स्वच्छ सर्वेक्षण 2022:सर्वेक्षण में छोटे शहरों और कस्बों को करेंगे शामिल, जिला स्तरीय रैंकिंग होगी

पटियाला4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सीनियर सिटीजन और यूथ की बात को दी जाएगी प्राथमिकता

स्वच्छता अभियान की रफ्तार बनाए रखने के लिए वार्षिक स्वच्छता सर्वेक्षण -2022 शुरू हो गया। इस बार स्वच्छता कर्मचारियों के कल्याण पर जोर दिया जाएगा। ‘पीपुल फर्स्ट’ के दर्शन के साथ तैयार किए गए सर्वे में सीनियर सिटीजन और यूथ की बात को भी प्राथमिकता दी जाएगी और शहरी स्वच्छता को बनाए रखने की दिशा में उनकी भागीदारी को मजबूत बनाया जाएगा। इसके अलावा पहली बार जिला स्तरीय रैंकिंग की जाएगी। सर्वेक्षण में छोटे शहरों और कस्बों को भी शामिल किया गया है।

महामारी की अचानक शुरुआत से सार्वजनिक स्वास्थ्य, स्वच्छता और कचरा प्रबंधन के क्षेत्र में अप्रत्याशित चुनौतियां सामने आई थीं। हालांकि, इस दौरान जनता काे सुरक्षित रखने के लिए सफाई कर्मचारियों ने जो कर्तव्य की भावना प्रदर्शित की, वह सबसे अलग थी। सफाई कर्मचारियों की मूक सेना द्वारा राष्ट्र के प्रति किए गए योगदान को पहचान और सम्मान देने के क्रम में, सरकार ने उनके ओवरऑल कल्याण पर ध्यान केंद्रित करने का संकल्प लिया है। सर्वे में वैज्ञानिक संकेतकों को शामिल किया गया है, जो स्वच्छता के सफर में इन अग्रणी सैनिकों के लिए काम की स्थितियों और आजीविका के अवसरों में सुधार के लिए शहरों को प्रेरित करते हैं।

खबरें और भी हैं...