पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जेल से फरार बंदियों के मामले में पूछताछ:डीआईजी जेल की जांच जारी, ड्यूटी पर तैनात कर्मियाें पर हाे सकती कार्रवाई

पटियाला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

केंद्रीय जेल में बंद दो कैदी और एक हवालाती प्रशासन को चकमा देते हुए सेंधमारी कर करीब 8 दिन पहले जेल से फरार हो गए थे। इस केस में डीआईजी जेल की पड़ताल जारी है। जानकारी के मुताबिक ड्यूटी पर तैनात पुलिस मुलाजिमों की कमियां सामने अाई हैं, जिसे लेकर उन पर कार्रवाई हाे सकती है। 1 या 2 दिन में फैसला आ सकता है।

जेल सुपरिटेंडेंट शिवराज सिंह नंदगढ़ ने बताया कि फरार बंदियों की पकड़ के लिए टीमें पड़ताल कर रही हैं। अभी तक की पड़ताल के मुताबिक आरोपी रात करीब 11 बजे सेंधमारी कर बैरक से बाहर निकलते हुए सीसीटीवी में नजर आए। उसके बाद वह कहीं भी किसी भी कैमरे में नजर नहीं आए। देर रात ड्यूटी पर तैनात पुलिस मुलाजिमों को आरोपियों के बैरक से लापता होने की जानकारी मिली थी। उन्होंने किसी को जानकारी नहीं दी थी जिस कारण उनके खिलाफ कार्रवाई हाे सकती है। बताया कि जेल की दीवार पार करने में आरोपियों को 1 घंटे से ज्यादा का समय लगा होगा। अगर ड्यूटी मुलाजिम समय रहते उनके लापता होने की जानकारी दे देते ताे अाराेपी पकड़ में आए होते।

जेल सुपरिंटेंडेंट ने बताया कि जेल की चारदीवारी पर करंट की तार बिछाने का कार्य कुछ समय से किया जा रहा है जो जारी है। जेल सुपरिंटेंडेंट ने बताया कि जिस दिन इस घटना को आरोपियों ने अंजाम दिया उस दिन बैरक के सेल नंबर 9 में यही तीन आरोपी थे। उनके साथ और कोई भी व्यक्ति नहीं था। नहीं तो साजिश का पता चल सकता था।

खबरें और भी हैं...