पंजाब के 2 पूर्व मंत्रियों का लुकआउट नोटिस जारी:3 रिटायर्ड IAS अधिकारी भी फंसे; सिंचाई घोटाले में कार्रवाई; सरकार से ली थी अनुमति

चंडीगढ़14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने अकाली-भाजपा गठबंधन सरकार के समय हुए सिंचाई घोटाले की जांच शुरू कर दी है। इस प्रक्रिया के तहत विजिलेंस ने 2 पूर्व मंत्रियों जनमेजा सिंह सेखों और शरणजीत सिंह ढिल्लों के अलावा रिटायर्ड IAS अधिकारियों सर्वेश कौशल, KBS सिद्धू और काहन सिंह पन्नू के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया है।

पंजाब सरकार ने 2 दिन पहले ही विजिलेंस को मामले की जांच की अनुमति दी थी। इस मामले के मुख्य आरोपी ठेकेदार गुरिंदर सिंह ने शपथ पत्र देकर कहा था कि सिंचाई घोटाले में तीन पूर्व IAS अधिकारी, 2 पूर्व मंत्री और उनके निजी सचिव भी शामिल हैं। विजिलेंस ब्यूरो ने यह बयान अगस्त 2017 में दर्ज किए थे।

विजिलेंस अधिकारियों का कहना है कि घोटाले में नामजद ठेकेदारों को पूछताछ के लिए दोबारा बुलाया जाएगा। उनसे पूछताछ में जिन पूर्व अधिकारियों और नेताओं के नाम सामने आएंगे, उन्हें भी जांच में शामिल किया जाएगा। विजिलेंस ने भ्र्ष्टाचार अधिनियम एक्ट की धारा 17 ए के तहत कार्रवाई की अनुमति की मांग की थी।

खबरें और भी हैं...