पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Gurjot, Special Cell Of Delhi Police Caught A Reward Of 1 Lakh In Delhi Violence Of 26 January From Amritsar

आरोपी की धरपकड़:26 जनवरी की दिल्ली हिंसा में 1 लाख का इनामी गुरजोत दिल्ली पुलिस की स्पेशल सैल ने अमृतसर से किया काबू

अमृतसर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में हुई हिंसा के मामले में 1 लाख का इनामी आरोपी गुरजोत, जिसे आज पुलिस ने अमृतसर में उसके घर से पकड़ा है। - Dainik Bhaskar
गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में हुई हिंसा के मामले में 1 लाख का इनामी आरोपी गुरजोत, जिसे आज पुलिस ने अमृतसर में उसके घर से पकड़ा है।

किसान आंदोलन की आड़ में गणतंत्र दिवस पर देश की राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर कार्रवाई लगातार जारी है। सोमवार को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सैल की टीम ने इस हिंसा में लाल किले पर तिरंगे का अपमान करके वहां खालसायी झंडा फहराने के बाद 1 लाख रुपए के घोषित आरोपी गुरजोत को अमृतसर से धरदबोचा। दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक 1 लाख के इनामी घोषित गुरजोत को अमृतसर से पकड़ा गया है। दरअसल, पुलिस को सूचना मिली थी कि वह अमृतसर में छिपा हुआ है। इसके बाद उसके घर पर ही छापा मारकर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

बता दें कि किसान आंदोलन के नाम पर 26 जनवरी 2021 को दिल्ली में जो हिंसा हुई, उससे पूरा देश शर्मसार है। इस दिन लाल किले पर धार्मिक झंडा लगा दिया गया था। उस घटना को पुलिस ने अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया था, जिसमें कई सारे चौंकाने वाले खुलासे सामने आए थे। आरोप पत्र में पुलिस ने लाल किले पर हुई हिंसा को पूर्व नियोजित बताया था। पुलिस ने कहा था कि जांच में पाया गया कि इस हिंसा की पहले से ही तैयारी थी। इसे अचानक हुई हिंसा कहना गलत है, क्योंकि दंगाई हथियारों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे थे। उनके पास तलवार, हॉकी, डंडे जैसे हथियार थे। उन्होंने वहां जमकर उपद्रव मचाया था। पुलिस के मुताबिक, ट्रैक्टर रैली की आड़ में इस हिंसा को अंजाम दिया गया था। इस बाबत दिल्ली पुलिस ने विभिन्न स्तर पर जांच कर 43 FIR दर्ज की हैं।

उल्लेखनीय पहलू यह भी है कि इस मामले में पंजाबी अभिनेता दीप सिद्धू और गुरजोत सिंह के अलावा, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सैल ने वॉन्टेड मनिंदर सिंह को भी गिरफ्तार किया है, जिसे 26 जनवरी को हिंसा भड़कने पर दोनों हाथों से तलवारें लहराते देखा गया था। अब तक करीब 150 गिरफ्तारियां हो चुकी हैं, वहीं कई आरोपी अब भी गिरफ्त में नहीं आ पाए हैं।

खबरें और भी हैं...