पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Farmer Said We Are Ready To Negotiate, The Center Will Take A Decision Today After Legal Opinion

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसानों की दो टूक:किसान बोले- हम बातचीत को तैयार, केंद्र कानूनी राय के बाद आज लेगा फैसला

सिंघु बॉर्डर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कमेटी केंद्र सरकार की ही बात करेगी, इसलिए कोई बातचीत नहीं

सुप्रीम कोर्ट के एक्सपर्ट कमेटी बनाने के बाद सरकार और किसान संगठनों के बीच 10वें दौर की शुक्रवार काे हाेने वाली बातचीत पर अनिश्चितता के बादल मंडरा रहे हैं। प्रस्तावित बैठक काे लेकर सरकार ने बुधवार काे वरिष्ठ अधिकारियों और वकीलों के साथ चर्चा की। वकीलों की सलाह और सभी कानूनी पहलुओं पर विचार के बाद वीरवार को अंतिम निर्णय लिया जाएगा। 15 जनवरी काे सरकार और किसानाें के बीच बातचीत होनी है। किसानाें ने कहा है कि वे सरकार से बातचीत करने काे तैयार हैं। वहीं, एक्सपर्ट कमेटी को अभी तक सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद नियुक्ति संबंधी कोई पत्र नहीं मिला है।

बुधवार को दिल्ली बॉर्डर पर किसान जत्थेबंदियों की दिनभर बैठकों का दौर चला। किसान संगठनाें ने दावा किया कि लोहड़ी पर पंजाब समेत पूरे देश में 20 हजार से ज्यादा स्थानाें पर कृषि कानूनाें की प्रतियां जलाई गईं। वहीं, किसान जत्थेबंदियों ने साफ किया कि वह किसी भी सूरत में सुप्रीम कोर्ट की कमेटी से बात नहीं करेंगे। क्योंकि, कमेटी सरकार के लिए ही काम करेगी। किसान नेता हरमीत सिंह कादियां ने बताया कि बैठक में फैसला लिया गया है कि 18 जनवरी को महिलाएं देशभर में हर जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन करेंगी।

1 हफ्ते पहले पहुंचने लगेंगे ट्रैक्टर

भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार ने 10 साल पुराने ट्रैक्टर पर बैन लगाया है तो हम 10 साल पुराने ट्रैक्टर को दिल्ली की सड़कों पर दौड़ाएंगे। ट्रैक्टर परेड को लेकर 15 जनवरी को होने वाली किसानों की मीटिंग में रणनीति बनाएंगे। परेड में शामिल होने के लिए एक सप्ताह पहले से और ट्रैक्टर पहुंचने शुरू हो जाएंगे। किसानों की मीटिंग में कोर्ट की कमेटी से मिलने को लेकर भी चर्चा हुई, जिसमें यह तय किया गया कि किसान जत्थेबंदियां कमेटी से कोई बात नहीं करेगी। अभी तक केंद्रीय मंत्रियों के साथ मीटिंगों के बावजूद कोई हल नहीं निकला है तो कमेटी से कैसे हल निकल सकता है। किसानों ने कहा कुछ लोगों द्वारा ट्रैक्टर रैली के दौरान लाल किले पर झंडा फहराने जैसी बातें करने को लेकर स्पष्ट किया कि किसान जत्थेबंदियां ऐसा कुछ नहीं करेगी। सिर्फ ट्रैक्टर मार्च निकाल विरोध दर्ज करवाएंगे।

हेमा मालिनी बोलीं-
प्रदर्शन में शामिल लोगों को मुद्दा ही पता नहीं
भाजपा सांसद हेमा मालिनी ने कहा है कि जो प्रदर्शन कर रहे हैं, उन्हें तो खुद पता नहीं कि वे क्या चाहते हैं और कानूनों में दिक्कत क्या है? इससे पता चलता है वे किसी के कहने पर प्रदर्शन कर रहे हैं। हेमा ने कहा कानूनों के अमल पर रोक लगना अच्छी बात है, इससे मामला शांत होने की उम्मीद है। लेकिन किसान मानने को तैयार नहीं हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser