याय की आस बंध गई है। मामला करीब 4 महीने पहले इंग्लैंड में एक जुआघर में मारपीट का है, जो वहां की संसद तक भी चर्चा का विषय रह चुका है। वहां भारतवंशी सांसदों ने इस पूरे मामले को पूरे जोर-शोर से उठाया था। अब इस मामले में कोर्ट ने 3 विदेशी युवकों को दोषी करार दिया है। फैसला सुरक्षित रख लिया गया है। दैनिक भास्कर इस पूरे मामले के साथ आपको रू-ब-रू करवा रहा है। आइए तफ़सील से जानें क्या है पूरा घटनाक्रम...

घटना का पीड़ित युवक विनीत सिंह पंजाब के बटाला से ताल्लुक रखता है। वह वर्ष 2004 में रोटी-रोजी कमाने के मकसद से लंदन चला गया था। इसके बाद वहीं अपना जीवन बसर कर रहा है। विनीत सिंह पेशेवर तबलावादक है और रात में किसी कंपनी के लिए पार्ट टाइम टैक्सी चलाता है।

विनीत सिंह की टैक्सी, जिस पर वह पार्ट टाइम ड्राइविंग जॉब करता है।
विनीत सिंह की टैक्सी, जिस पर वह पार्ट टाइम ड्राइविंग जॉब करता है।

9 सितंबर 2020 की रात को इंग्लैंड में बसिंगस्टोक कैसीनो के बाहर नशे में धुत्त तीन विदेशी युवकों ने विनीत सिंह के साथ बेरहमी से मारपीट की। आरोपियों द्वारा उसके धार्मिक चिह्नों का भी अपमान किया गया। उसकी पगड़ी उतार दी गई थी। पहले तो यह मामला मामूली मारपीट की तरह दबकर रह जाता, लेकिन इंग्लैंड की संसद के भारतवंशियों ने इसे पुरजोर तरीके से उठाया। यह मामला संसद में गूंजा तो इसकी जांच में तेजी आई।

CID टीम ने क्राइम सीन पर जाकर घटनाक्रम के संबंध में तथ्य जुटाए थे। CCTV फुटेज की मदद से आरोपियों की पहचान की गई और GPS ट्रैकिंग के जरिये काबू कर लिया गया था। आरोपियों ने अपने बयान में CID टीम के सामने अपना गुनाह कबूल कर लिया था। इसके बाद कोर्ट में चालान पेश किया गया।

अदालत ने हाल ही में तीन दिन पहले 20 वर्षीय बिली सैम सिमन शैरवैल, 19 वर्षीय डीन ब्रैंडन स्मिथ और 19 वर्षीय फ्रैकी ग्रीगोरे को दोषी मानते हुए इनके खिलाफ सजा पर फैसला सुरक्षित रख लिया है। अगली सुनवाई 8 अप्रैल को होगी, जिसमें मारपीट के तीनों दोषियों को कैद और जुर्माना किया जा सकता है। उन तीनों युवकों के मोबाइल पर CID टीम ने ट्रैप पर लगा दिया है, साथ ही उनके पासपोर्ट भी जब्त कर लिए गए हैं, ताकि इंग्लैंड छोड़कर कहीं फरार न हो जाएं।

पीड़ित विनीत सिंह ने फोन पर बातचीत में बताया कि उनके केस के हल होने से विदेश में रहने वाले सिख समुदाय में खुशी की लहर है। उन्होंने अदालत से मांग की है कि दोषियों को सख्त से सख्त सजा दी जाए। विनीत के मुताबिक इस पूरे प्रकरण में इंग्लैंड के CID इंस्पेक्टर यूआना ने खास भूमिका निभाई और इसी की बदौलत केस को इतनी जल्द सुलझा लिया गया।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

और पढ़ें