• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • SAD Said AAP Is False, Employees Have No Salary, How Will The Old Pension Scheme Be Implemented

CM के फर्जी लेटर मामले में गवर्नर कराएं FIR:SAD ने कहा- झूठी है AAP, कर्मचारियों को सैलरी नहीं, ओल्ड पेंशन स्कीम कैसे होगी लागू

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब के CM भगवंत मान द्वारा PAU के VC की नियुक्ति के संबंध में गवर्नर बनवारी लाल पुरोहित को अलग लेटर भेजने और पब्लिक को फर्जी लेटर भेजकर फ्रॉड करने के मामले में शिअद ने केस दर्ज कराने की मांग की है। शिअद ने मामले को बड़ा फ्रॉड बताया है और कहा है कि पंजाब गवर्नर बनवारी लाल पुरोहित चंडीगढ़ पुलिस को केस दर्ज करने के निर्देश दें। साथ ही मामले की इंक्वायरी हाईकोर्ट के सिटिंग जज या CBI से कराएं।

कैबिनेट मीटिंग के बाद घोषणा करते पंजाब CM भगवंत मान।
कैबिनेट मीटिंग के बाद घोषणा करते पंजाब CM भगवंत मान।

शिअद के प्रवक्ता दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि AAP की सरकार झूठी है, ऐसे में पंजाब के लोग उसपर कैसे भरोसा कर सकते हैं। क्योंकि ये गवर्नर को जो लेटर लिखते हैं, वह अलग होता है और पब्लिक के बीच CM अपने FACEBOOK/TWEETER और मीडिया में फर्जी लेटर जारी कर पब्लिक को गलत संदेश देते हैं।

शिअद ने कहा कि CM भगवंत मान ने गवर्नर को भेजी अंग्रेजी की लेटर में टेंपरिंग, जालसाजी और फ्रॉड कर लोगों को गलत संदेश देने का क्राइम किया है। सवाल खड़ा किया गया कि यदि गवर्नर और CM के बीच की फाइल में भी जालसाजी होगी तो बाकी सरकारी फाइलों में क्या होता होगा।

शिअद ने कहा कि AAP की पंजाब सरकार की रेपुटेशन झूठी पार्टी की बन चुकी है। जिस गवर्नर ने CM भगवंत मान को शपथ दिलवाई, उन्हीं से वह फ्रॉड करने से बाज नहीं आ रहे। ऐसे में AAP की बाकी घोषणाओं पर भरोसा कैसे किया जा सकता है।

गुरु साहिब को भी नहीं छोड़ा
दलजीत चीमा ने कहा कि ये गुरु साहिब को भी नहीं छोड़ते। CM की 3 सितंबर को घोषणा है कि पालकी साहिब वाली टैक्सियों पर टैक्स नही लगाया जाएगा। अखबारों में इश्तिहार भी छपवाए गए। लेकिन आज फिर दीवाली के तोहफे के रूप में इसे दोहराया गया है। चीमा ने कहा कि गुरु के नाम पर यदि कोई घोषणा कर दी जाए तो उसे तो पूरा कर दो, न कि हर छह महीने बाद फिर वही घोषणा।

कैबिनेट मीटिंग के फैसलों बारे बताते AAP मंत्री अमन अरोड़ा व अन्य।
कैबिनेट मीटिंग के फैसलों बारे बताते AAP मंत्री अमन अरोड़ा व अन्य।

2010 से जारी है पावरकॉम के आश्रितों को नौकरी मिलना
दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि पावरकॉम में कर्मचारी की मृत्यु पर उसके आश्रित को तरस के आधार पर नौकरी की पॉलिसी साल 2010 में अकाली दल की सरकार के समय से जारी है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस स्कीम को साल 2004 में बंद कराया था। लेकिन साल 2010 से इसे दोबारा चलाया गया, जोकि अभी भी जारी है। फिर AAP सरकार दिवाली पर झूठी घोषणाएं क्यों करती है।

बजट है नहीं, ओल्ड पेंशन स्कीम कैसे होगी लागू
शिअद की ओर से कहा गया कि AAP ने कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन स्कीम लागू करने की घोषणा की। लेकिन पंजाब सरकार के पास मिड-डे मिल वर्करों, PRTC के कर्मचारियों को वेतन देने के लिए भी पैसे नहीं है। उन्हें 10-15 दिन देरी से वेतन दिया जा रहा है। बजट में भी सरकार ने पैसे का बंदोबस्त नहीं किया है। ऐसे में ओल्ड पेंशन स्कीम कैसे लागू हो सकेगी। शिअद ने कहा कि यह घोषणा केवल गुजरात और हिमाचल प्रदेश के लोगों को गुमराह करने के लिए की गई है।

AAP गवर्नर पर फोड़ेगी नाकामी का ठीकरा
शिअद के नेता दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि घोषणाएं पूरी नहीं होने पर पंजाब की AAP सरकार विधानसभा में बिल लाने की बात कहेगी। इसके बाद फाइल पंजाब गवर्नर को भेजनी होगी और जब गवर्नर पॉलिसी से संबंधित फंड के संबंध में पूछेंगे तो AAP लोगों से कहेगी कि गवर्नर ही पेंशन स्कीम लागू नहीं होने देते।

गुजरात-हिमाचल चुनाव के लिए 1-1 हजार रुपए
​​​​​​​
शिअद ने कहा कि अब पंजाब सरकार आगामी 5-7 दिन में पंजाब की महिलाओं-लड़कियों को 1-1 हजार रुपए भी देगी, क्योंकि हिमाचल प्रदेश और गुजरात में चुनाव प्रचार जो करना है। दलजीत चीमा ने कहा कि लोग AAP के झूठे प्रचार से तंग आ चुके हैं।

भर्तियों में पहले से पंजाबी भाषा लागू
​​​​​​​
शिअद ने कहा कि पंजाब में होने वाली सरकारी भर्तियों में पहले से पंजाबी भाषा लागू है। आज केवल 50 प्रतिशत नंबर अनिवार्य होने की बात कही गई, लेकिन सवाल बेईमानी का है। AAP सरकार में जो उम्मीदवार पटवारी और अन्य परीक्षाओं में फेल रहे वे तहसीलदार के टेस्ट में पास हो जाते हैं। वेटरनरी अफसरों की नियुक्ति में CM के जिले के एक ही सेंटर के 70 लोग पास हो जाते हैं।

पीपीएससी के दो बड़े स्कैंडलशिअद ने कहा कि PPSC के तहसीलदार और वेटरनरी के दो बड़े घोटाले सामने हैं, लेकिन कोई इंक्वायरी कराने वाला नहीं है।