• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Punjab Vidhan Sabha Session; Bhagwant Mann, Agneepath Scheme, Sidhu Moosewala Song SYL

पंजाब विधानसभा में उठी आवाज:अग्निपथ स्कीम, मूसेवाला के SYL गीत और किसानों के ट्विटर अकाउंट बैन करने का विरोध; निंदा प्रस्ताव लाएगी सरकार

चंडीगढ़7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विधानसभा में बोलते सीएम भगवंत मान। - Dainik Bhaskar
विधानसभा में बोलते सीएम भगवंत मान।

पंजाब विधानसभा सेशन के चौथे दिन सेना भर्ती की अग्निपथ स्कीम का मुद्दा गूंजा। नेता विपक्ष प्रताप सिंह बाजवा ने यह मुद्दा उठाया। सीएम भगवंत मान ने कहा कि इसके खिलाफ प्रस्ताव लाया जाएगा। इसके बाद कांग्रेस विधायक सुखपाल खैहरा ने पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के SYL गीत को यूट्यूब से बैन करने और किसान एकता मोर्चा एवं ट्रैक्टर टू ट्विटर अकाउंट बैन करने का भी मुद्दा उठाया।

उन्होंने कहा कि इस संबंध में निंदा प्रस्ताव लाया जाना चाहिए। इस पर सीएम भगवंत मान ने कहा कि अगर कोई आवाज बंद की जाती है तो हम उसके खिलाफ हैं। देश में फ्रीडम ऑफ स्पीच संवैधानिक अधिकार है। इस संबंध में भी प्रस्ताव लाएंगे।

अग्निपथ स्कीम का विरोध करते विपक्षी दल नेता प्रताप बाजवा।
अग्निपथ स्कीम का विरोध करते विपक्षी दल नेता प्रताप बाजवा।

अग्निपथ पंजाब के युवाओं के हितों के विरोध में : बाजवा
विपक्षी दल नेता प्रताप बाजवा ने कहा कि अग्निपथ स्कीम राज्य के युवाओं के हित के विरोध में है। उन्होंने कहा कि देश की फौज में पंजाबी युवाओं का बड़ा योगदान है। उन्होंने कहा कि भारत चीन और पाकिस्तान के खतरे से जूझ रहा है। ऐसे में ठेके पर सिपाही भर्ती नहीं किए जा सकते।

भाजपा विधायक अश्वनी शर्मा ने अग्निपथ स्कीम का समर्थन किया
भाजपा विधायक अश्वनी शर्मा ने अग्निपथ स्कीम का समर्थन किया

पंजाब सरकार अग्निपथ स्कीम के खिलाफ : भगवंत मान

इस पर CM भगवंत मान ने कहा कि यह भावनात्मक मुद्दा है। साढ़े 17 साल का बच्चा 21 साल में रिटायर हो जाएगा। फिर वह खुद को पूर्व फौजी भी नहीं लिख सकता। उसे कंटीन का लाभ भी नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार इस भर्ती स्कीम के खिलाफ है। मान ने कहा कि 2 महीने की ट्रेनिंग युवाओं के बाद में भी किसी काम नहीं आएगी। इस पर जरूर प्रस्ताव लाया जाएगा।

सिर्फ विपक्षी होने की वजह से स्कीम का विरोध : अश्वनी शर्मा
इसको लेकर भाजपा विधायक अश्वनी शर्मा ने जमकर हंगामा किया। भाजपा विधायक अश्वनी शर्मा ने कहा कि बाजवा सिर्फ विरोधी दल होने की वजह से विरोध कर रहे हैं। वह स्कीम में कोई कमी नहीं बता रहे हैं। सरकार फौज में भर्ती होने वाले युवक को 10वीं के बाद पढ़ाई कराएगी। युवाओं के पास 3 साल बाद 47 लाख रुपए होंगे। वह जो चाहे करें।