पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आंदोलन के 2 किरदार:एक ने 10 लाख का पैकेज छोड़ा तो दूसरे ने सरकारी नौकरी दांव पर लगाई

पंजाब7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बुजुर्गों के फटे जूते देखे तो गुरदासपुर का 15 एकड़ का जमींदार और सॉफ्टवेयर इंजीनियर करने लगे जूते ठीक

गुरदासपुर की उत्तम सेवा समिति के सदस्य हरसरूप सिंह अपने बारे में बताने से पहले इनकार करते रहे। वे अपनी पहचान तक नहीं बता रहे थे। काफी देर बाद उनके साथियों ने उनके बारे में बताया। उनके एक दोस्त दिलजीत सिंह ने बताया कि उनकी समिति के कई सदस्य यहां आए हुए हैं। हरसरूप भी उनके साथ यहां आंदोलन में शामिल होने आया है। हरसरूप 15 एकड़ का जमींदार है। जब यहां बुजुर्ग किसानों के फटे जूते देखे तो उसका मन काफी दुखी हुआ। उसने यहां जूते की सेवा करने का संकल्प लिया। आज 10 दिन से यहां किसानों के जूते की फ्री सिलाई व पाॅलिश कर रहा है। अब तो उसके साथ अन्य साथी भी इस सेवा में लगे हुए हैं। दिलजीत सिंह ने कहा कि उनके सॉफ्टवेयर इंजीनियर दोस्त गुरजिंद्र सिंह 10 लाख का पैकेज छोड़कर सामने लंगर में रोटी पकाने की सेवा कर रहा है।

एसएमओ बोले- नौकरी बचेगी या नहीं पर किसानों की सेवा करके मन खुश है...

किसान आंदोलन के समर्थन में सरकारी कर्मचारी भी नौकरी दांव पर लगाकर नि:शुल्क सेवा कर रहे हैं। कुछ ऐसे हैं, जिन्हें उनके विभाग ने छुट्‌टी नहीं दी तो वे इस्तीफा देकर पहुंच गए हैं। कुछ युवा जो खुद 15-20 एकड़ के जमींदार हैं और प्राइवेट कंपनी में लाखों के पैकेज पर काम कर रहे थे, लेकिन बुजुर्गों के फटे जूते देखे तो खुद मोची बन गए और कैंप लगाकर किसानों के जूते सिलाई व पाॅलिश कर रहे हैं।

मैंने 9 दिसंबर को सरकार से छुट्‌टी मांगी, नहीं मिली तो इस्तीफा देकर आया हूं: एसएमओ डॉ. अशोक शर्मा
मैं अशोक शर्मा राजस्थान के उदयपुर के सिविल अस्पताल में एसएमओ हूं। किसान आंदोलन को लेकर टीवी पर समाचार देखता था तो मन काफी दुखी होता था। 9 दिसंबर को अपने विभाग को छुट्‌टी भेजी, विभाग ने छुट्‌टी नहीं दी। आंदोलन में आना था, इसलिए मैंने विभाग को अपना इस्तीफा भेज दिया। नौकरी बचेगी या नहीं, यह तो पक्का नहीं है, लेकिन किसानों को जो सेवा कर रहा हूं, उससे मन काफी खुश है। जीवन में इससे बड़ी सेवा कोई हो नहीं सकती। अभी 8 साल की सर्विस बाकी थी, लेकिन जो सर्विस अब इन किसान भाइयों की नि:शुल्क कर रहा हूं, यह हर सर्विस से बड़ी है। इसका कोई न तो मोल है और न ही कोई इनाम। आंदोलन देखने के लिए आया था, लेकिन अब आंदोलन का हिस्सा बनकर यहां मेडिकल कैंप में फ्री इलाज कर सेवा कर रहा हूं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिस्थितियां अति अनुकूल है। कार्य आसानी से संपन्न होंगे। आपका अधिकतर ध्यान स्वयं के ऊपर केंद्रित रहेगा। अपने भावी लक्ष्यों के प्रति मेहनत तथा सुनियोजित ढंग से कार्य करने से काफी हद तक सफलत...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...

  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser