पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कृषि कानून:भास्कर- संवाद के लिए किसी किसान को नहीं बुलाया, क्यों, मंत्री- बाद में आरोप लगाएंगे, भाजपा ने कोरोना फैला दिया

पटियाला12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पटियाला की टीम| किसान संवाद के दौरान मौजूद जिला प्रधान सहित पार्टी के दूसरे पदाधिकारी। चंडीगढ़ में मौजूद भाजपा की टीम|केंद्रीय मंत्री की किसानों से बातचीत के दौरान चंडीगढ़ में मौजूद पार्टी के ओहदेदार।
  • बिना किसानाें के केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान ने किया किसानों से संवाद
  • ट्रैक्टर जलाने वाले किसान के भेष में राजनैतिक लोग थे: मंत्री

किसानों, जमीदारों व आढ़तियों को कृषि कानून के बारे में जानकारी मुहैया कराने को शनिवार को केंद्रीय पशु-पालन, डेयरी व मत्स्य पालन राज्यमंत्री डॉ. संजीव कुमार बालियान ने जिले में किसानों से ऑनलाइन बातचीत की। खास बात यह रही कि इस बातचीत में किसी भी किसान को नहीं बुलाया गया। सूबे की और जिले की कार्यकारिणी के मेंबर व ओहदेदार पहुंचे। किसानों से बातचीत से पहले मीडिया को बुलाकर इस बिल की खासियत बताई गई। मीडिया से बातचीत में दैनिक भास्कर ने केंद्रीय मंत्री से पूछा कि किसान संवाद में आपने एक भी किसान को बुलाने की जहमत क्यों नहीं उठाई तो मंत्री ने कहा कि कोरोना के चलते वह सीधे पब्लिक मीटिंग नहीं कर रहे हैं। जिससे यह आरोप न लगें कि भाजपा नेताओं ने कोरोना फैला दिया। इस पर दैनिक भास्कर ने पूछा कि अगर भाजपा को कोरोना फैलने की इतना ही चिंता है तो पहले पंजाब में ट्रैक्टर रैली में हजारों लोगों की भीड़ और बिहार चुनाव में इतनी बड़ी रैलियां क्यों की जा रही है? इस पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह वादा करते हैं कि वह खुद जल्द पटियाला आकर गलतफहमी को दूर करेंगे। दिल्ली से महामंत्री तरुण चुघ, प्रवक्ता संबित पात्रा व आरपी सिंह साथ रहे।

ट्रैक्टर जलाने वाले किसान के भेष में राजनैतिक लोग थे: मंत्री

डॉ. बालियान ने कहा कि किसान कभी भी ट्रैक्टर नहीं जला सकते और जिन्होंने ट्रैक्टर जलाया था वह किसान नहीं थे बल्कि किसान में भेष में राजनैतिक लोग थे। यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष रवनीत सिंह बिट्टू ने पहले यह बयान दिया कि जो हमले हुए वह उन्होंने कराये और कल उन्होंने फिर से से एक बयान दिया कि अभी और भाजपा वालों को भुगतान करना पड़ेगा। मैं पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से पूछना चाहता हूं कि क्या वह उनके इस बयान से सहमत हैं? कहीं उन्हीं के समर्थन से यह सब तो नहीं हो रहा है।

सवालों पर क्या बोले केंद्रीय मंत्री डाॅ. बालियान

सवाल- किसान केंद्र से बात करने दिल्ली गए, वहां कोई मंत्री बात करने क्यों नहीं पहुंचा?
मंत्री- केंद्र बात करने को तैयार हैं, मैं आपके माध्यम से किसानों को निमंत्रण देता हूं। आप आएं मैं खुद कृषि मंत्री से बात करवाउंगा।
सवाल- मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह इन बिल के विरोध में विधानसभा के स्पेशल सेशन बुलाने जा रहे हैं, आप इसे कैसे देखते हैं?
मंत्री- कैप्टन अमरिंदर लोगों को गुमराह कर रहे हैं, वो केंद्र के कानून को ऐसे कैसे मानने से इंकार कर सकते हैं? यह गलत है।
सवाल- पंजाब सरकार केंद्र के कानून के खिलाफ प्रस्ताव पास करती है तो विरोध कैसे करेंगे?
मंत्री- एक बार पंजाब सरकार को करने दीजिए, हम नियम कानून के मुताबिक एक्शन लेंगे।
सवाल- किसानों को लगता है कि एमएसपी खत्म हो जाएगी तो केंद्र एमएसपी गारंटी कानून क्यों नहीं बनाती जिससे किसानों का कानून पर भरोसा बन सके?
मंत्री- असल में कुछ लोग किसानों को भड़का रहे हैं। आप बताएं क्या आज पंजाब में धान की खरीददारी एमएसपी पर नहीं हो रही? अगर एमएसपी पर रोक लगानी होती तो 1 हजार सेंटर मोदी सरकार द्वारा क्यों बनाये जाते? एपीएमसी का प्राविधान मंडी से संबंधित है, फसल से नहीं।

‘वन नेशन वन मार्केट’ मोदी का सपना, पूरा करेंगे
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ‘वन नेशन वन मार्केट’ प्रधानमन्त्री मोदी का सपना है जिसे हर हाल में पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शायद आप सब भूल चुके हैं कि कितना विरोध हुआ था कि जब शुरू में किसानों के खाते में पैसा आये थे। कांट्रैक्ट फार्मिंग की शुरुआत पंजाब में ही हुई थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपनी दिनचर्या को संतुलित तथा व्यवस्थित बनाकर रखें, जिससे अधिकतर काम समय पर पूरे होते जाएंगे। विद्यार्थियों तथा युवाओं को इंटरव्यू व करियर संबंधी परीक्षा में सफलता की पूरी संभावना है। इसलिए...

और पढ़ें