पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चालान:3 हजार वेल्यू की बाइक, 5 हजार का चालान, अब कोर्ट जाना पड़ेगा, युवक बाेला- बाइक ही रक्ख लओ

पटियाला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरटीए से चालान का जुर्माना कम करने की पॉवर छीनी पर विकल्प नहीं दिया, नतीजा देखिए-

अगर आप वाहन से रोड पर निकले हैं तो लाइसेंस और आरसी ने भूलें। दरअसल पहले डीएल व अारसी भूल जाने की सूरत में चालान रीजनल ट्रांसपाेर्ट अथाॅरिटी (आरटीए) के पास जाता था। आरटीए 100 या 200 रुफए का जुर्माना लगाकर छाेड़ देते थे पर अब ट्रांसपाेर्ट विभाग ने आरटीए से ये पॉवर छीन ली है। आटीए दफ्तर में चालान की राशि कम कराने की कोई ऑप्शन नहीं है। इससे चालान भुगतने वालाें की संख्या में भी कमी आई है, एक सप्ताह में 6 लाेगाें ने ही जुर्माना भरा बाकी रकम सुनकर ही लाैट गए। वीरवार काे प्रेस कांफ्रेंस में चीफ सेक्रेटरी विन्नी महाजन के सामने जब यह मसला उठाया को उन्हाेंने डीसी से रिपाेर्ट मांगी। आरटीए परमजीत सिंह का कहना है कि उच्चाधिकारियाें के आदेश के बाद अब वह जुर्माना कम नहीं कर सकते। जनता काे परेशानी ताे जरूर हाे रही है, लेकिन हम एसटीसी के अादेशाें की पालना कर रहे हैं। लोगों के पास जुर्माना कम करवाने के लिए अब कोर्ट ही विकल्प बचा है।

दिहाड़ीदार का दर्द } 1989 मॉडल की बाइक, 5 हजार रुपए में खरीदी थी

गांव झलेड़ी कलां के सतनाम सिंह दिहाड़ी करता है। उसके पास तीन साल पहले 5 हजार में खरीदा गया 1989 मॉडल माेटरसाइकिल है। इसका मार्केट वैल्यू 3 हजार रुपए हैं। इसका बिना डीएल के 5 हजार का चालान कटा है। चालान की रकम सुनकर परेशान सतनाम वीरवार को अारटीए के पास जुर्माने की रकम कम कराने पहुंचा। अारटीए ने अपनी मजबूरी बताते हुए फरियादी काे ये कहकर लाैटा दिया कि अब उनके पास जुर्माना कम करने की पॉवर नहीं है। आंखाें में अांसू लिए सतनाम बाेला-सर जी मेरा माेटरसाइकिल 3 हजार का है अाैर जुर्माना 5 हजार। अाप मेरा माेटरसाइकिल ही रख लें। अानंद नगर का अनीश भी जुर्माना कम करने की गुजारिश लेकर पहुंचा लेकिन निराशा मिली। एक सप्ताह से एेसे दर्जनाें लाेग जुर्माना राशि कम कराने काे लेकर अारटीए के पास पहुंच रहे हैं।

ये है नियम...दस्तावेज दिखाने काे 15 दिन का समय, तब तक चालान नहीं

सीनियर वकील सतीश करकरा ने बताया कि सेंट्रल मोटर व्हीकल रूल्स के नियम 139 में प्रावधान है कि चालक को दस्तावेजों को पेश करने के लिए 15 दिन का समय दिया जाएगा। ट्रैफिक पुलिस तत्काल उसका चालान नहीं काट सकती है। इसका मतलब यह हुआ कि अगर चालक 15 दिन के अंदर इन दस्तावेजों को दिखाने का दावा करता है, तो ट्रैफिक पुलिस या आरटीओ चालान नहीं काटेंगे। चालक को 15 दिन के अंदर इन दस्तावेजों को संबंधित ट्रैफिक पुलिस या अधिकारी को दिखाना होगा। मोटर व्हीकल एक्ट 2019 की धारा 158 के तहत एक्सीडेंट होने या किसी विशेष मामले में इन दस्तावेजों को दिखाने का समय 7 दिन का होता है।

तीन माह के लिए लाइसेंस हो जाएगा निलंबित
बिना हेलमेट ड्राइविंग पर लाइसेंस तीन महीने के लिए निलंबित हो सकता है। नए एक्ट के मुताबिक बिना हेलमेट जुर्माना राशि 100 से बढ़ाकर एक हजार कर दी है। खतरनाक तरीके से वाहन चलाते पकड़ने जाने पर 100 जुर्माना होगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का अधिकतर समय परिवार के साथ आराम तथा मनोरंजन में व्यतीत होगा और काफी समस्याएं हल होने से घर का माहौल पॉजिटिव रहेगा। व्यक्तिगत तथा व्यवसायिक संबंधी कुछ महत्वपूर्ण योजनाएं भी बनेगी। आर्थिक द...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser