पंजाब पुलिस पर दिल्ली में 2 केस दर्ज:​​​​​​​बग्गा की किडनैपिंग और पिता से मारपीट का आरोप; DSP समेत 4 कर्मी हिरासत में

चंडीगढ़7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जनकपुरी पुलिस थाने में डिटेन किए गए पंजाब पुलिस के DSP। - Dainik Bhaskar
जनकपुरी पुलिस थाने में डिटेन किए गए पंजाब पुलिस के DSP।

दिल्ली में पंजाब पुलिस पर 2 केस दर्ज हुए हैं। इनमें पहला केस भाजपा नेता तजिंदर बग्गा की किडनैपिंग और दूसरा उनके पिता से मारपीट के मामले में दर्ज हुआ है। दिल्ली पुलिस ने पंजाब पुलिस के DSP समेत 4 पुलिस कर्मचारियों को हिरासत में ले रखा है। पंजाब सरकार ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में भी इसकी जानकारी दी है।

पंजाब पुलिस के वकील आरके राठौर ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि मारपीट का केस तजिंदर बग्गा के पिता प्रितपाल सिंह बग्गा की शिकायत पर दर्ज किया गया है। इसके बाद 4 पुलिसकर्मियों को दिल्ली के जनकपुरी पुलिस थाने में रखा गया है।

तजिंदर बग्गा को गिरफ्तार करती पंजाब पुलिस
तजिंदर बग्गा को गिरफ्तार करती पंजाब पुलिस

यह भी पढ़ें : तजिंदर बग्गा की गिरफ्तारी पर बवाल LIVE:भाजपा नेता को लेकर लौट रही दिल्ली पुलिस; पंजाब पहुंचा हाईकोर्ट, हरियाणा से आधे घंटे में जवाब तलब

दिल्ली पुलिस को सूचना देकर की गई कार्रवाई : पंजाब पुलिस

मोहाली के DSP सुखनाज सिंह का कहना है कि तजिंदर बग्गा को 5 बार ऑन रिकॉर्ड नोटिस भेजकर जांच जॉइन करने को कहा था। हर बार यह टाल रहे थे। कोर्ट के आदेश के हिसाब से हमने पहले बग्गा को नोटिस दिया था। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया। इस बारे में दिल्ली पुलिस के SHO को भी सूचना दी थी। गिरफ्तारी के लिए जब एक पार्टी बग्गा के घर पहुंची तो उसके बराबर दूसरी पार्टी पुलिस थाने पहुंची थी। इसके अलावा कंट्रोल रूम में भी सूचना दी थी। इसकी रिकॉर्डिंग भी हमारे पास मौजूद है। गिरफ्तारी की प्रक्रिया की हमने वीडियोग्राफी करवाई है।

मीडिया से बात करते तजिंदर बग्गा के पिता प्रितपाल बग्गा
मीडिया से बात करते तजिंदर बग्गा के पिता प्रितपाल बग्गा

पिता बोले- पुलिसवालों ने मेरे मुंह पर मुक्का मारा

तजिंदर बग्गा के पिता प्रितपाल सिंह ने कहा, 'पंजाब पुलिस के लोग तजिंदर को खींचकर ले गए। उन्हें पगड़ी भी नहीं पहनने दी। जब मैंने वीडियो बनाने की कोशिश की, तो मुझे रोककर एक कमरे में ले गए। वहां मेरे मुंह पर मुक्का मारा। पंजाब पुलिस मेरा फोन भी छीनकर ले गई। अरविंद केजरीवाल मेरे बेटे को जबरदस्ती फंसाना चाहते हैं।' इसके बाद प्रितपाल बग्गा ने जनकपुरी थाने पहुंचकर पंजाब पुलिस के खिलाफ मारपीट की शिकायत दर्ज कराई। उनके साथ दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष आदेश गुप्ता भी थे।