पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • The Executive Head Will Go To Invite The Captain For The Coronation Of Sidhu Tomorrow, There Is No Reconciliation Between Captain Sidhu Yet

पीछे हटे कैप्टन, सिद्धू से मिलेंगे:आज सिद्धू की ताजपोशी में शामिल होंगे अमरिंदर, CM ने सांसदों और विधायकों को सुबह चाय पर बुलाया

जालंधर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कैप्टन अमरिंदर सिंह को ताजपोशी समारोह का न्योता देने पहुंचे कार्यकारी अध्यक्ष कुलजीत नागरा और संगत सिंह गिलजियां। - Dainik Bhaskar
कैप्टन अमरिंदर सिंह को ताजपोशी समारोह का न्योता देने पहुंचे कार्यकारी अध्यक्ष कुलजीत नागरा और संगत सिंह गिलजियां।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदंर सिंह और प्रदेश कांग्रेस के नए अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के बीच जमी सियासी बर्फ पिघलती दिख रही है। सिद्धू ने कैप्टन की शर्त के मुताबिक अपने आरोपों के लिए अभी तक सार्वजनिक माफी नहीं मांगी है। इसके बावजूद कैप्टन शुक्रवार को पंजाब कांग्रेस भवन में होने वाली सिद्धू और चारों कार्यकारी अध्यक्षों की ताजपोशी कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसकी पुष्टि खुद CM के मीडिया एडवाइजर रवीन ठुकराल ने सोशल मीडिया पर दी है।

इससे पहले गुरुवार को नए कार्यकारी अध्यक्ष कुलजीत नागरा और संगत सिंह गिलजियां ने कैप्टन से मिलकर उन्हें कार्यक्रम का औपचारिक निमंत्रण पत्र दिया। इस पत्र पर चारों कार्यकारी प्रधानों के अलावा नवजोत सिंह सिद्धू के भी हस्ताक्षर हैं।

रवीन ठुकराल के ट्वीट के मुताबिक शुक्रवार को पंजाब कांग्रेस भवन पहुंचने से पहले सीएम कैप्टन अमरिंदर पंजाब भवन में विधायकों से भी मिलेंगे। इसके लिए सुबह 10 बजे का कार्यक्रम रखा गया है। वहां सभी विधायकों को आने के लिए कह दिया गया है। इसके बाद वहां से सभी एक साथ कांग्रेस भवन जाएंगे। कुलजीत नागरा ने कहा कि ताजपोशी कार्यक्रम में पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत भी मौजूद रहेंगे।

कैप्टन को दिया निमंत्रण पत्र, जिस पर प्रधान और कार्यकारी प्रधानों के हस्ताक्षर हैं।
कैप्टन को दिया निमंत्रण पत्र, जिस पर प्रधान और कार्यकारी प्रधानों के हस्ताक्षर हैं।

अब तक सिद्धू से माफी मंगवाने पर अड़े हैं कैप्टन
नवजोत सिद्धू के पंजाब में कांग्रेस प्रधान बनने की चर्चा से ही कैप्टन व सिद्धू के बीच विवाद जारी था। कैप्टन ने सिद्धू से अपने उन ट्वीट व इंटरव्यू में लगाए व्यक्तिगत आरोपों के बारे में माफी मांगने को कहा, जो कैप्टन पर लगाए गए थे। कैप्टन ने हाईकमान के आगे भी यह शर्त रखी थी और मीडिया सलाहकार के जरिए ट्वीट करवा के स्पष्ट किया था कि जब तक सिद्धू माफी नहीं मांगते, वो उनसे नहीं मिलेंगे। इसके बावजूद कैप्टन आ रहे हैं जिसे लेकर चर्चाएं जारी हैं।

खबरें और भी हैं...