गैंगस्टर फरारी का गर्लफ्रैंड कनेक्शन:दीपक टीनू को मिलवाने ले गया था SI प्रितपाल सिंह; तय प्लानिंग के हिसाब से भाग निकले

लुधियाना6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस की साजिश में शामिल A कैटेगरी गैंगस्टर दीपक टीनू के पुलिस कस्टडी से फरार होने में बड़ा खुलासा हुआ है। मानसा पुलिस के CIA स्टाफ का इंचार्ज प्रितपाल सिंह लॉरेंस के करीबी गैंगस्टर को गर्लफ्रैंड से मिलवाने के लिए ले गया था। जब टीनू गर्लफ्रैंड के साथ दूसरे कमरे में मौज कर रहा था तो प्रितपाल को नींद आ गई। यह देख मौका पाकर टीनू वहां से गर्लफ्रैंड को साथ लेकर फरार हो गया।

यह भी पता चला है कि 3 दिन से आरोपी पुलिस सब इंस्पेक्टर गैंगस्टर को बाहर ला रहा था। जिस दौरान गर्लफ्रेंड से उसकी मुलाकातें होती थी। हालांकि पुलिस अफसर इस पूरे मुद्दे पर खुलकर कुछ नहीं कह रहे। मानसा के SSP गुरप्रीत तूरा और एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स (AGTF) के AIG गुरमीत चौहान ने इसकी जांच की बात कही है।

दीपक टीनू गैंगस्टर लॉरेंस के सबसे करीबियों में से एक है।
दीपक टीनू गैंगस्टर लॉरेंस के सबसे करीबियों में से एक है।

फरारी की प्लानिंग में गर्लफ्रैंड भी शामिल
सूत्रों के मुताबिक दीपक टीनू को फरार करवाने की प्लानिंग में गर्लफ्रैंड भी शामिल है। टीनू से कुछ दिन पहले जेल में मोबाइल मिला था। माना जा रहा है कि उसी से फरारी की पूरी प्लानिंग की गई। इसके बाद टीनू गर्लफ्रैंड से मिलने के बहाने बाहर निकला। जहां पहले से गर्लफ्रैंड और दूसरे साथी कवर देने के लिए तैयार थे। फरार होते ही वह तुरंत पुलिस की पहुंच से बाहर हो गया। पुलिस बॉर्डर सील करती रह गई। हरियाणा और राजस्थान में रेड के बावजूद टीनू पंजाब पुलिस के हाथ नहीं लगा।

आरोपी सब इंस्पेक्टर प्रितपाल सिंह को अस्पताल में मेडिकल के लिए लाया गया तो उसके हथकड़ी नहीं लगाई गई थी।
आरोपी सब इंस्पेक्टर प्रितपाल सिंह को अस्पताल में मेडिकल के लिए लाया गया तो उसके हथकड़ी नहीं लगाई गई थी।

CIA इंस्पेक्टर का दावा- हथियार बरामद करवाने ले गया था
गैंगस्टर टीनू की फरारी के बाद पुलिस ने CIA सब इंस्पेक्टर प्रितपाल सिंह को कस्टडी में ले लिया। उसके खिलाफ केस दर्ज कर लिया। शुरुआती पूछताछ में उसने बताया कि टीनू ने उसे कॉन्फिडेंस में ले लिया। टीनू ने कहा कि वह AK47 समेत बड़ी संख्या में हथियार बरामद कराएगा। इसी वजह से प्रितपाल टीनू को बाहर लेकर गया। हालांकि इस बारे में प्रितपाल ने न तो किसी सीनियर अफसर को बताया और न ही रिकॉर्ड में कुछ दर्ज किया।

पुलिस जांच में आशंका जताई जा रही है कि बैंक के ऊपर बने इसी गैस्ट हाउस नुमा होटल से दीपक टीनू गर्लफ्रैंड के साथ फरार हुआ है।
पुलिस जांच में आशंका जताई जा रही है कि बैंक के ऊपर बने इसी गैस्ट हाउस नुमा होटल से दीपक टीनू गर्लफ्रैंड के साथ फरार हुआ है।

सब इंस्पेक्टर की कहानी भरोसे लायक नहीं
पुलिस की क्राइम इन्वेस्टिगेशन एजेंसी के इंचार्ज सब इंस्पेक्टर की कहानी अफसरों को हजम नहीं हो रही। अगर वाकई में गैंगस्टर ने हथियार बरामदगी करवानी थी तो फिर उसे हथकड़ी पहनाकर क्यों नहीं ले गया?। सरकारी गाड़ी की जगह प्राइवेट कार में क्यों ले गया?।

अगर टीनू ने अकेले जाने की शर्त रखी थी तो बैकअप प्लान में पुलिस फोर्स साथ में या पीछे तैयार खड़ी क्यों नहीं रखी गई?। SSP को पहले इसके बारे में क्यों नहीं बताया गया?। सरकारी रिकॉर्ड में इसे दर्ज क्यों नहीं किया?। इन सब सवालों से टीनू की फरारी में प्रितपाल सिंह की साठगांठ सामने आ रही है।

पुलिस कस्टडी के दौरान गैंगस्टर दीपक टीनू।
पुलिस कस्टडी के दौरान गैंगस्टर दीपक टीनू।

​​​​पहले भी कैद से भाग चुका
लॉरेंस गैंग का गैंगस्टर दीपक टीनू पहले भी पुलिस कस्टडी से भाग चुका है। साल 2017 में वह पेशी के वक्त पंचकूला से भाग निकला था। इसे दिसंबर 2017 में ही भिवानी पुलिस ने बेंगलुरु से गिरफ्तार कर लिया। इस बार वह पंजाब पुलिस की हिरासत से भाग निकला।

सिद्धू मूसेवाला की 29 मई को मानसा में गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। जिसकी जिम्मेदारी लॉरेंस गैंग ने ली। टीनू भी मूसेवाला की हत्या की साजिश रचने वालों में शामिल था।
सिद्धू मूसेवाला की 29 मई को मानसा में गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। जिसकी जिम्मेदारी लॉरेंस गैंग ने ली। टीनू भी मूसेवाला की हत्या की साजिश रचने वालों में शामिल था।

हरियाणा के भिवानी का टीनू, 11 साल से लॉरेंस का साथी
गैंगस्टर दीपक कुमार उर्फ टीनू हरियाणा के भिवानी जिले का निवासी है। उसके पिता पेंटर हैं। टीनू पर हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़, राजस्थान, दिल्ली में हत्या, हत्या के प्रयास समेत 35 से अधिक केस दर्ज हैं। वह 2017 से जेल में है। पिछले करीब 11 साल से वह लॉरेंस गैंग से जुड़ा हुआ है। उसने भिवानी में बंटी मास्टर की हत्या की थी। पंजाब में गैंगस्टर लवी दियोड़ा को मारा था। उसका छोटा भाई चिराग भी नशीले पदार्थों की तस्करी करता है।

फीमेल फ्रैंड की मौजूदगी की भी जांच : SSP मानसा
मानसा के SSP गौरव तूरा ने कहा कि जिस जगह से गैंगस्टर दीपक टीनू भागा, वहां उसकी फीमेल फ्रैंड के मौजूद होने के कुछ इनपुट मिले हैं। पुलिस इसकी भी जांच कर रही है। सब इंस्पेक्टर प्रितपाल पहले भी गैंगस्टर को इसी तरह बिना किसी को बताए बाहर ले गया, इसके बारे में भी पड़ताल चल रही है। गैंगस्टर के भागने की असल जगह की जांच की जा रही है। इसके लिए CCTV कैमरे खंगाले जा रहे हैं।

नेपाल भाग सकता हैं गैंगस्टर टीनू:CM भगवंत मान बोले- लुकआउट सर्कुलर जारी किया; सब इंस्पेक्टर 4 दिन के रिमांड पर

मूसेवाला मर्डर की साजिश में शामिल दीपक टीनू नेपाल भाग सकता है। इसके पता चलते ही पंजाब पुलिस ने उसका लुक आउट सर्कुलर जारी कर दिया है। CM भगवंत मान ने विधानसभा सेशन में भी इस बारे में जानकारी दी।वहीं उसे भगाने के आरोप में गिरफ्तार CIA के इंचार्ज .. खबर पूरी पढ़ने के लिए क्लिक करें