विवाद / सिर्फ शक की बिनाह पर गोदाम को सील किया एक्साइज विभाग ने, गर्मी में 5 घंटे अंदर बंद कर्मचारी की हालत बिगड़ी

जालंधर में ताला तोड़कर गोदाम से निकाले गए व्यक्ति को संभालते उसके परिचित।
X

  • जालंधर के लैदर कॉम्पलेक्स में स्थित शराब के गोदाम को मंगलवार शाम को ताला लगाया था एक्साइज और पुलिस विभाग की टीम ने
  • फोन की बची-खुची बैटरी की मदद से कॉल करके दोस्तों को बुलाया, तब कहीं जाकर ताला तोड़कर निकाला बलदीप को
  • पुलिस ने मौके पर शराब की 3-4 बोतल रखकर अपनी बात को सही ठहराने की कोशिश की, बात करने से कतराते रहे अधिकारी

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:18 PM IST

जालंधर. जालंधर में बुधवार को एक्साइज और पुलिस विभाग की लापरवाही सामने आई है। शक की बिनाह पर रेड करने पहुंची संयुक्त टीम ने शराब के एक गोदाम को ताला जड़ दिया। इस दौरान अंदर गोदाम का एक कारिंदा आवाजें लगाता रहा, मगर किसी ने एक न सुनी। अंजाम यह हुआ कि चिलचिलाती गर्मी में 5 घंटे अंदर बंद रहने की वजह से उसकी हालत बिगड़ गई। किसी तरह दोस्तों को फोन करके बुलाया और जब तक ताला खुला वह बेहोश मिला। बाद में आनन-फानन में पुलिस 3-4 बोतल शराब रखकर अपनी बात का जायज ठहराने की कोशिश करती नजर आई।
लैदर कॉम्पलेक्स स्थित एक गोदाम में काम करने वाले पीड़ित बलदीप सिंह का कहना है कि जब मंगलवार शाम को शटर नीचे करके ताला लगाया जा रहा था तो उसने अंदर से आवाज भी लगाई, लेकिन पुलिस ने सुनी नहीं। उसके फोन की बैटरी डाउन थी और वह किसी को फोन भी नहीं कर पाया। किसी तरह उसकी बैटरी कुछ चली तो उसने फोन किया। वहीं मदद करने वाले उसके दोस्तों की मानें तो उन्हें जब बलदीप का फोन आया तो उन्होंने थाने में फोन कई बार किया, तब कहीं जाकर काफी देर बाद आए। अगर बलदीप को कुछ हो जाता तो कौन जिम्मेदार होता।
दूसरी ओर एक्साइज विभाग के इंस्पेक्टर रमन भगत भी मौके पर पहुंच गए थे। उनका कहना है कि जब ताला तोड़ा गया तो उस समय बलदीप अंदर नहीं था। साथ ही मौके पर पहुंचे फ्लाइंग पुलिस दस्ते ने हालांकि कुछ कहने से इनकार कर दिया, लेकिन उनकी बातें कैमरा में रिकॉर्ड होती रही। इनसे पता चलता था कि वो भी घबराए हुए थे कि अंदर बंद आदमी को कुछ हो भी सकता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना