सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड:पुलिस को मिला शार्प शूटर्स का वीडियो; फायरिंग के वक्त मानसा के युवक ने बनाई थी

चंडीगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में पुलिस के हाथ बड़ा सबूत लगा है। पुलिस को कातिलों का वीडियो फुटेज मिल गया है। इसमें शार्प शूटर मूसेवाला की थार पर गोलियां बरसाते नजर आ रहे हैं। हालांकि, यह फुटेज सिर्फ 7-8 सेकेंड की है। मौका-ए-वारदात के इस वीडियो को मानसा के ही एक युवक ने बनाया है।

वीडियो बनते देख कातिलों ने उस पर भी फायर किया था। इसके बाद उसने वीडियो बंद कर दिया और जान बचाने के लिए भाग निकला। इस फायर का निशान मानसा में दीवार पर देखा जा सकता है। हालांकि, जांच जारी होने की वजह से पुलिस अफसर इस बारे में कोई प्रतिक्रिया नहीं दे रहे हैं।

वीडियो बनता देख कातिलों ने युवक पर फायरिंग की थी। इसका निशान वहां दीवार पर मौजूद है। इसके बाद युवक वहां से भाग निकला। वह काफी दिन तक डरा रहा।
वीडियो बनता देख कातिलों ने युवक पर फायरिंग की थी। इसका निशान वहां दीवार पर मौजूद है। इसके बाद युवक वहां से भाग निकला। वह काफी दिन तक डरा रहा।

युवक को नहीं था पता, अंदर मूसेवाला बैठे हैं

पुलिस ने युवक की सुरक्षा को देखते हुए पहचान गुप्त रखी है। उसकी सिक्योरिटी पर भी ध्यान दिया जा रहा है। पुलिस ने वीडियो कब्जे में ले लिया है। युवक ने पुलिस को बताया कि जब हमला हुआ तो उसे नहीं पता था कि थार में सिद्धू मूसेवाला हैं। जब उसने वीडियो रिकॉर्डिंग शुरू की तो कातिलों ने उसे देख लिया। उसकी तरफ गोली चला दी।

मूसेवाला की 29 मई को शाम साढ़े 5 बजे मानसा के गांव जवाहरके में गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी। कोरोला और बोलेरो में सवार शार्प शूटर्स ने यह वारदात की थी।
मूसेवाला की 29 मई को शाम साढ़े 5 बजे मानसा के गांव जवाहरके में गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी। कोरोला और बोलेरो में सवार शार्प शूटर्स ने यह वारदात की थी।

मोबाइल टावर खंगाले तो मिला युवक का पता

मूसेवाला की हत्या के बाद पुलिस ने उस इलाके के मोबाइल टावर खंगाले। इसकी जांच में पुलिस को इस युवक का नंबर भी हत्या के वक्त वहां चलता मिला। फिर पुलिस ने युवक का पता लगाया। उससे बात की तो फिर पूरी घटना सामने आ गई।

हरियाणा के 2 बदमाशों की तलाश कर रही पुलिस

पुलिस इस मामले में हरियाणा के बदमाश प्रियवर्त फौजी और अंकित जांटी की तलाश कर रही है। सोनीपत के गढ़ी सिसाना का रहने वाला फौजी कुख्यात बदमाश है। कुंडली में जांटी रोड स्थित गांव सेरसा के अंकित का क्रिमिनल रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है। यह दोनों उसी बोलेरो में पेट्रोल पंप पर तेल डलवाते नजर आए, जिसका इस्तेमाल मूसेवाला की हत्या में हुआ। हत्या से 4 दिन पहले यह बोलेरो मानसा में भी नजर आई थी। फौजी और अंकित ने मूसेवाला की हत्या की या फिर हत्यारों को सामान मुहैया कराया, इसकी जांच की जा रही है।

राजस्थान से भी जुड़े हत्या के तार

सिद्धू मूसेवाला की हत्या के तार राजस्थान से भी जुड़ रहे हैं। राजस्थान पुलिस ने संदीप जाट और दिनेश यादव को गुरुवार को गिरफ्तार किया। ये दोनों गुड़गांव के पटौदी इलाके के रहने वाले हैं। इनसे भी मूसेवाला हत्याकांड को लेकर पूछताछ की जा रही है। इसके अलावा सीकर के गैंगस्टर सुभाष बराल का भी इसमें नाम सामने आ रहा है।

मूसेवाला हत्याकांड की जांच में अब तक क्या हुआ...

  • देहरादून से मनप्रीत भाऊ को अरेस्ट किया गया। इसने ही शार्प शूटर्स को कोरोला गाड़ी दी थी।
  • जेल में बंद गैंगस्टर मनप्रीत मन्ना से पूछताछ हुई। शार्प शूटर्स ने मन्ना की ही कोरोला गाड़ी इस्तेमाल की थी।
  • जेल में बंद लॉरेंस के करीबी गैंगस्टर सराज मिंटू से पूछताछ हुई। मिंटू के कहने पर मनप्रीत भाऊ ने कोरोला गाड़ी शार्प शूटर्स को देने की चर्चा है।
  • दिल्ली पुलिस ने गैंगस्टर लॉरेंस का रिमांड लेकर पूछताछ की। उसने कहा कि यह काम उसके गैंग का हो सकता है। हालांकि, उसे इस बारे में जानकारी टीवी से मिली।
  • लॉरेंस के करीबी गैंगस्टर संपत नेहरा से पूछताछ हुई। पंजाब पुलिस उसे तिहाड़ जेल से लेकर आई थी।
  • लॉरेंस से पूछताछ के बाद दिल्ली पुलिस ने नेपाल और उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में रेड की। यहां मूसेवाला के कातिल शार्प शूटर्स के छिपे होने की आशंका है।
  • हरियाणा के फतेहाबाद से पुलिस ने पवन बिश्नोई और नसीब खान को पकड़ा है। इन पर मूसेवाला के हत्यारों से मिले होने का शक है। इनके खिलाफ मोगा में भी केस दर्ज है।