करनाल-कुरुक्षेत्र में मिले विस्फोटक एक जैसे:​​​​​​​टेरर मॉड्यूल में 2 पूर्व पंजाब पुलिसकर्मियों के बेटे भी; आतंकी रिंदा का नाम आने से NIA एक्टिव

चंडीगढ़12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कुरुक्षेत्र के शाहाबाद में जीटी रोड पर पेड़ के नीचे मिले विस्फोटक को लेकर हरियाणा पुलिस की जांच में बड़ा खुलासा हुआ है। कुछ माह पहले करनाल और अब कुरुक्षेत्र में मिला विस्फोटक एक जैसा है। हरियाणा STF के SP सुमित कुमार ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि पाकिस्तान में बैठे कुख्यात गैंगस्टर आतंकी हरविंदर रिंदा ने ही यह विस्फोटक भेजा है।

वहीं रिंदा के इस टेरर मॉड्यूल में पंजाब पुलिस के 2 पूर्व पुलिस कर्मचारियों के बेटे भी शामिल निकले। इनमें सब इंस्पेक्टर को पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया। इस मामले में आतंकी कनेक्शन के बाद राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) भी सक्रिय हो गई है। फिलहाल हरियाणा STF इसकी जांच कर रही है, लेकिन NIA भी पकड़े गए शमशेर शेरा से पूछताछ कर रही है।

शेरा को 16 अगस्त तक रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है।
शेरा को 16 अगस्त तक रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है।

शमशेर के 2 और साथी गिरफ्तार, एक की तलाश
हरियाणा STF ने इस केस में 1.3 किलो RDX रखने वाले शमशेर सिंह उर्फ शेरा के 2 साथियों रोबिनप्रीत सिंह और बलजीत सिंह को गिरफ्तार किया है। पुलिस जांच के मुताबिक रोबिन विस्फोटक रखने शमशेर के साथ आया था। उसके साथ 2 लोग और आए थे। वहीं सीमा पार से ड्रोन के जरिए आने वाले नशे को वह कंबो दाईवाला के रहने वाले बलजीत सिंह के पास रखते थे। हरियाणा और पंजाब पुलिस ने जॉइंट रेड की तो उससे डेढ़ किलो अफीम भी मिली। वहीं पुलिस को अब इनके चौथे साथी अर्शदीप सिंह की तलाश है।

शेरा के बैंक रिकॉर्ड भी खंगाल रही पुलिस
पुलिस ने गिरफ्तार शमशेर शेरा के बैंक रिकॉर्ड खंगालने शुरू कर दिए हैं। उसके परिवार के सदस्यों के खातों में भी रुपयों के लेन-देन की जांच की जा रही है। पुलिस को शक है कि कहीं इस काम के बदले उन्हें विदेशों से आतंकियों ने कोई पैसा तो नहीं भेजा। शेरा को 10 दिन के रिमांड पर लेकर हरियाणा पुलिस पूछताछ कर रही है। शुरूआती जांच में पता चला कि यह 15 अगस्त से पहले हरियाणा और दिल्ली में धमाके करने वाले थे। हालांकि शेरा और उसके साथियों को सिर्फ विस्फोटक वहां रखना था। आतंकियों ने आगे का काम दूसरे स्लीपर सेल को सौंपा हुआ था।