पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

जीएसटी घोटाला:लुधियाना के ट्रांसपोर्टर और एक अन्य आरोपी को मिला ज्यूडिशियल रिमांड, 8 अगस्त को गिरफ्तार किए थे आरोपी

लुधियाना17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जीएसटी घोटाले में मोहाली सेशन कोर्ट ने शनिवार को केस में दो अरोपियों को ज्यूडिशियल रिमांड पर भेज दिया। दोनों आरोपी नारंग ट्रांसपोर्ट के मालिक जसमीत सिंह उर्फ़ प्रिंस व गांव भुट्टो माजरा के पासर, सरपंच विश्वनाथ को लुधियाना से 8 अगस्त को विजिलेंस ब्यूरो की टीम द्वारा हिरासत में लिया था। दोनों पर फर्जीवाड़े सहित आईपीसी की बनती धाराओं के तहत पर्चा दर्ज किया गया था और दोनों को चार दिन के रिमांड पर लिया गया था।

इस दौरान आरोपियों के दफ्तरों और उनके घरों से ज़ब्त किये दस्तावेज़ों और और लेजरों से मिली जानकारी पर भी विजिलेंस की करवाई जारी है। विजिलेंस टीम के हाथ ऐसी ट्रक बिल्टियां लगीं थी जिन पर ट्रक नंबर नहीं थे। अन्य ट्रांसपोर्टरों से संबंधित बिल्टियां और दस्तावेज़ भी मिले थे जिनसे एक्साइज मुलाज़िमों की मिलीभगत के भी खुलासे हुए हैं।

ट्रांसपोर्टर पासर और एक्साइज विभाग के अफसरों द्वारा मिलकर किए जा रहे भ्रष्टाचार और राजस्व चोरी और घोटालों के इस मामले में अब तक दो एफआईआर हुई हैं जिनमें 38 लोगों पर मामला दर्ज किया गया है। इनमें ट्रांसपोर्टर पासर के अलावा एक्साइज विभाग के 12 मुलाज़िम भी शामिल हैं। पंजाब भर से ज़ब्त किए दस्तावेज़ों को विजिलेंस की 18 टीमें अब भी खंगालने में लगी हैं।

इस केस में रोज हो रहे नए खुलासे से एक्साइज डिपार्टमेंट में हड़कंप मचा है। जहां एक ओर विजिलेंस विभाग के अफसर केस की जांच में लगे हैं। वहीं, एक्साइज विभाग के लोग राजनेताओं व आला अफसरों से मिल विजिलेंस अधिकारियों की बजाए एक्साइज विभाग के ही अफसरों से करवाने का दबाव डाल रहे हैं। एक्साइज विभाग के अधिकारियों के बंधे हुए महीनों, जाली बिलों के करोड़ों रुपए के घोटाले में आने वाले दिनों में और भी बड़े खुलासे संभव हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें