पंजाब के IAS के घर छापेमारी:सोने की 9 और चांदी की 3 ईंटें बरामद, 73 कारतूस भी मिले; करप्शन के केस में हुई रेड

चंडीगढ़5 महीने पहले

पंजाब में करप्शन केस में पकड़े गए IAS अफसर संजय पोपली के घर से साढ़े 12 किलो सोना बरामद हुआ है। पोपली के घर से सोने की एक किलो वाली 9 ईंटें, सोने के 3.16 किलो के 49 बिस्कुट और 356 ग्राम के 12 सोने के सिक्के मिले हैं। इसके अलावा चांदी की एक-एक किलो की 3 ईंटें भी मिली हैं। चांदी के 10-10 ग्राम के सिक्के भी बरामद हुए हैं।

इसके साथ ही 4 Iphone, एक सैमसंग का फोल्डर फोन, 2 स्मार्टवाच और 3.50 लाख रुपए कैश भी मिला है। यह बरामदगी पोपली के सेक्टर 11बी स्थित मकान नंबर 520 के स्टोर रूम में पड़े काले रंग के लेदर बैग से हुई। उसे छुपाकर रखा गया था। इसी बरामदगी के दौरान ही पोपली के बेटे कार्तिक पोपली की गोली लगने से मौत हो गई। हालांकि, विजिलेंस ब्यूरो के अफसरों का कहना है कि कार्तिक ने खुद को गोली मारी है।

रेड के दौरान IAS के बेटे की मौत:मां बोली- दोषियों की वर्दी उतरने तक बेटे के खून से सने हाथ नहीं धोऊंगी

IAS के घर के स्टोर रूम से मिली सोने की ईंटें
IAS के घर के स्टोर रूम से मिली सोने की ईंटें
IAS पोपली के घर से बरामद सारा सामान
IAS पोपली के घर से बरामद सारा सामान

सीवरेज प्रोजेक्ट में मांगा था 1% कमीशन
संजय पोपली ने करनाल के ठेकेदार से नवांशहर में 7.30 करोड़ के सीवरेज प्रोजेक्ट में 1% कमीशन मांगा था। ठेकेदार ने विभाग के सुपरिटेंडिंग इंजीनियर संजय वत्स के जरिए 3.50 लाख दे दिए। इसके बाद पोपली का सीवरेज बोर्ड के CEO पद से तबादला हो गया। इसके बावजूद वह बाकी 3.50 लाख रुपए का दबाव डालने लगे। जिसकी रिकॉर्डिंग कर ठेकेदार ने सीएम हेल्पलाइन पर कंप्लेंट कर दी। जिसके बाद पोपली को चंडीगढ़ से गिरफ्तार कर लिया गया।

संजय पोपली को विजिलेंस ने चंडीगढ़ से गिरफ्तार किया था।
संजय पोपली को विजिलेंस ने चंडीगढ़ से गिरफ्तार किया था।

घर से मिले कारतूस, आर्म्स एक्ट का भी केस
संजय पोपली की गिरफ्तारी के बाद विजिलेंस ने उनके चंडीगढ़ के सेक्टर 11 स्थित घर की तलाशी ली। वहां से 73 कारतूस मिले। इनमें 7.65MM के 41, .32 बोर के 2 और .22 बोर के 30 कारतूस भी शामिल हैं। जिस वजह से पोपली पर आर्म्स एक्ट का केस दर्ज कर लिया गया है।

​​​​​IAS के बेटे की मौत पर सियासी घमासान:कांग्रेस बोली-कानून प्रक्रिया का ड्रामा बना दिया; AAP का जवाब - करप्शन पर एक्शन जारी रहेगा

एक और ठेकेदार ने दर्ज कराई शिकायत
इसके अलावा करनाल के ठेकेदार ने भी शिकायत दी थी। जिसमें कहा कि मोरिंडा और तलवाड़ा में 16 लाख के काम के बदले उनसे 5 लाख की रिश्वत मांगी गई। उन्हें झूठे केस में फंसाने की धमकी तक दी गई। इस मामले में भी पोपली से विजिलेंस पूछताछ करेगी।