पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ठेकेदार ने बर्बाद किया परिवार:दो बच्चों की गोली मारकर हत्या के बाद खुद को गोली मारी; पत्नी की हालत गंभीर, डीएमसी में भर्ती

फरीदकोट/लुधियानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
परिवार की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
परिवार की फाइल फोटो।
  • बच्चों को गोली मारी तो पत्नी भिड़ गई, उसके मुंह में लगी गोली गले में फंसी

यहां के पॉश इलाके नारायण नगर में स्ट्रीट लाइटों के ठेकेदार करण कटारिया उर्फ आशू (38 वर्ष) ने शनिवार तड़के करीब 5 बजे अपने दो बच्चों की कथित तौर पर गोली मारकर हत्या कर दी। आवाज सुनकर एकदम उठी पत्नी शीनम (36 वर्ष) को वह गोली मारने लगा तो उनके बीच हाथापाई हुई, जिसके कारण गोली उसके मुंह में लगकर गले में फंस गई।

उसे मरा हुआ समझकर ठेकेदार ने अपने सिर में गोली मारकर मौके पर ही खुदकुशी कर ली। व्यावसायिक उतार-चढ़ाव के चलते पैदा हुई वित्तीय तंगहाली व मानसिक परेशानी के बीच युवा ठेकेदार के इस कृत्य के कारण सपनों का घर बर्बाद हो गया। पत्नी लुधियाना के डीएमसी अस्पताल में भर्ती है। करण के पिता की मंडी में करियाने की दुकान है। पड़ोसी करनजीत सिंह के अनुसार, शीनम डीएमसी पहुंचने के बाद भी बातें कर रही थी। उसे पति व बच्चों की मौत की जानकारी नहीं दी गई। शीनम ने उसे बताया कि जब करण उस पर गोली चलाने लगा तो बचाव करते हुए उनमें हाथापाई हुई, जिसके कारण गोली उसके मुंह की दाई तरफ जा लगी। वह वहीं पर गिर गई।

घटनास्थल पर बेड की जांच करती पुलिस पार्टी।
घटनास्थल पर बेड की जांच करती पुलिस पार्टी।

बिखर गया करण-शीनम के सपनों का घर : वित्तीय तंगहाली व मानसिक परेशानी के कारण हुआ हादसा

परिवार के अनुसार, करण उर्फ आशु स्थानीय निकाय विभाग में स्ट्रीट लाइट फिटिंग व बिजली के अन्य कार्यों का ठेका लेता था। परिश्रमी होने के कारण उसका कारोबार पंजाब के कई जिलों में फैला हुआ था। करण ने पिछले 4-5 साल में काफी मेहनत की, जिसके बाद करण व शीनम ने मिलकर बढ़िया घर बनवाया, जिसे वे अपने सपनों का घर कहते थे। करनजीत के अनुसार, कुछ महीने पहले ही करण ने जॉयसी का प्ले-वे स्कूल में एडमिशन दिलाया था। बेटा रॉयसी पहली क्लास में था। आसपास के लोगों के अनुसार, दोनों बच्चे इतने अच्छे थे कि घर में कोई नई चीज आने पर खुद ही गली के लोगों को घर पर न्योता देकर बुलाते थे और पार्टी करते थे। खून से लथपथ बच्चों को देख हर हर किसी की आंखें भर आईं।

नियम माने होते तो शायद नहीं होता इतना बड़ा कांड

करण कटारिया ने इस कार्य में अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर का इस्तेमाल किया। बेशक, जिला प्रशसन ने 14 फरवरी को होने जा रहे निकाय चुनावों के मद्देनजर सभी लाइसेंसी हथियार धारकों को अपने हथियार नजदीकी थानों अथवा आर्म्स डीलर के पास जमा करवाने के आदेश जारी कर रखे हैं। इसके लिए पिछले तीन दिनों से शहरों में लगातार मुनादी भी कराई गई है। यदि करण उर्फ आशू ने समय रहते प्रशासन का आदेश मान हथियार जमा करवाए होते तो शायद परिवार के पास जीवित हालत में इस समस्या से निजात पाने का एक और अवसर रहता।

मुक्तसर के डंपी विनायक पर मामला दर्ज

सिटी थाने के एसएचओ गुरविंदर सिंह भुल्लर और डीएसपी सतिंदर सिंह विर्क ने बताया कि मुक्तसर के डंपी विनायक के खिलाफ भादंसं की धारा 306 के तहत मामला दर्ज किया है। इससे पहले, इस घटनाक्रम की सूचना मिलते ही एसएसपी स्वर्णदीप सिंह, एसपी सेवा सिंह मल्ली पुलिस पार्टी व फॉरेंसिक टीम लेकर मौके पर पहुंचे। एसपी सेवा सिंह मल्ली ने बताया कि घटनास्थल से मिले सुसाइड नोट व अन्य साक्ष्यों के आधार पर मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए कोई उपलब्धि ला रहा है, उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। कुछ ज्ञानवर्धक तथा रोचक साहित्य के पठन-पाठन में भी समय व्यतीत होगा। ने...

    और पढ़ें