पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना से जंग:डीसी से मिले व्यापारी, कहा- लॉकडाउन लगाएं

पटियाला10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में हालात हो रहे बेकाबू, महज 4 दिन में आए 212 पॉजिटिव केस, संक्रमितों की संख्या 713
  • व्यापारी लोगाें की जान बचाने को आगे आए, इधर कंटेनमेंट जोन में भीड़ जुटने से खतरा बढ़ा

जिले में हालात बेकाबू हो रहे हैं। महज 4 दिन में 212 पॉजिटिव केस आ चुके हैं। इसके साथ ही कोरोना मरीजों की संख्या 713 पहुंच गई। कोरोना से बचाव के लिए शहर के व्यापारियाें ने अपनी ओर से पहल की। सभी प्रमुख व्यापारी मंगलवार को पटियाला व्यापार मंडल के बैनर तले डीसी कुमार अमित को मिले।

व्यापारियों ने डीसी से कहा कि 3 महीने पहले जब सरकार ने लॉकडाउन लगाया था तो व्यापारियों ने जिला प्रशासन से दुकानें खुलवाने को लेकर मीटिंग की थी। अब शहर के हालात बेकाबू होने के बाद व्यापारी चाहते हैं कि प्रशासन दोबारा से शहर में लॉकडाउन करें ताकि हालातों को बेकाबू होने से बचाया जा सके।

पटियाला व्यापार मंडल के प्रधान राकेश गुप्ता ने कहा कि जिस संख्या से पटियाला में कोरोना महामारी फैल रही है उन हालातों में अब अगर तुरंत लॉकडाउन ना किया गया तो हालात इतने बेकाबू हो जाएंगे कि सरकार के लिए संभालना मुश्किल हो जाएगा। उन्होंने डीसी कुमार अमित को कुछ सुझाव देते हुए लॉकडाउन लागू करने की अपील की है।  

नंदलाल गुलाबा, भगवानदास चावला, राकेश अग्रवाल, सनी गुराबा, राजन सिंगला, वरुण गोयल, केवल कृष्ण, सुखपाल धीमान, कुलजीत साहनी, अशोक कुमार, नरेश सिंगला, नरेंद्र गोयल, सुखमजीत आहूजा, संजीव जैन, देव प्रकाश, हिमांशु वर्मा और अमनदीप सिंह मौजूद रहे।

व्यापारी लोगाें की जान बचाने को आगे आए

व्यापारी वर्ग चाहता है कि जिला प्रशासन एकदम से लॉकडाउन न करे, बल्कि व्यापारियों को कुछ समय की मोहलत देने के बाद ही लॉकडाउन की घोषणा की जाए। इसके पीछे कारण है कि हलवाई, डेयरी समेत एेसे कई व्यापारी हैं जिनका सामान खराब होने का खतरा है, अगर उन्हें कुछ समय की मोहलत दी जाएगी तो वो अपना सामान संभाल सकते हैं।

इसके अलावा लॉकडाउन बहुत ज्यादा लंबा नहीं होना चाहिए। अगर प्रशासन थोड़े दिनों के लिए लॉकडाउन करता है तो इसमें व्यापारियों को कोई दिक्कत नहीं है।

अगर लॉकडाउन लंबा जाता है तो प्रशासन को थोड़े दिनों के बाद व्यापारियों को कुछ राहत देनी होगी। राकेश गुप्ता ने कहा कि व्यापारी हर तरह से प्रशासन और सरकार को मदद देने को तैयार हैं।

कंटेनमेंट जोन में भीड़ जुटने से खतरा बढ़ा

इधर कंटेनमेंट जोन घोषित होने पर मंगलवार शाम टोबा बाबा ध्याना और छोटी सब्जी मंडी के सामने विरोध किया। लोगों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

कहा कि इन कॉलोनियों को कंटेनमेंट जोन घोषित करने के बाद उन्हें रोजगार से निकाला जा रहा है वह जिन दुकानों और फैक्ट्रियों में काम करते हैं वहां उन्हें यह कहकर काम पर ना आने के लिए कह दिया गया है कि वह कंटेनमेंट जोन से आते हैं।

वहीं महिलाओं ने नारेबाजी की। इतने दिनों तक घरों में कैद करने के आदेश तो सरकार ने सुना दिए। इन घरों में खाना कैसे तैयार होगा । हालात बिगड़ते देख थाना कोतवाली पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाया। कई घंटों की जद्दोजहद के बाद पब्लिक धरना स्थल से हटी। प्रशासन ने भरोसा दिलाया है कि समस्या का उचित समाधान निकालेंगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आप अपने प्रयासों में कुछ परिवर्तन लाएंगे और इसमें आपको कामयाबी भी मिलेगी। कुछ समय घर में बागवानी करने तथा बच्चों के साथ व्यतीत करने से मानसिक सुकून मिलेगा...

    और पढ़ें