पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar Suicide; Punjab Vegetable Vyapari Hanging Himself In His Warehouse Over Financial Loss

खौफनाक कदम:कर्ज से परेशान केले के व्यापारी ने सब्जी मंडी में व्यापारी ने अपने ही गोदाम में लगाई फांसी, परिजनों ने दरवाजा तोड़ा तो चला पता

जालंधर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जालंधर के मकसूदां स्थित सब्जी मंडी में गोदाम से केले के व्यापारी के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाती पुलिस टीम। - Dainik Bhaskar
जालंधर के मकसूदां स्थित सब्जी मंडी में गोदाम से केले के व्यापारी के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाती पुलिस टीम।
  • मृतक की पहचान मूल रूप से उत्तर प्रदेश के जिला बहराइच के रहने वाले 50 वर्षीय अनिल कुमार पुत्र रामानंद के रूप में हुई
  • नागरा के शिवनगर में रह रहा अनिल पिछले 35 साल से काम कर रहा था, रात 8 बजे शव देख सुमित ने घर वालों को सूचना दी

जालंधर में मंगलवार देर रात को केले के एक व्यापारी ने अपने गोदाम में फंदा लगाकर आत्हत्या कर ली। आत्महत्या की वजह कर्ज को लेकर परेशानी को बताया जा रहा है। इस बात का पता तब चला, जब बेटे ने ऊपर जाकर कमरे का दरवाजा खटखटाया। कोई जवाब नहीं मिलने पर दरवाजा तोड़कर अंदर जाने पर शव पंखे से लटका मिला। दूसरी ओर सूचना पाकर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर व्यापारी के शव को सिविल अस्पताल स्थित मोर्चरी में भिजवा दिया। बुधवार को पोस्टमॉर्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

व्यापारी अनिल कुमार की फाइल फोटो।
व्यापारी अनिल कुमार की फाइल फोटो।

मृतक की पहचान मूल रूप से उत्तर प्रदेश के जिला बहराइच के रहने वाले 50 वर्षीय अनिल कुमार पुत्र रामानंद के रूप में हुई है। यहां नागरा के शिवनगर में रहने वाला अनिल पिछले 35 साल से यहीं काम कर रहा था। उसके चार बच्चों में से एक 16 वर्षीय बेटे सुमित कुमार ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि जिस समय पिता ने घटना को अंजाम दिया, वह नीचे ग्राउंड फ्लोर पर बैठा था। उसे नहीं पता कि पिता ने यह कदम क्यों उठाया। वहीं सूत्रों की मानें तो अनिल ने कुछ राशि कर्ज के रूप में ली थी। पैसे देने वाला व्यक्ति बार-बार परेशान करता था। जिस दुकान पर अनिल काम कर रहा था वह भी किराये की थी। सुमित के मुताबिक शाम करीब 4 बजे अनिल ऊपरी मंजिल पर गया और वापस नहीं आया। रात 8 बजे ऊपर जाकर कमरे का दरवाजा खटखटाया तो कोई जवाब नहीं मिला। उसने आसपास के कुछ लोगों को आवाज लगाई और दरवाजा तोड़कर अंदर जाकर देखा तो पंखे के साथ उसके पिता का शव लटक रहा था।

सुमित ने अपने घर वालों और भाई को फोन पर सूचना दी। सूचना पाकर उसके बड़े भाई सुनील कुमार और अन्य लोग सब्जी मंडी पहुंचे। वहां लोगों ने शव को नीचे उतारा और पास स्थित निजी अस्पताल में लेकर गए। वहां पर डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस के मुताबिक उनके बेटे और परिवार वाले कह रहे हैं कि कोई परेशानी नहीं थी, लेकिन अनिल कश्यप ने ये कदम क्यों उठाया, इसकी जांच चल रही है। मकसूदां सब्जी मंडी के गोदाम में आत्महत्या की खबर से सनसनी फैल गई थी।

खबरें और भी हैं...