मूसेवाला की समाधि पर उमड़ी भीड़:परिवार की अपील : न माथा टेकें, न पैसा चढ़ाएं; एक पौधा लगा उसे पालकर बड़ा करें

चंडीगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की गांव मूसा स्थित समाधि पर फैन की भीड़ उमड़ रही है। फैन वहां माथा टेककर पैसे भी चढ़ा रहे हैं। यह देख अब परिवार आगे आया है। परिवार ने वहां एक बोर्ड लगा दिया है। इसमें कहा कि - परिवार की विनती है कि इस जगह पर पैसों से माथा न टेका जाए। सिद्धू मूसेवाला सिर्फ शब्द गुरु में यकीन रखते थे। माथा सिर्फ श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी के आगे टेकें। सिद्धू को प्यार करने वाले एक-एक पौधा लगाकर उसे पालकर बड़ा करें।

मूसेवाला की समाधि स्थल पर परिवार की लगाई अपील।
मूसेवाला की समाधि स्थल पर परिवार की लगाई अपील।

अंतिम संस्कार वाली जगह पर बनी समाधि
सिद्धू मूसेवाला की 29 मई को मानसा के जवाहरके गांव में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसके बाद उनका अंतिम संस्कार खेत में किया गया। यह वही खेत था, जहां मूसेवाला खुद खेती करते थे। संस्कार के बाद यहीं पर उनकी याद में समाधि बना दी गई है। जहां मूसेवाला के फैन आकर अपने फेवरेट स्टार को सजदा कर रहे हैं।

गांव मूसा में संस्कार वाली जगह पर बनी मूसेवाला की समाधि।
गांव मूसा में संस्कार वाली जगह पर बनी मूसेवाला की समाधि।

पुलिस कर रही सुरक्षा
मूसेवाला की हत्या से एक दिन पहले ही पंजाब की AAP सरकार ने उनकी सिक्योरिटी घटा दी थी। 4 में से 2 गनमैन वापस ले लिए गए। हालांकि उनकी मौत के बाद उनके घर में कड़ी सुरक्षा है। उनके माता-पिता को भी सिक्योरिटी कवर दिया गया है। वहीं उनकी समाधि स्थल पर भी पुलिस की सुरक्षा लगाई गई है।

मूसेवाला की समाधि पर उनके पालतू डॉग।
मूसेवाला की समाधि पर उनके पालतू डॉग।

मूसेवाला के डॉग भी यहां घूम रहे
सिद्धू मूसेवाला ने शेरा और बगीरा नाम से दो पालतु डॉग रखे थे। हालांकि मूसेवाला की हत्या के बाद वह काफी मायूस हैं। अक्सर यह दोनों पालतू डॉग भी मूसेवाला की समाध के पास घूमते रहते हैं। जब यह दोनों डॉग खाना नहीं खाते तो परिवार के लोग इन्हें इसी समाधि के पास ले जाते हैं।