इस्तीफे के बाद भी सर्जरी में जुटे VC:बोले- यह काम करने लायक माहौल नहीं, CM भगवंत मान ने मुझसे माफी मांगी

चंडीगढ़4 महीने पहले

बाबा फरीद मेडिकल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर पर से इस्तीफा देने वाले डॉ. राज बहादुर अभी भी मरीजों के इलाज में जुटे हैं। वह मोहाली में रीजनल स्पाइनल इंजरी सेंटर (RSIC) में सर्जरी कर रहे हैं। इस्तीफे के बाद पहली बार मीडिया से बातचीत करते हुए उनकी आंखों से आंसू छलक आए।

उन्होंने कहा, मैंने CM भगवंत मान को सब कुछ बता दिया है। यह काम करने लायक माहौल नहीं है। CM ने इस रवैये के लिए माफी भी मांगी है।'

डॉ. राज बहादुर को सेहत मंत्री चेतन सिंह जौड़ामाजरा ने कल जबरन गंदे मैट्रेस पर लिटा दिया था। जिसकी वीडियो बनवाकर खूब वायरल भी की गई। जिसके बाद आधी रात को ही VC ने इस्तीफा दे दिया था।

इस्तीफे के बाद मोहाली में मरीजों का इलाज करते डॉक्टर राज बहादुर।
इस्तीफे के बाद मोहाली में मरीजों का इलाज करते डॉक्टर राज बहादुर।

मंत्री को खराब मैट्रेस ही देखने थे
डॉ. राज बहादुर ने कहा कि कल फरीदकोट में मंत्री चेकिंग के लिए आए थे। मेडिकल कॉलेज में 1100 मैट्रेस हैं। सब खराब नहीं हैं। मंत्री ने पूछा कि मैट्रेस क्यों खराब हैं। मैंने उन्हें बताया कि इसका ऑर्डर दिया जा रहा है। किसी भी चीज को खरीदने में 9 महीने का समय लगता है। ऐसा लगा कि मंत्री को खराब मैट्रेस ही देखने थे।

मेरा काम चीजों को अप्रूव करना
डॉ. राज बहादुर ने बताया कि मेरा काम सिर्फ चीजों को अप्रूव करना है। हमने तो मंत्रियों को खामियां दिखानी ही थी। तभी उसे ठीक करने के लिए सरकार से फंड मिलेगा। मंत्रियों को तो हेल्थ सिस्टम को सुधारने के लिए हमें सपोर्ट करनी चाहिए। जो सलाह देंगे, उसमें हेल्प करनी चाहिए।

इस्तीफे के बाद बातचीत करते वक्त डॉ. राज बहादुर की आंखों से आंसू छलक पड़े।
इस्तीफे के बाद बातचीत करते वक्त डॉ. राज बहादुर की आंखों से आंसू छलक पड़े।

काम करूं या नहीं, फैसला सरकार का
डॉ. राज बहादुर ने कहा, 'मैंने CM भगवंत मान को कह दिया है कि यह काम करने का वातावरण नहीं है।' मंत्री के माफी मांगने के सवाल पर उन्होंने कहा कि उन्होंने CM को सब बता दिया है। इस्तीफा वापस लेने के सवाल पर डॉ. राज बहादुर ने कहा कि मैं काम करूं या न करूं, यह सरकार ने फैसला करना है।

खबरें और भी हैं...