पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Punjab Chandigarh Coronavirus Outbreak Live | Punjab Coronavirus Latest Updates Total COVID 19 Cases In Amritsar Ludhiana Hoshiarpur Jalandhar Patiala Pathankot Latest Today News

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जिंदादिली:81 साल की उम्र: शुगर, हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट की प्रॉब्लम और ऊपर से कोरोना संक्रमण; सबको मात देकर लौटी घर

जालंधर/मोहाली8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना के संक्रमण से बाहर आ चुकी 81 वर्षीय कुलवंत निर्मल कौर। पंजाब के ठीक हो चुके 14 लोगों में यह सबसे उम्रदराज हैं और ऊपर से कई तरह की अन्य बीमारियों के बावजूद हौसले से काम लिया।
  • पंजाब में अब तक ठीक हो चुके 14 लोगों में सबसे ज्यादा उम्रदराज महिला, डॉक्टरों और नर्सों को कहा- थैंक्यू
  • ठीक होने के बाद उन्होंने लोगों से संक्रमण से बचने के लिए घर में रहने की अपील की, सीएम ने शेयर किया वीडियो

देश में कोरोना संक्रमण के हर दिन फैलते मामलों के बीच पंजाब से एक अच्छी खबर मिली। यहां 81 साल की महिला कुलवंत निर्मल संक्रमण से बचाव के लिए लोगों से घर में रहने की अपील करती नजर आईं। इस वीडियो को लोगों ने गुरुवार को देखा, लेकिन उन्हें यह नहीं मालूम था कि कुलवंत इस उम्र में भी अपने हौसले से कोरोना को परास्त कर चुकी हैं। उन्हें शुगर, हाई ब्लड प्रेशर, हृदय रोग पहले से था और ऊपर से कोरोना का संक्रमण हुआ था। इसके बावजूद कुलवंत बीमारी से उबरने में कामयाब रहीं। उनके हौसले को सलाम करते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने ट्विटर हैंडल से उनका वीडियो शेयर किया। वे पंजाब में संक्रमण के खौफ से निकलने वाली सबसे उम्रदराज महिला हैं।

विदेश से आई युवती से हुई थीं संक्रमित
अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुकी कुलवंत निर्मल इंग्लैंड से आई ट्राईसिटी की पहली कोरोना पॉजिटिव युवती के संपर्क में आने के चलते संक्रमित हुईं थी। दरअसल, उसकी एक सहेली इनके फ्लैट में किरायेदार थी, जिससे उन्हें कोरोना संक्रमण हुआ। बेटे गुरमिंदर सिंह का कहना है, 'हम घर पर क्वारैंटाइन थे और मां मोहाली के मैक्स हॉस्पिटल में। आपस में मिलने का कोई तरीका नहीं था। अस्पताल के डॉक्टर दीपक भसीन लगातार हमें उनके बारे में अपडेट देते थे। मां शुरू से ही पाजिटिव मूड की थीं, पर जब हम सबका टेस्ट निगेटिव आया तो उनका मनोबल और भी बढ़ गया।'
वहीं महिला का इलाज करने वाले डॉक्टर दीपक भसीन का कहना है कि वह काफी पॉजिटिव थीं। उन्हें भरोसा था कि वह ठीक हो जाएंगी। इलाज करने वाली टीम में भी अपनी जिंदादिली से जोश भर देती थीं। इसी का नतीजा है कि वह सकुशल होकर घर लौटी हैं। डॉक्टर ने उनके इलाज से जुड़े कई पहलू भी शेयर किए।

40 साल स्टाफ नर्स के रूप में काम किया
डॉ. भसीन ने बताया कि कुलवंत कौर ने चालीस साल स्टाफ नर्स के रूप में काम किया है। वह चंडीगढ़ के सरकारी अस्पताल से रिटायर हुई थीं। उनके घर कोई विदेश से आया था। उसी के संपर्क में आने से वह कोरोना की शिकार हुई थीं। हालांकि जब यह अस्पताल पहुंची तो यह अस्पताल के लिए काफी संवेदनशील मरीज थीं, क्योंकि वह पहले ही हॉर्ट, हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज से पीड़ित थीं। उम्र भी 81 साल है। कोविड के सबसे घातक लक्षण उनमें थे। रिस्क काफी था, लेकिन खुद पर भरोसे और जिंदादिली के कारण दो हफ्ते के बाद वह आखिर स्वस्थ होकर घर लौट गईं। 

शुगर कंट्रोल करने में आई थोड़ी दिक्कत
डॉ. भसीन के मुताबिक कुलवंत निर्मल के इलाज की शुरुआत में शुगर कंट्रोल करने से लेकर अन्य दिक्कतों पर काबू किया। इसके बाद इलाज में उन्हें कोई दिक्कत नहीं आई। वह अस्पताल में बड़े प्यार से रहीं। उनकी टीम ने दो टेस्ट किए, जो निगेटिव आए। इसके बाद अब सकुशल होकर लौटी थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें