पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मौत के राज से उठा पर्दा:आत्महत्या नहीं की थी युवक ने, सिर पर बैट मारकर और रस्सी से गला घोंटकर ली गई जान; आरोपी गिरफ्तार

फतेहगढ़ साहिब19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बस्सी पठानां में पुलिस की गिरफ्त में हत्या का आरोपी। - Dainik Bhaskar
बस्सी पठानां में पुलिस की गिरफ्त में हत्या का आरोपी।

फतेहगढ़ साहिब जिले के बस्सी पठाना में पुलिस ने एक युवक की मौत के राज से पर्दा उठा लिया है। आत्महत्या मानी जा रही इस घटना की जांच में पाया कि उसका कत्ल किया गया है। फिर सिर्फ 4 घंटे के भीतर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया। इसके साथ ही पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल किए बैट को भी बरामद किया है। आरोपी की पहचान होरील राम उर्फ हरी राम निवासी गांव नरवारा जिला शिवहर बिहार के तौर पर हुई है। वह इन दिनों बस्सी पठाना के सनसिटी में रह रहा था। रविवार को बस्सी पठाना के DSP सुखमिंदर सिंह चौहान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया, 28 मई की रात को पुलिस को सूचना मिली थी कि सनसिटी में रह रहे गांव रैलों अमरीक सिंह ने पंखे की कुंडी में रस्सी डाल आत्महत्या कर ली। उसकी पत्नी सतनाम कौर ने कहा था कि उसका पति शराब पीने के साथ परेशान रहता था। इसके चलते वह उसके साथ न रहते हुए सामने के मकान में अपने बेटे के साथ रहती थी। उन्हें भी पति के आत्महत्या का शक था। थाना बस्सी पठाना के प्रभारी मनप्रीत सिंह देयोल की अगुआई में सहायक थानेदार कुलविंदर सिंह इंचार्ज पुलिस चौकी सिटी की टीम बनाई गई। उन्हें शक हुआ कि मामला आत्महत्या का नहीं, बल्कि कत्ल का है। मृतक के गले पर जो निशान पाए गए थे, उससे पुलिस की थ्योरी हत्या की ओर इशारा कर रही थी। जांच में पाया कि अमरीक सिंह को अंदेशा था कि होरील राम की उसकी पत्नी पर बुरी नजर है। इसको लेकर पहले तकरार भी हुई थी। शराब के नशे में होरील ने अमरीक के सिर पर बैट से हमला कर उसे घायल कर दिया। बाद में उसका गला घोंटकर हत्या कर दी। कातिल इतना होशियार था कि उसने मृतक के गले में रस्सी डाल उसे पंखे की कुंडी से लटका दिया, ताकि मामला आत्महत्या का लगे, क्योंकि अमरीक ने भी शराब पी रखी थी। पुलिस ने जांच में पाया था कि मृतक का शव पूरी तरह लटका नहीं हुआ था। उसके घुटने जमीन से लगे हुए थे। पुलिस ने आरोपी खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी।