प्रताड़ना / युवक ने फेसबुक पर लाइव हो फंदा लगाया, कहा- घर पर हमले की शिकायत पर पुलिस ने विधायक के दबाव में नहीं की कार्रवाई

नवांशहर में फेसबुक पर लाइव हो आत्महत्या करने वाले युवक की वायरल वीडियो से ली गई तस्वीर।
X

  • नवांशहर जिले के गांव शमशपुर के 25 वर्षीय युवक वरिंदर सिंह के रूप में हुई है मृतक की पहचान
  • आरोप को नकारते हुए विधायक बोले-युवक की मौत दुर्भाग्यपूर्ण, लेकिन राजनैतिक साजिश है यह वीडियो

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 07:46 PM IST

नवांशहर. नवांशहर जिले में एक युवक ने सोमवार देर रात फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। इससे पहले उसने फेसबुक पर लाइव हो विधायक, सरपंच और कई अन्य लोगों पर पर तंग करने के आरोप लगाए हैं। युवक वीडियो में बोल रहा है कि उसके घर पर हमला करने व उसकी बेइज्जती करने के बाद भी उल्टा पुलिस ने उन पर ही कार्रवाई की। विधायक अंगद सैनी ने पुलिस पर उन पर कार्रवाई करने का दबाब बनाया था। हालांकि विधायक और पुलिस अधिकारी किसी भी तरह का धक्का किए जाने की बात से इनकार कर रहे हैं, वहीं नाराज परिजनों ने कार्रवाई नहीं होने तक युवक का अंतिम संस्कार नहीं करने की चेतावनी दी है।

मृतक की पहचान गांव शमशपुर के 25 वर्षीय युवक वरिंदर सिंह के रूप में हुई है। उसने सोमवार को देर रात फेसबुक पर लाइव हो बताया कि कुछ दिन पूर्व उसके पिता से कुछ लोगों ने विवाद किया था। पहले उनकी फसलें खराब कर दी गई उस समय वह घर पर नहीं था और फिर शाम को पिता के साथ विवाद हुआ तो वह मौके पर पहुंचा। इस दौरान कुछ लोगों ने उन पर हमला किया। मामले की जानकारी सरपंच को दी गई, लेकिन सरपंच ने उनका साथ नहीं दिया।

पुलिस भी मामले में लीपापोती कर रही। उल्टा उन्हीं लोगों के खिलाफ केस कर दिया गया है। युवक ने आरोप लगाया कि पुलिस पर सरपंच व विधायक दबाव बना रहे हैं। उन्हीं के दबाव में उन पर कार्रवाई की जा रही है। इस बयान के बाद वरिंदर सिंह ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। 

दूसरी ओर आरोपों में घिरे नवांशहर के विधायक अंगद सैनी का कहना है कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि युवक ने आत्महत्या की है। युवक के पिता निर्मल सिंह पंचायत की जमीन ठेके पर लेकर खेती करते हैं। इस बार प्रकाश राम नामक व्यक्ति ने ज्यादा बोली देकर पंचायत की उस जमीन को ठेके पर ले लिया तो दोनों परिवारों में दुश्मनी पैदा हो गई और दोनों की 10-11 जून को बहसबाजी भी हुई।

दोनों पक्षों के खिलाफ क्रॉस केस भी दर्ज हुए। विधायक ने कहा कि वीडियो में युवक कहता है कि तीन-चार दिन पहले लड़ाई हुई थी। मतलब कि वीडियो 13 या 14 जून का होना चाहिए, जबकि युवक ने आत्महत्या 29 जून को की है। उन्होंने कहा कि पुराने वीडियो को वायरल कर इसे पालिटिकल मुद्दा बनाने की कोशिश की जा रही है।

नवांशहर के डीएसपी हरनील सिंह ने मीडिया को बताया कि परिवार के बयान दर्ज करके, जो भी कारवाई बनती होगी, वह की जाएगी। उन्होंने पुलिस की तरफ से पहले दी गई शिकायत की जांच में कोताही की बात से भी इनकार किया। वहीं, नाराज परिजनों ने कार्रवाई नहीं होने तक युवक का अंतिम संस्कार नहीं करने की चेतावनी दी है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना