पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हत्या या नेचुरल डेथ:अबोहर में संदिग्ध हालात में विवाहिता की मौत; पहली पत्नी की मौत के बाद साली से की थी शादी, उसका भी शव मिला

अबोहर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बड़ी बेटी को करंट लगाकर मार दिया था, साली से शादी रचाई तो उसे गला घोंटकर मार दिया। - Dainik Bhaskar
बड़ी बेटी को करंट लगाकर मार दिया था, साली से शादी रचाई तो उसे गला घोंटकर मार दिया।

पंजाब के अबोहर जिले के गांव कल्लरखेड़ा में एक विवाहिता की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। बताया जा रहा है कि शख्स ने पत्नी की मौत के बाद साली से शादी की थी और अब उसका शव मिला है। इसलिए मृतका के परिजनों ने ससुरालियों पर हत्या किए जाने का आरोप लगाया है। मृतका के पिता की शिकायत पर पुलिस ने ससुरालियों के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

गांव रावतसर निवासी राज कुमार ने बताया कि उन्होंने अपनी बेटी ममता की शादी करीब 4 साल पहले कल्लरखेड़ा निवासी राजिन्द्र जटवाल के साथ की थी। लेकिन, शादी के बाद से ससुराल वाले उसे दहेज के लिए तंग कर रहे थे। बीती शाम फोन आया कि ममता की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई। जब वे ममता के ससुराल पहुंचे तो उसके अंतिम संस्कार की तैयारी चल रही थी।

राजकुमार ने बताया कि इस दौरान उन्होंने ममता के गले पर निशान देखे तो उन्हें कुछ संदेह हुआ। फिर उन्होंने खूब हंगामा किया और अंतिम संस्कार नहीं होने दिया। मामले की सूचना उन्होंने पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लिया और ममता के पति राजिन्द्र, देवर पवन कुमार, सास शारदा, ससुर साहबराम के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया।

राज कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में यह भी बताया कि उनकी बड़ी बेटी पूजा भी राजिन्द्र से विवाहित थी और उसको भी इन्होंने करंट लगाकर मार डाला था। यहीं नहीं पूजा का भी उनके आने से पहले ही अंतिम संस्कार कर दिया गया था। एक बार फिर वही मामला दोहराया गया, लेकिन गनीमत रही कि वे अंतिम संस्कार से पहले पहुंच गए, वरना सच सामने नहीं आता।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

और पढ़ें