मेडिकल स्टूडेंट्स को लग सकता है झटका / वित्त विभाग की मेडिकल कॉलेजों में 5% फीस बढ़ाने की सिफारिश, कैबिनेट लेगी अंतिम फैसला

Finance department recommends 5% increase in medical colleges, cabinet will take final decision
X
Finance department recommends 5% increase in medical colleges, cabinet will take final decision

  • बीडीएस/एमडी/एमएस/बीएएमएस की फीसाें में भी बढ़ाेतरी का विचार
  • सालाना 80 के बजाय अब 84 हजार रुपए फीस देनी पड़ेगी

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

पटियाला. वित्त विभाग ने सूबे के सरकारी मेडिकल कॉलेजों में 5% फीस बढ़ाने की सिफारिश की है। अगर 5% फीस बढ़ती है तो सरकारी मेडिकल कॉलेज पटियाला और गुरु नानक देव मेडिकल काॅलेज अमृतसर में एमबीबीएस में प्रवेश लेने वालों को सालाना 80 के बजाय अब 84 हजार रुपए फीस देनी पड़ेगी। इसमें ट्यूशन व हॉस्टल फीस शामिल है।

एनआरआई कोटे से सीट लेने वालों को 1 लाख 20 डालर देने हाेंगे। बीडीएस, एमडी, एमएस और बीएएमएस की फीसाें को बढ़ाने पर भी विचार किया जा रहा है। नए आदेशाें के तहत अब राजिंदरा अस्पताल, मेडिकल काॅलेज, डेंटल काॅलेज, अायुर्वेदिक काॅलेज व टीबी अस्पताल यूजर चार्जेस का खुद इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। मेडिकल शिक्षा व रिसर्च पंजाब के डायरेक्टर डाॅ. अवनीश कुमार ने बताया कि 5% फीस बढ़ाने का फैसला कैबिनेट द्वारा पास करने के बाद ही लागू होगा।

पीयू चंडीगढ़ में 5 से 7.5% तक फीस बढ़ाने की तैयारी

पंजाब यूनिवर्सिटी के विभिन्न विभागों में फीस 5 से 7.5% तक बढ़ाई जा सकती है। ये प्रस्ताव 30 मई को होने वाली सिंडीकेट की मीटिंग में आने वाला है। कमेटी ने सभी फाइनेंस कोर्सेज में 5%  और अन्य कोर्सेज में 7.5% फीसदी तक बढ़ोतरी के प्रस्ताव पर चर्चा की गई थी। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना