गौरव यादव ही रहेंगे पंजाब के DGP:छुट्‌टी से लौट रहे भावरा को हाउसिंग कार्पोरेशन में लगाया जाएगा; कांग्रेस सरकार भी ऐसा कर चुकी

चंडीगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डीजीपी गौरव यादव - Dainik Bhaskar
डीजीपी गौरव यादव

IPS अफसर गौरव यादव ही पंजाब पुलिस के महानिदेशक (DGP) रहेंगे। 4 सितंबर को छुट्‌टी से लौट रहे वीके भावरा को पंजाब पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन में लगाया जाएगा। आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार ने इसकी तैयारी कर ली है। इससे पहले पूर्व CM चरणजीत चन्नी की अगुआई वाली कांग्रेस सरकार ऐसा कर चुकी है।

दिनकर गुप्ता के छुट्‌टी पर जाने के बाद पहले इकबालप्रीत सहोता को डीजीपी लगाया गया। इसके बाद नवजोत सिद्धू की जिद पर सिद्धार्थ चट्‌टोपाध्याय को डीजीपी लगाया गया। परमामेंट डीजीपी दिनकर गुप्ता को इसी कार्पोरेशन में लगाया गया। जिसके बाद वह केंद्र में डेपुटेशन पर चले गए।

DGP वीके भावरा।
DGP वीके भावरा।

यहां फंस सकता है पेंच
वीके भावरा को UPSC पैनल के बाद डीजीपी लगाया गया है। यह पैनल पंजाब सरकार ने ही भेजा था। वहीं गौरव यादव के पास फिलहाल अतिरिक्त चार्ज है। इसके बावजूद भावरा को DGP की कुर्सी से हटाया जा सकता है या नहीं, इसको लेकर सरकार कानूनी राय ले रही है। यह भी चर्चा है कि अगर भावरा को हटाना है तो फिर AAP सरकार को UPSC को फिर पैनल भेजना होगा। जिसको लेकर DGP की कुर्सी पर पेंच भी बरकरार माना जा रहा है।

संगरूर हार के बाद भावरा से नाराज हुई सरकार
आम आदमी पार्टी ने सरकार बनाने के बाद डीजीपी वीके भावरा को नहीं बदला। हालांकि इस दौरान मोहाली में पुलिस इंटेलिजेंस ऑफिस पर अटैक हुआ। पटियाला में हिंसा हुई। कबड्‌डी खिलाड़ी संदीप नंगल अंबिया की हत्या हुई। इसके बाद सिंगर सिद्धू मूसेवाला का कत्ल हो गया। उनकी सुरक्षा में पंजाब पुलिस ने एक दिन पहले कटौती की थी। इस पर भी सरकार ने भावरा को डीजीपी बनाए रखा। जब आप संगरूर लोकसभा उपचुनाव हारी तो भावरा को हटाने की तैयारी कर ली गई। जिसके बाद भावरा छुट्‌टी पर चले गए।