• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Patiala
  • Controlled With 73 Thousand Intoxicating Bullets, UP Number Was Kept On The Car, Punjab's Number, On Remand For 5 Days

पैसा कमाने के चक्कर में दो दोस्त तस्कर बने:73 हजार नशीली गोलियों सहित काबू, यूपी नंबर कार पर लगा रखा था पंजाब का नंबर, 5 दिन के रिमांड पर

पटियाला/समाना10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आराेपी इससे पहले भी 3 से 4 बार नशीली गोलियां लाकर सप्लाई कर चुके हैं

सिटी विंग पुलिस ने दो नशा तस्कर दोस्तों को 73 हजार नशीली गोलियां व तस्करी में इस्तेमाल की जाने वाली स्कोडा कार सहित गिरफ्तार किया। पुलिस ने आरोपियों को अदालत में पेश कर 5 दिन का रिमांड हासिल किया है।

अभी तक की पुलिस जांच के मुताबिक आरोपी गुरबाज उर्फ गगन और पाल सिंह निवासी राजला रोड समाना दोनों एक ही गांव के रहने वाले हैं और दोस्त हैं। जबकि गगन जमीदार है और उसका दोस्त पाल सिंह जो कि कंडक्टर का काम करता था। दोनों जल्द पैसा कमाने के लालच में नशा तस्करी का काम शुरू किया। आराेपी इससे पहलें भी 3 से 4 बार नशीली गोलियां लाकर सप्लाई कर चुके हैं। इधर, थाना सदर की एसआई गुरप्रीत काैर ने बलबेड़ा के पास नाकेबंदी की हुई थी। जिसे देख आराेपी इनोवा गाड़ी छाेड़कर फरार हाे गया।

तलाशी के दाैरान 1224 बाेतल शराब बरामद हुई। पुलिस ने आराेपी सुखविंदर सिंह निवासी जगराओं लुधियाना के खिलाफ केस दर्ज किया। गुरबाज सिंह उर्फ गगन (30) और दाेस्त पाल सिंह (26) जो 12वीं पास है। पाल सिंह शादीशुदा है।

कार का बोनट खोलकर खड़ा था युवक, पुलिस को देख भागने लगा, मौके पर किया काबू

सिटी विंग के थानेदार सुरजीत सिंह जो गांव फतेहगढ़ छन्ना के पास जा रहे थे। जहां एक कार साइड में खड़ी थी। कार में एक व्यक्ति अंदर बैठा था और दूसरा कार का बोनट खोलकर खड़ा था। पुलिस को देखकर भागने लगे तो शक होने पर उन्हें काबू किया गया। इस दौरान कार से दो नंबर प्लेट बरामद हुई। कार का असली नंबर यूपी नंबर था। इसके अलावा आरोपियों से 73 हजार नशीली गोलियां बरामद की गई।

महीने में दर्ज किए 13 मामले, 3 किए ट्रेस

बता दें कि सिटी विंग इंचार्ज राहुल कौशल ने 3 सितंबर को बताैर सिटी विंग इंचार्ज पदभार संभाला था। इसके बाद 1 महीने में पुलिस ने इंचार्ज की अगुवाई में नशा तस्करी सहित, नकली करंसी, अवैध शराब के 13 मामले दर्ज किए।

खबरें और भी हैं...