रिश्वत विवाद पर सामने आए AAP विधायक:रंधावा बोले- नितिन नाम का कोई PA नहीं; थानेदार ने पैसे न मांगने का बयान दिया

चंडीगढ़13 दिन पहले

डेराबस्सी से आम आदमी पार्टी (AAP) के विधायक कुलजीत रंधावा ने दावा किया कि उनका नितिन नाम का कोई PA नहीं है। थानेदार ने खुद लिखकर दिया है कि उससे किसी ने रिश्वत नहीं मांगी। विधायक ने शिकायत करने वाले को मानसिक रोगी करार दे दिया।

कल विधायक के पीए कहे जाते नितिन लूथरा के खिलाफ सीएम भगवंत मान की हेल्पलाइन पर शिकायत पहुंची थी। जिसमें एक कॉल रिकॉर्डिंग थी। जिसमें बलटाना चौकी इंचार्ज बर्मा सिंह ने दावा किया कि MLA रंधावा के PA नितिन लूथरा ने उनसे एक लाख रुपए मांगे। जब पैसे नहीं दिए तो उनकी ट्रांसफर करवा दी।

MLA ने कहा, मेरे पास नितिन नाम के 5-7 लोग
MLA कुलजीत रंधावा ने कहा कि थानेदार ने बयान दिया है कि मुझसे कोई पैसा नहीं मांगा गया। न मुझे MLA का फोन आया। न ही कोई नितिन नाम का व्यक्ति मेरे पास आया। दूसरी तरफ शिकायत करने वाला धवन मानसिक रोगी है। नितिन नाम के मेरे पास 5-7 लोग हैं। कोई चाहे तो पंजाब विधानसभा का रिकॉर्ड चैक कर ले, नितिन नाम का मेरा कोई पीए नहीं है।

रंजिश होती तो जिले से बाहर ट्रांसफर करवाता
MLA कुलजीत रंधावा ने कहा कि थानेदार बर्मा सिंह सोहाना थाने में तैनत हुआ है। अगर मेरी कोई रंजिश होती तो जिले से बाहर तबादला करवाता। सोहाना थाने में तैनाती के लिए तो सिफारिशें की जाती हैं। मेरा 35 साल का राजनीतिक करियर है। मैंने कभी किसी से एक रुपया लिया हो तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा।