पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आज से अनलाॅक-2 :अनलॉक-1 में कुछ ऐसे रहे नतीजे; 7 की मौत 204 केस, आगे ऐसा न हो इसलिए नियम मानें

पटियाला15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • हम सुरक्षित रहें , यह खुद को तय करना है
  • सेहत विभाग के अधिकारी भी जता चुके हैं खतरे की आशंका
Advertisement
Advertisement

आज से अनलॉक-2 शुरू हो चुका है। हम कैसे सुरक्षित रहें, यह खुद को ही तय करना होगा। अब लापरवाही की तो कोरोना बेकाबू हो सकता है, क्योंकि अनलॉक-1 की लापरवाही से महज 30 दिन में 207 केस आ चुके हैं और 7 की मौत भी हो चुकी है।

आने वाले दिन खतरनाक होंगे, इसकी आशंका सेहत विभाग के अधिकारी भी जता चुके हैं। कर्फ्यू और लॉकडॉउन के दाैरान (22 मार्च से 31 मई तक) केवल 122 केस थे और 2 की मौत हुई थी।

जून में अनलाॅक-1 शुरू हाेत ही स्थिति बिगड़नी शुरू हाे गई। महीने के आखिरी 10 दिनों में 127 केस आए अाैर 5 ने दम तोड़ा। समाना (बड़ैचा बस्ती और डाेगर बाजार) और पटियाला (धीरू की माजरी और सिद्धू काॅलाेनी) में मिनी कंटेनमेंट जोन बने।

इस दौरान खास बात यह रही कि जिले के सभी ब्लॉक में कोरोना के मरीज पहुंचे और 40 से ज्यादा नए इलाके प्रभावित हुए। नर्साें से लेकर गर्भवती चपेट में आईं। जिले में 13 गर्भवती काेराेना पाॅजिटिव आ चुकी हैं।

सेहत विभाग के अधिकारी भी जता चुके हैं खतरे की आशंका

सेहत विभाग ने बीते दिनों अधिकारियों को एक रिपोर्ट भेजी है जिसमें आशंका जताई गई है कि आने वाले 10 दिनों में कोरोना पीड़ितों की संख्या में तेजी से इजाफा हो सकता है। चर्चा है कि यह रिपोर्ट उस समय तैयार की गई थी, जब सरकार ने सभी जिले के सिविल सर्जन और सेहत महकमे के जुड़े लोगों से काेविड मरीजाें और तैयारियाें की जानकारी मांगी थी।

हालांकि इस रिपोर्ट के बारे में कोई भी अधिकारी कुछ भी कहने को तैयार नहीं है। लेकिन सूत्र बताते हैं सरकार ने सारी जानकारी इसलिए जुटाई है, अगर भविष्य में मरीजों की संख्या बढ़े ताे उस हिसाब से तैयारी की जा सके।

रिपोर्ट में यह आशंका जताई गई है कि कोविड-19 के मरीजों की संख्या इतनी ज्यादा हो सकती है की बेड भी कम पड़ सकते हैं। ऐसी स्थिति में होम आइसोलेशन और कोविड केयर सेंटर में सुविधाओं का इजाफा किया जा सके।

आज 673 की रिपाेर्ट आएगी

डाॅ. मल्होत्रा ने बताया कि आज जिले में अलग-अलग स्थानाें से सेहत विभाग की टीमाें ने कुल 598 सैंपल लिए गए हैं। जिले में अब तक 22333 सैंपल लिए जा चुके हैं। 329 कोविड पाॅजिटिव, 21290 निगेटिव और 673 की रिपोर्ट आनी बाकी है।

पाॅजिटिव मामलों में से 9 की मौत हो चुकी है। 157 केस ठीक हो चुके हैं। एक्टिव मामले 163 हैं। अभी जिले में 600 बेड की सुविधा है और मेरीटोरियस स्कूल में कोविड-19 सेंटर चल रहा है। मरीजों के लक्षणों के आधार पर उनको होम आइसोलेशन की भी सुविधा देकर घर में रखा जा रहा है

अनलॉक-1 की बड़ी बातें

नर्सों की चेन बनीं और राजिंदरा अस्पताल की इमरजेंसी का पूरा स्टाफ संक्रमित हो गया था।

जून के आखिरी 10 दिन में 127 केस आए जबकि कर्फ्यू और लॉकडाउन के दौरान 122 केस आए थे।

बफर जोन घोषित होने के बाद भी राजपुरा में इस समय केवल दो ही एक्टिव केस बचे हैं।

जिले में सबसे ज्यादा मौत पटियाला ब्लॉक (4) में हुई। यहां कुल पॉजिटिव मरीज 87 रहे।

एनआरआई, बाहर से लौटे 83 यात्री संक्रमित निकले। इनमें 61 ठीक भी हो चुके हैं।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज का दिन पारिवारिक और आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदायी है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति का अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ निश्चय से पूरा करने की क्षमत...

और पढ़ें

Advertisement