• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Patiala
  • A Grant Of Rs 92.95 Crore Has Been Released To 15.49 Lakh Students From Class 1st To 8th To Buy School Uniforms At The Rate Of Rs 600 Per Student.

अच्‍छी खबर:पहली से 8वीं तक के 15.49 लाख स्टूडेंट्स को स्कूल यूनिफॉर्म खरीदने को 600 रुपए प्रति स्टूडेंट्स के हिसाब से 92.95 करोड़ की ग्रांट जारी

पटियाला3 महीने पहलेलेखक: राणा रणधीर
  • कॉपी लिंक
शिक्षा विभाग ने सरकारी स्कूलों में पहली से 8वीं क्लास तक के स्टूडेंट्स को स्कूल यूनिफॉर्म के लिए 600 रुपए प्रति स्टूडेंट्स के हिसाब ग्रांट जारी की है। - Dainik Bhaskar
शिक्षा विभाग ने सरकारी स्कूलों में पहली से 8वीं क्लास तक के स्टूडेंट्स को स्कूल यूनिफॉर्म के लिए 600 रुपए प्रति स्टूडेंट्स के हिसाब ग्रांट जारी की है।

शिक्षा विभाग ने सरकारी स्कूलों में पहली से 8वीं क्लास तक के 1549192 स्टूडेंट्स को स्कूल यूनिफॉर्म दिलाने के लिए 600 रुपए प्रति स्टूडेंट्स के हिसाब से 92 करोड़ 95 लाख 15 हजार 200 रुपए की ग्रांट जारी की है। इसमें लड़कों को कमीज-पैंट, सिख लड़कों के लिए पटका, गर्म टोपी, गर्म स्वेटर, बूट और जुराबें व लड़कियों के लिए प्राइमरी क्लास के लिए पैंट शर्ट या सूट सलवार/दुपट्टा, अपर प्राइमरी क्लासों के लिए सूट सलवार/दुपट्टा, स्वेटर और बूट व जुराबों का एक जोड़ा खरीद कर देने को कहा गया है।

सामग्र शिक्षा अभियान के स्टेट प्रोजेक्ट डायरेक्टर ने कहा कि राज्य के सभी डीईओज और स्कूल प्रिंसिपलों को चिट्ठी भेजकर ग्रांट की जानकारी दे दी है। इसमें कहा गया कि कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए यह सलाह दी जा रही है कि वर्दी की सिलाई करवाते समय अगर कपड़ा बच जाता है तो उससे स्टूडेंट्स को 2-2 मास्क भी सिला कर दिए जाएं। यूनिफॉर्म के रंग का फैसला स्कूल मैनेजमेंट कमेटी खुद करेगी। पहली से 8वीं के सभी बच्चों को मुफ्त यूनिफॉर्म दी जाएगी।

लड़कियों को सूट-सलवार, दुपट्टा और स्वेटर मिलेगा
शिक्षा विभाग ने चिट्ठी में दो टूक लिखा कि कोई भी डीईओ स्कूल मैनेजमेंट के काम में दखल नहीं देगा। अगर दखलअंदाजी पाई गई तो इसको नियमों के मुताबिक मिसकंडक्ट माना जाएगा। हर बच्चे को उसके साइज के मुताबिक ही सिली वर्दी दी जाए। खरीदी गई वर्दियों का स्टॉक एंट्री संबंधित स्कूल प्रिंसिपल द्वारा स्टॉक रजिस्टर में दर्ज करनी होगी। हर स्टूडेंट को वर्दी मुहैय्या करवाने से पहले उसके पेरेंट्स के सिग्नेचर स्टॉक रजिस्टर में करवाए जाएंगे। वर्दियों की खरीद के लिए अदायगी संबंधित वेंडर को सीधे तौर पर पीएफएमएसल पोर्टल द्वारा की जाएगी।

फतेहगढ़ साहिब में 29092 स्टूडेंट्स के लिए 1.74 करोड़, फाजिल्का में 94528 स्टूडेंट्स के लिए 5.67 करोड़, फिरोजपुर में 74494 स्टूडेंट्स के लिए 4.46 करोड़, गुरदासपुर में 87308 स्टूडेंट्स 5.23 करोड़, होशियारपुर में 82384 स्टूडेंट्स के लिए 4.94 करोड़, जालंधर में 108174 स्टूडेंट्स के लिए 6.49 करोड़, कपूरथला में 44546 स्टूडेंट्स के लिए 2.67 करोड़, लुधियाना में 150918 स्टूडेंट्स के लिए 9.5 करोड़, मलेरकोटला में 14982 स्टूडेंट्स के लिए 89 लाख जारी हो रहे हैं।