पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Opposition Will Surround The Government If Agriculture Law, Scholarship And Not Giving Agenda Before Session, Uproar Inside And Outside The House

विधानसभा का विशेष सत्र दो दिन चलेगा:कृषि कानून, स्कॉलरशिप और सत्र से पहले एजेंडा न देने पर सरकार को घेरेगा विपक्ष, सदन के अंदर और बाहर हंगामे के आसार

चंडीगढ़एक दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो।
  • आज सेशन से पहले किसानों के साथ 3 मंत्रियों की मीटिंग
  • विधानसभा सत्र में पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के आने पर असमंजस बरकरार

कृषि कानूनों को लेकर पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र अब दो दिन का होगा। इस दौरान सदन के अंदर और बाहर दोनों ही जगह हंगामा होने के पूरे आसार हैं। कांग्रेस एक ओर अपने विधायकों और मंत्रियों के साथ मीटिंग कर रणनीति बना चुकी है। वहीं, आम आदमी पार्टी और शिरोमणि अकाली दल भी सरकार को घेरने के लिए अपने दलों के विधायकों से सदन में उठाए जाने वाले मुद्दों को डिस्कस करने के साथ सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा कर चुके हैं।

सदन में खासतौर पर कृषि बिलों के साथ विपक्षी दल द्वारा पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप मामले और सत्र से पहले एजेंडा नहीं दिए जाने को लेकर सरकार पर निशाना साधेगी। इस बार का यह सत्र ऐतिहासिक साबित होगा।

क्योंकि एक ओर जहां इसमें केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ सरकार द्वारा बिल पेश किया जाएगा। वहीं, दूसरी ओर अपनी पहले की पार्टी से जुदा होकर अलग हुए विधायक भी अपनी ही पार्टी के नेताओं पर निशाना साधते नजर आएंगे। कृषि कानूनों का मुद्दा सरगर्म होने के बावजूद पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के सदन में आने पर अभी असमंजस बरकरार है।

विधानसभा सत्र में पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के आने पर असमंजस बरकरार

शिअद VS कांग्रेस

कृषि कानून : कैप्टन की नेतृत्व में सभी दलों के नेताओं को पीएम या केंद्रीय कृषि मंत्री से मिलने का प्रोग्राम तय हुआ था तो सीएम शिष्टमंडल लेकर क्यों नहीं गए।
स्कॉलरशिप: पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप मामले में मंत्री साधु सिंह धर्मसोत को क्लीन चिट देने पर कांग्रेस निशाने पर रह सकती है। शिअद विधायक कांग्रेस को सदन में घेरने को लेकर मीटिंग भी कर चुके हैं।

आप VS कांग्रेस

ट्रैक्टर रैली व कृषि कानूनाें पर आक्रामक रहेगी आप... कृषि कानून : कृषि बिलों पर आप भी सरकार को घेरेगी। पंजाब में ट्रैक्टर रैली और केंद्र में बिल पास करते समय राहुल के मौजूद न रहने पर भी सवाल होंगे। सत्र से पहले एजेंडा नहीं दिया: नेता प्रतिपक्ष हरपाल चीमा सत्र से पहले एजेंडा न देने, पोस्टमैट्रिक स्कॉलरशिप, सेशन बुलाने से पहले मीटिंग न करने और किसानों से सलाह न करने पर घरेंगे।

ढींडसा vs शिअद

ढींडसा के निशाने पर राहुल गांधी और हरसिमरत कौर...
कृषि कानून : शिअद से अलग हुए परमिंदर सिंह ढींडसा के आने की उम्मीद है। ढींडसा अपने ही पूर्व पार्टी शिअद की नेता हरसिमरत के कृषि कानून पर अपना स्टैंड देर में क्लीयर करने पर निशान साध सकते हैं।
ट्रैक्टर रैली : वह राहुल गांधी की रैली और कृषि कानूनों को लेकर उनके केंद्र के बिल लाने के वक्त गायब रहने का मुद्दा उठाकर सरकार को घेर सकते हैं।

कांग्रेस vs शिअद

हरसिमरत के इस्तीफे पर शिअद को घेरेगी कांग्रेस...

कृषि कानून : कृषि कानूनों पर पूर्व कैबिनेट मंत्री हरसिमरत कौर बादल के इस्तीफे सहित आर्डिनेंस का कैबिनेट में लाए जाने के समय विरोध न करने को लेकर कांग्रेस शिरोमणि अकाली दल को घेरने की तैयारी में है। वहीं, भाजपा के विधायकों द्वारा कृषि कानूनों का पिछले सेशन के दौरान पक्ष लिए जाने पर कांग्रेस के निशाने पर रहेंगे।

आज सेशन से पहले किसानों के साथ 3 मंत्रियों की मीटिंग

किसान आंदोलन को लेकर सूबा सरकार द्वारा किसान संगठनों से बातचीत करने के लिए बनाई गई कमेटी ने भारतीय किसान यूनियन एकता उग्राहा को सोमवार को सब कमेटी द्वारा मिलने के लिए आमंत्रित किया गया है। सब कमेटी की ओर से इस किसान जत्थेबंदी को पंजाब भवन में सुबह 10 बजे बातचीत के लिए बुलाया गया है। इसके चलते किसानों ने सोमवार को विस के बाहर धरने के कार्यक्रम को स्थगित कर दिया। संगठन महासचिव सुखदेव सिंह कोकरी कलों ने कहा कि कैप्टन से मांग की गई है कि सत्र में कानूनों बिल वापस ले।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें