• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Sidhu Moosewala Murder Updates; Punjab News| Lawrence Bishnoi And Davinder Bambhiha Gang

आज सिद्धू मूसेवाला का अंतिम संस्कार:सिर में भी मारी गई गोली; शरीर पर गन शॉट के 24 निशान, गैंगस्टर लॉरेंस को एनकाउंटर की आशंका

चंडीगढ़6 महीने पहले

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड के मामले में गैंगस्टर लॉरेंस ने NIA कोर्ट में पिटीशन दायर की है। पिटीशन में उसने कहा है कि अगर पंजाब पुलिस मेरा प्रोडक्शन वारंट मांगती है तो एनकाउंटर हो सकता है। इसलिए मेरी सुरक्षा सुनिश्चित की जाए। पुलिस को अगर पूछताछ करनी है तो वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए करे। इसके लिए कस्टडी की जरूरत नहीं है। कोर्ट ने इस पिटीशन को सुनने से इनकार कर दिया है। कहा- लॉ एंड ऑर्डर राज्य पुलिस का विषय है।

इस बीच सिद्धू मूसेवाला का सोमवार दोपहर बाद मानसा सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम हो गया। दो घंटे चले इस पोस्टमार्टम में मूसेवाला के शरीर पर गोलियों के एंट्री-एग्जिट समेत 24 निशान मिले। हमलावरों ने उनके सिर में भी गोली मारी।

वहीं, इस मामले में पंजाब पुलिस उत्तराखंड पहुंची। यहां उत्तराखंड STF के साथ 6 लोगों को हिरासत में लिया। इनमें एक आरोपी लॉरेंस गैंग का संदिग्ध शार्प शूटर बताया जा रहा है। इसे हिमाचल से उत्तराखंड में घुसते वक्त एक कार रोककर हिरासत में लिया गया। पंजाब पुलिस इनकी शिनाख्त कर रही है।

तिहाड़ जेल में रची गई साजिश
मशहूर पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या की साजिश तिहाड़ जेल में रची गई। कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस यही बंद है। उसने कनाडा बैठे गोल्डी बराड़ के साथ मिलकर इस साजिश को अंजाम दिया। इसमें पंजाबी सिंगर मनकीरत औलख का मैनेजर भी शामिल बताया जा रहा है।

सूत्रों के मुताबिक. पंजाब पुलिस ने दिल्ली पुलिस की मदद से जेल में गैंगस्टर लॉरेंस, काला जठेड़ी समेत कुछ गैंगस्टर्स से पूछताछ भी की है। पुलिस ने अब मोगा से ऑल्टो कार बरामद की है। यह वही कार है, जिसे मूसेवाला की हत्या के बाद हमलावरों ने छीना था। यह कार हरियाणा से छीनी गई थी।

उत्तराखंड में पकड़े गए संदिग्ध
उत्तराखंड में पकड़े गए संदिग्ध

मूसेवाला का संस्कार आज

उधर मानसा सिविल अस्पताल में सिद्धू मूसेवाला का पोस्टमार्टम तकरीबन 2 घंटे चला। 5 डॉक्टरों के मेडिकल बोर्ड ने उनका पोस्टमार्टम किया। इस मेडिकल बोर्ड में फॉरेंसिक एक्सपर्ट भी शामिल रहे। इस दौरान अस्पताल में मूसेवाला के ताया अपने बेटे के साथ मौजूद रहे। मानसा के डीसी और SSP समेत दूसरे वरिष्ठ अधिकारी भी अस्पताल में ही थे। पोस्टमार्टम के बाद कांग्रेस विधायक प्रताप सिंह बाजवा भी अस्पताल पहुंचे।

शुरुआती पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार, सिद्धू मूसेवाला के शरीर पर गोलियों के एंट्री-एग्जिट समेत 24 निशान मिले। मानसा जिला प्रशासन और सिद्धू मूसेवाला के परिवार से जुड़े सूत्रों के अनुसार, मूसेवाला की बॉडी मंगलवार सुबह 10 बजे उनके गांव ले जाई जाएगी। उनका संस्कार मूसेवाला गांव में ही किया जाएगा।

मोगा के खेत से लावारिस मिली ऑल्टो कार, इसकी दोनों नंबर प्लेट उतारी हुई हैं
मोगा के खेत से लावारिस मिली ऑल्टो कार, इसकी दोनों नंबर प्लेट उतारी हुई हैं

पहले भी आए थे कत्ल करने, AK 47 देख वापस लौटे
पहले भी मूसेवाला की हत्या की कोशिश हुई थी। हालांकि जब गैंगस्टर्स के गुर्गे मूसेवाला के गांव पहुंचे तो वहां AK 47 वाले कमांडो देख लौट आए। बाद में हत्या के लिए उन्होंने गोल्डी बराड़ से रूसी AN 94 ( एवतोमैत निकोनोव) मंगवाई थी। जिससे ही ताबड़तोड़ गोलियां चलाकर कल मूसेवाला की हत्या की गई। इसके पीछे तिहाड़ जेल से चल रहे 9643****** मोबाइल नंबर भी सामने आ रहा है।

हाईकोर्ट के सिटिंग जज करेंगे जांच
मूसेवाला हत्याकांड की जांच अब हाईकोर्ट के सिटिंग जज करेंगे। मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह ने यह मांग की थी। इसके बाद CM भगवंत मान ने इसका ऐलान किया। उन्होंने कहा कि इस मामले में NIA के अलावा जिस भी जांच एजेंसी की जरूरत होगी, सरकार उसमें मदद करेगी। इसके अलावा पंजाब सरकार और पुलिस भी जांच में पूरा सहयोग करेगी।

हाईकोर्ट ने किया जवाब तलब
इस मामले में अब पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने पंजाब सरकार से जवाब तलब किया है। हाईकोर्ट ने पूछा कि VIP सिक्योरिटी में कटौती की जानकारी लीक कैसे हुई? कई नेताओं ने HC में याचिका दायर कर यह मुद्दा उठाया था। इस मामले की अगली सुनवाई 2 जून को होगी।

पंजाब पुलिस के हाथ यह CCTV फुटेज लगी है। मानसा-पटियाला रोड स्थित ढाबे में इन लोगों ने रोटी खाई। फिलहाल यह सिद्धू मूसेवाला की हत्या के शक के दायरे में हैं।
पंजाब पुलिस के हाथ यह CCTV फुटेज लगी है। मानसा-पटियाला रोड स्थित ढाबे में इन लोगों ने रोटी खाई। फिलहाल यह सिद्धू मूसेवाला की हत्या के शक के दायरे में हैं।

दिल्ली पुलिस की पूछताछ में सामने आई थी साजिश
सूत्रों की मानें तो इसका खुलासा दिल्ली में कुछ समय पहले गिरफ्तार हुए शाहरुख ने किया है। शाहरुख ने बताया था कि गोल्डी बराड़ और लॉरेंस कोई बड़ी साजिश रच रहे हैं। शाहरुख ने खुद मूसेवाला की हत्या के लिए रेकी भी की थी। अब हत्याकांड में इस्तेमाल हुई बोलेरो वही है, जिसका इस्तेमाल शाहरुख ने साथियों के साथ मूसेवाला की रेकी के लिए किया था। इस मामले में हरियाणा के भी कुछ गुर्गों का नाम सामने आ रहा है। सवाल यह भी उठ रहा है कि क्या दिल्ली पुलिस ने यह इनपुट पंजाब पुलिस के साथ शेयर किए या नहीं? अगर हां तो फिर पंजाब पुलिस ने मूसेवाला की सिक्योरिटी में कटौती क्यों की?

सिद्धू मूसेवाला की थार की जांच करती पुलिस टीम। इसी में सिद्धू मूसेवाला की हत्या की गई है। इसी थार से मूसेवाला की पिस्तौल भी मिली है।
सिद्धू मूसेवाला की थार की जांच करती पुलिस टीम। इसी में सिद्धू मूसेवाला की हत्या की गई है। इसी थार से मूसेवाला की पिस्तौल भी मिली है।

इन लोगों के नाम आए सामने
शाहरुख से पूछताछ के बाद मूसेवाला हत्याकांड में 8 लोगों की भूमिका पर शक जताया जा रहा है। जिसमें गोल्डी बराड़, लॉरेंस, जग्गू भगवानपुरिया, मनप्रीत औलख का मैनेजर सचिन, अजय गिल, सतेंद्र काला, सोनू काजल और अमित काजला शामिल हैं। शाहरुख ने पूछताछ में बताया कि उसकी गोल्डी बराड़ से सिगनल एप पर बात होती थी। शाहरुख का फोन अब दिल्ली पुलिस जब्त कर चुकी है। लॉरेंस के भी सिगनल एप पर बात करने का शक है।

DGP की सफाई, मूसेवाला को गैंगस्टर नहीं कहा
DGP वीके भावरा ने सफाई दी कि उन्होंने कभी नहीं कहा कि मूसेवाला गैंगस्टर है। वह किसी गैंगस्टर ग्रुप से जुड़ा हुआ है। उनके बयान को गलत ढंग से पेश किया गया। उनके दिल में भी मूसेवाला के प्रति बहुत सम्मान है। मूसेवाला के पिता ने कहा था कि DGP ने उनके बेटे पर गलत आरोप लगाए। वह इसके लिए माफी मांगें। इसके बाद CM भगवंत मान ने DGP को स्पष्टीकरण देने को कहा था। मान ने सुरक्षा की जानकारी लीक होने के मामले में भी जांच के आदेश दिए हैं।

मां पूछती है शुभदीप कब आएगा? क्या जवाब दूं
सिद्धू मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह ने CM भगवंत मान को पत्र लिखा है। उन्होंने कहा कि आपकी सरकार की नाकामियों से मेरे बेटे की हत्या हुई। मूसेवाला की मां मुझे पूछती है कि शुभदीप कहां है?, वह घर कब आएगा? मैं उसे क्या जवाब दूं। मैं उम्मीद करता हूं कि मुझे इंसाफ मिलेगा।

CM भगवंत मान को लिखा पत्र।
CM भगवंत मान को लिखा पत्र।

मानसा में 1 IG और 2 SSP तैनात
मानसा में तनावपूर्ण माहौल के बीच कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं। पंजाब पुलिस के बठिंडा रेंज के IG पीके यादव, मानसा SSP गौरव तूरा और बठिंडा के SSP जे. एलेनचेजियन को मानसा में ही कैंप करवा दिया गया है। मूसेवाला की रविवार शाम साढ़े 5 बजे ताबड़तोड़ गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी। एक दिन पहले ही पंजाब की आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार ने उनकी सिक्योरिटी वापस ली थी।

लॉरेंस और बंबीहा गैंग आमने-सामने, गैंगवार की आशंका बढ़ी
मूसेवाला की हत्या के बाद पंजाब में गैंगवार की आशंका बढ़ गई है। मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी कुख्यात लॉरेंस गैंग ने ली है। लॉरेंस गैंग और उनके साथी कनाडा के गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने कहा कि हमने मोहाली में कत्ल किए विक्की मिड्‌डूखेड़ा की हत्या का बदला लिया है। वहीं अब गैंगस्टर दविंदर बंबीहा गैंग भी सामने आ गया है। उसने कहा कि मूसेवाला उनसे नहीं जुड़ा था। फिर भी उसका नाम हमारे साथ जोड़ा जा रहा है। इसलिए वह इसका बदला लेंगे।

जेलों में दोनों के गैंगस्टर अलग किए गए
इस धमकी को देखते हुए पंजाब की जेलों में लॉरेंस गैंग के बंदियों को अलग कर दिया गया है। जहां-जहां इस गैंग के मेंबर हैं, वहां सिक्योरिटी बढ़ा दी गई है। बंबीहा गैंग के मेंबर भी जेलों में बंद हैं। उन्हें भी अलग कर दिया गया है। दोनों गैंग आपस में न भिड़ें, इसको लेकर सभी जेलों में हाई अलर्ट कर दिया गया है।

पंजाब पुलिस ने SIT बनाई
पंजाब पुलिस ने मूसेवाला की हत्या की जांच के लिए स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम बना दी है। जिसमें मानसा के SP (इन्वेस्टिगेशन) धर्मवीर सिंह, DSP (इन्वेस्टिगेशन) बठिंडा विश्वजीत सिंह और मानसा के CIA इंचार्ज प्रिथीपाल सिंह शामिल हैं।

बुलेट प्रूफ फॉर्च्यूनर घर छोड़ जीप लेकर निकले थे पंजाबी सिंगर
इस बीच यह अहम बात भी सामने आई है कि मूसेवाला घर से अपनी निजी बुलेट प्रूफ फॉर्च्यूनर लेकर निकलने वाले थे। इसे उन्होंने बाहर भी निकाल लिया था। हालांकि फिर उसे घर के अंदर खड़ी कर थार निकाल ली। मूसेवाला ने ऐसा क्यों किया? इसको लेकर भी पुलिस जांच में जुट गई है।

मूसेवाला पर ताबड़तोड़ फायरिंग की गई, वे थार की ड्राइविंग सीट से हिल तक नहीं सके।
मूसेवाला पर ताबड़तोड़ फायरिंग की गई, वे थार की ड्राइविंग सीट से हिल तक नहीं सके।

DGP बोले- गनमैन और बुलेट प्रूफ गाड़ी नहीं ले गए मूसेवाला
DGP वीके भावरा ने कहा कि मूसेवाला साढ़े 4 बजे घर से निकले। साढ़े 5 बजे वह खुद थार चलाकर जा रहे थे। उनके साथ 2 लोग थे। इनके पीछे एक गाड़ी थी और 2 गाड़ियां सामने से आईं। उन्हें गोलियां मारी गईं। अस्पताल पहुंचने तक उनकी मौत हो चुकी थी। मौके से 3 तरह के हथियार के खोल मिले हैं। इस दौरान 30 से ज्यादा फायर हुए।

DGP ने कहा कि मूसेवाला के पास पंजाब पुलिस के 4 कमांडोज हैं। घल्लूघारा दिवस की वजह से उनके 2 कमांडो वापस लिए गए थे। 2 कमांडो उनके पास थे। जब वह गए तो कमांडो को साथ नहीं ले गए। कमांडो को कहा कि उन्हें साथ आने की जरूरत नहीं है। मूसेवाला के पास प्राइवेट बुलेट प्रूफ गाड़ी थी, उसे भी वे नहीं ले गए।

सिद्धू मूसेवाला के मैनेजर शगनप्रीत का नाम मोहाली में हुए विक्की मिड्‌डूखेड़ा के मर्डर में आया था। शगनप्रीत ऑस्ट्रेलिया में है। उसका बदला लेने के लिए लॉरेंस गैंग ने यह मर्डर करवाया है। इसकी जिम्मेदारी कनाडा बैठे गैंगस्टर ने ले ली है।

कनाडा के गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने कहा- हमने विक्की मिड्‌डूखेड़ा की हत्या का बदला लिया है।
कनाडा के गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने कहा- हमने विक्की मिड्‌डूखेड़ा की हत्या का बदला लिया है।

महीनेभर में दूसरी बार फेल रही पंजाब पुलिस
पंजाब पुलिस की इंटेलिजेंस इस महीने में दूसरी बार फेल रही। पहले उनके अपने ही ऑफिस पर रॉकेट अटैक हो गया। इसके बारे में वह पहले अलर्ट नहीं दे सके। अब मशहूर पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या के खतरे को नहीं भांप सके। उनकी सिक्योरिटी में कटौती करवा दी गई। इससे पंजाब पुलिस पर बड़ा सवाल खड़ा हो गया है। कब और कैसे नाकाम रही है पंजाब की पुलिस, जानने के लिए यहां क्लिक करें...

मूसेवाला जिस थार जीप में बैठे थे, उसके कांच पर गोलियों के निशान साफ दिखाई दे रहे थे।
मूसेवाला जिस थार जीप में बैठे थे, उसके कांच पर गोलियों के निशान साफ दिखाई दे रहे थे।

गैंगस्टर्स के निशाने पर थे, पंजाब सरकार ने सुरक्षा घटाई
सिद्धू मूसेवाला गैंगस्टर्स के निशाने पर थे। इसके बावजूद शनिवार को पंजाब सरकार ने उनकी सुरक्षा घटा दी। उनके पास 2 ही गनमैन रह गए थे। सुरक्षा को लेकर मूसेवाला भी चिंतित थे। उन्होंने वकील से भी इस बारे में बात की थी। इसके अलावा अपने करीबी सिंगर अमृत मान को भी मिलने बुलाया था। मूसेवाला ने कोई जरूरी बात करने की बात कही थी। माना जा रहा है कि वह सुरक्षा के बारे में ही बात करने वाले थे। इसको लेकर अब पंजाब सरकार पर सवाल खड़े हो रहे हैं।

कई बार बंदूकों के साथ नजर आते थे मूसेवाला​​
मूसेवाला पर गानों में गन-कल्चर को बढ़ावा देने का आरोप शुरू से लगते रहे हैं। 2020 में पंजाब पुलिस की शूटिंग रेंज में गोली चलाते मूसेवाला का वीडियो वायरल हुआ। कोरोना लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर उनके खिलाफ केस हुआ। वायरल वीडियो में सिद्धू मूसेवाला बंदूक दिखा रहे थे। एके-47 राइफल के साथ ट्रेनिंग लेते भी दिख रहे थे। मूसा से जुड़े सभी विवादों पर पूरी खबर यहां पढ़ें...

11 जून को था बर्थडे
सिद्धू मूसेवाला का 11 जून को बर्थडे था। इससे पहले ही उनकी हत्या हो गई। मूसेवाला 1993 में जन्मे थे। अभी वह अविवाहित थे। मूसेवाला अक्सर अपने गीतों से विवादों में रहे। उन पर गन कल्चर को बढ़ावा देने का आरोप था। इसके बावजूद उनकी फैन फॉलोइंग बहुत ज्यादा थी। उन्होंने इस बार चुनाव भी लड़ा था, हालांकि वह मानसा से हार गए।

खबरें और भी हैं...