बड़े बादल ने 5 लाख रुपए प्रतिमाह की पेंशन छोड़ी:5 बार CM रह चुके बादल को पूर्व MLA के तौर पर मिलती थी पेंशन; सरकार को भेजेंगे लैटर

चंडीगढ़5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब में आम आदमी पार्टी के नेता भगवंत मान के मुख्यमंत्री संभालने के दूसरे ही दिन शिरोमणि अकाली दल के संरक्षक और पूर्व CM प्रकाश सिंह बादल ने पूर्व विधायक के तौर पर मिलने वाली पेंशन छोड़ने का ऐलान कर दिया। 5 बार पंजाब के सीएम रह चुके प्रकाश सिंह बादल को पेंशन के तौर पर हर महीने तकरीबन 5 लाख रुपए मिलने की बात कही जाती रही है। हालांकि खुद बादल परिवार या पंजाब विधानसभा ने कभी आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि नहीं की। 10 बार विधानसभा चुनाव जीत चुके बादल इस बार लंबी विधानसभा सीट पर आम आदमी पार्टी के कैंडिडेट गुरमीत सिंह खुडियां से हार गए थे।

प्रकाश सिंह बादल के हवाले से अकाली दल ने ट्वीट करके उनके पेंशन छोड़ने की जानकारी दी। इस ट्वीट में कहा गया कि प्रकाश सिंह बादल पंजाब सरकार और विधानसभा स्पीकर से गुजारिश करते हैं कि उन्हें पूर्व विधायक के तौर पर जो भी पेंशन या भत्ते मिलते हैं, वह न दिए जाएं। इस रकम का इस्तेमाल पंजाब के हित में किया जाए। ट्वीट में यह भी कहा गया कि प्रकाश सिंह बादल इस बारे में औपचारिक पत्र भी सरकार को भेज रहे हैं।

आप नेता हरपाल चीमा ने भी विधायकों के साथ एक विधायक-एक पेंशन के लिए तत्कालीन स्पीकर राणा केपी को मांग पत्र सौंपा था
आप नेता हरपाल चीमा ने भी विधायकों के साथ एक विधायक-एक पेंशन के लिए तत्कालीन स्पीकर राणा केपी को मांग पत्र सौंपा था

कांग्रेस सरकार में उठा था मामला
पंजाब की पिछली कांग्रेस सरकार में चुने हुए जनप्रतिनिधियों का इनकम टैक्स राज्य सरकार द्वारा भरे जाने का मुद्दा उठा था। एक RTI के अनुसार प्रकाश सिंह बादल और नवजोत सिद्धू समेत 93 विधायकों का इनकम टैक्स पंजाब सरकार भर रही है। उसी वक्त यह मुद्दा उठा था कि सिर्फ इनकम टैक्स ही नहीं बल्कि कई नेता पेंशन के रूप में भी एक से ज्यादा पेंशन ले रहे हैं। इनमें पहला नाम प्रकाश सिंह बादल का था।

तब AAP नेता मिले थे स्पीकर से
यह मामला उठने के बाद पंजाब विधानसभा में आम आदमी पार्टी के नेता हरपाल चीमा स्पीकर से मिले थे। आप नेताओं ने मांग की थी कि एक विधायक को एक ही पेंशन मिलनी चाहिए चाहे वह कितनी ही बार चुना क्यों न गया हो। उन्होंने तत्कालीन स्पीकर राणा केपी को इसका पत्र भी सौंपा था। अब पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार है। इसलिए यह भी चर्चा हो रही है कि CM भगवंत मान इस बार में कोई बड़ा ऐलान कर सकते हैं।