पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Patiala
  • From Now On, 80 Percent Marriage Palace And Hall Book, 4 In November And 5 Muhurta In December, If The Corona Guideline Is Issued Then The Palace Operator Will Refund The Amount

शादियों के मुहूर्त सीमित:अभी से 80 प्रतिशत मैरिज पैलेस और हाल बुक,नवंबर में 4 और दिसंबर में 5 मुहूर्त, अगर कोरोना गाइडलाइन जारी होती है तो पैलेस संचालक करेंगे राशि रिफंड

पटियाला5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में नवंबर-दिसंबर में हाेने वाली शादियों के लिए अभी से 80 फीसदी मैरिज हॉल और पैलेस फुल हो गए हैं। यही नहीं, शादी का रिसेप्शन भी कोरोना से पहले की स्थिति में करीब 25 प्रतिशत तक महंगा हो गया है। इसकी मुख्य वजह रसोई गैस और अन्य खाने की चीजों के रेट में हुआ इजाफा है। ज्यादातर पैलेस की शर्त भी यह है कि बुकिंग के दौरान तय राशि वापस नहीं होगी।

कोरोना काल में बहुत सी शादियां नहीं हो सकी थीं। अब मुहूर्त भी सीमित हैं। एक ही दिन में कई शादियां होने की वजह से लोगों को बुकिंग में भी दिक्कत आ रही है। मैरिज हॉल की बुकिंग न होने की वजह से अब कई लोगों को परेशान होना पड़ रहा है। जिले में करीब 110 मैरिज पैलेस व 10 बैंकुट हाल हैं।

एडवांस बुकिंग एक लाख के आसपास, राशि नाॅन-रिफंडेबल

प्रमुख मैरिज पैलेस में एडवांस बुकिंग अमाउंट एक लाख कर दी गई है। कुछ जगह किराया, कैटरिंग व रुकने की व्यवस्था पर होने वाले कुल खर्च का 30 प्रतिशत एडवांस लिया जा रहा है। यह राशि नाॅन रिफंडेबल है। मैरिज पैलेस संचालकों के मुताबिक उन्हें भी पैलेस की मेंटेनेंस, कर्मचारियों के वेतन पर खर्च करना पड़ता है या अगर काेराेना संक्रमण बढ़ जाने या तीसरी लहर आने पर सरकार की ओर से काेराेना गाइडलाइन के तहत काेई आदेश जारी किए जाते है तो इन हालातों में पैलेस संचालक एडवांस राशि रिफंड करेंगे।

बुकिंग वाले ज्यादा आ रहे हैं
पटियाला मैरिज पैलेस एंड बैंकुट एसो. के प्रेसिडेंट मनविंदर गाेल्डी ने बताया कि मुहूर्त सीमित संख्या में हैं। लोग एक ही जगह सब सुविधाएं चाहते हैं। इस वजह से बुकिंग पहले से करवा रहे हैं।

300 से ज्यादा मेहमान नहीं बुला सकते
जिला प्रशासन ने वर्तमान में शादी में लोगों की संख्या 300 निर्धारित है। एक समय में इससे ज्यादा लोग नहीं होना चाहिए। फिलहाल इसमें कोई बदलाव नहीं किया जा रहा।

खबरें और भी हैं...